वैशाली राजपुरोहित के कारखाने में दूषित मिठाई!

 

 

संयुक्त दल ने की छापामार कार्यवाही

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। राज्य शासन के निर्देश पर जिले में भी खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता को लेकर छापामार कार्यवाही जारी है। बुधवार को भी जिला प्रशासन के द्वारा बनाये गये संयुक्त दल के द्वारा छापामार कार्यवाही की गयी, जिसमें वैशाली राजपुरोहित मिष्ठान भण्डार के कारखाने में मिली दूषित मिठाई को नष्ट करवाया गया।

जिला कलेक्टर प्रवीण सिंह के निर्देशन में जिले में खाद्य पदार्थाे के मानक गुणवत्ता को लेकर खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग, राजस्व विभाग एवं स्थायी निकाय के संयुक्त दल द्वारा बुधवार 31 जुलाई को रजवाड़ा होटल, वैशाली राज पुरोहित मिष्ठान, अभिनंदन होटल, नटराज मिष्ठान, वृन्दावन रेस्टॉरेंट एवं नेमा मिष्ठान के प्रतिष्ठानों एवं कारखानों का औचक निरीक्षण कर खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता एवं साफ सफाई आदि की जाँच की गयी।

जाँच दल के अधिकारियों ने बताया कि इसमें रजवाड़ा होटल में किये गये खाद्य व राजस्व दल के निरीक्षण में होटल के किचन एवं स्टोर में गंदगी पायी गयी। इस संबंध में होटल प्रबंधन को खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम 2006 की धारा 32 की तहत कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। इसके साथ ही उपयोग किये जा रहे पनीर एवं दही के सैम्पल को जाँच हेतु प्रयोगशाला भेजा गया है।

इसी तरह वैशाली राज पुरोहित प्रतिष्ठान के कारखाने के निरीक्षण में दल द्वारा मौके में प्राप्त लगभग पाँच किलो दूषित मिठाई को नष्ट करवाया गया। वृन्दावन रेस्टॉरेंट के निरीक्षण में 10 एक्सपायरी डेट के मसला पैकेट पाये गये, जिसे नष्ट करवा दिया गया।

अभिनंदन होटल, नटराज मिष्ठान एवं नेमा मिष्ठान के कारखाने मे मिठाई एवं अन्य खाद्य सामग्री बनाने में साफ सफाई नहीं पायी गयी। सभी प्रतिष्ठानों के प्रबंधकों को खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम 2006 की धारा 32 की तहत कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। सभी प्रतिष्ठानों को मानक अनुसार खाद्य पदार्थ बनाने तथा कार्यरत सभी कर्मचारियों द्वारा एप्रोन क्लॉथ एवं केप उपयोग करने के निर्देश दिये गये हैं।