सन फ्लॉवर स्कूल पर लग रहे प्रश्न चिन्ह!

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। शिक्षा विभाग के नवीन सत्र के प्रारंभ होने के साथ ही पहले की भांति इस साल भी ऐसा लग रहा है कि शिक्षा विभाग, माफियाओं के चंगुल से नहीं निकल पाया है।

हालांकि जिला कलेक्टर द्वारा बार – बार कहा जाता रहा है कि शिक्षा के क्षेत्र में व्याप्त अनियमित्ताओं को दूर करने के लिये कठोर कदम उठाये जा रहे है बावजूद इसके जिला शिक्षा अधिकारी की ढुलमुल नीतियों के चलते जिला कलेक्टर के नवीन प्रयोग नाकाम ही नज़र आ रहे हैं।

नवीन शिक्षा सत्र के आरंभ होते ही मान्यता दिलाने के नाम पर बड़ी दलाली और धंधेबाजी दिखायी दे रही है जिसका फायदा उठा रहे है कुकुरमुत्ते की तरह ऊग आये निजि शिक्षण संस्थान। ऐसा ही एक नज़ारा पेश कर रहा है कटंगी रोड पर जनता नगर स्थित प्राईवेट रूप से संचालित सन फ्लॉवर स्कूल जहाँ के निराश पालकों ने बताया कि जब वे अपने बच्चों के अध्ययन से संतुष्ट न हो उन्हें अन्य शालाओं में ले जाने बाध्य हो रहे हैं तो ऐसे में इस निजि शिक्षण संस्थान सन फ्लॉवर के संचालकों के द्वारा उक्त बच्चों और उनके पालकों को उनका स्थानांतरण सर्टिफिकेट टी.सी. देने से इन्कार करते हुए आनाकानी की जाती है।

वैसे देखा जाये तो इस प्रकार के निजि शिक्षण संस्थानों को अनुमति प्रदान करते वक्त आवश्यक शर्ताें के रूप में एक लंबी फेहरिस्त दी जाती है जिसमें शिक्षण संस्थानों की मूलभूत संरचनाओं जैसे शौचालय, खेल का मैदान और अन्य सुविधाओं का होना आवश्यक है परंतु इन संस्थाओं और खासकर इस सन फ्लॉवर नामक संस्था के पास यह भी कुछ उपलब्ध नहीं है। इसके बाद भी यह संस्था पिछले अनेक वर्षाें से बदस्तूर संचालित है। इस ओर भी शिक्षा विभाग का ध्यान नहीं दिया आश्चर्य जनक माना जा रहा है।