सड़कों के धुर्रे उड़ा रहे भारी वाहन

 

 

पॉवर प्लांट आने वाले वाहन निकाल रहे सड़कों का कचूमर

(ब्यूरो कार्यालय)

घंसौर (साई)। देश के मशहूद उद्योगपति गौतम थापर के स्वामित्व वाले अवंथा समूह के सहयोगी प्रतिष्ठान मेसर्स झाबुआ पॉवर लिमिटेड के द्वारा घंसौर में निर्माणाधीन कोल आधारित पॉवर प्लांट में सामग्री लाने और ले जाने वाले भारी वाहनों ने सड़कों के धुर्रे उड़ाकर रख दिये हैं।

ज्ञातव्य है कि पूर्व जिलाधिकारी भरत यादव के द्वारा झाबुआ पॉवर लिमिटेड के प्रबंधन को घंसौर क्षेत्र के उन मार्गों के निर्माण के लिये पाबंद किया गया था, जिनसे होकर संयंत्र में भारी मशीनों के वाहन आते जाते थे। इसके बाद भी संयंत्र प्रबंधन के द्वारा जिला प्रशासन के निर्देशों को नज़र अंदाज किया जाता रहा है।

झाबुआ पॉवर लिमिटेड के उच्च पदस्थ सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि संयंत्र में बिजली उत्पादन का काम आरंभ हो गया है। यहाँ कोयले से निकलने वाली राख को ले जाने के लिये आने वाले भारी वाहनों के द्वारा सड़कों का कचूमर निकालकर रख दिया गया है।

सूत्रों का कहना है कि संयंत्र प्रबंधन के द्वारा क्षेत्र की जनता के साथ जो वायदे किये गये थे, उन पर अमल नहीं किया जा रहा है। क्षेत्र में सड़क निर्माण की औपचारिकता निभाते हुए कुछ ही स्थानों पर घटिया गुणवत्ता वाली सड़कों का निर्माण करवाया गया है। इसके कारण ये सड़कें एक बार फिर खस्ताहाल होती जा रही हैं।

सूत्रों का कहना है कि लखनादौन से घंसौर होकर मण्डला जाने वाला मार्ग बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुका है। इस सड़क पर बड़े – बड़े गड्ढे हो चुके हैं जो दुर्घटनाओं को न्यौता देते दिख रहे हैं।