प्रदेश की सर्वश्रेष्ठ हवाई पट्टी है सिवनी में

विमानन विभाग मानता है इसे हर पैमाने पर सटीक

(लिमटी खरे)

सिवनी (साई)। गोपालगंज और कुरई के बीच सुकतरा ग्राम के पास अवस्थित सिवनी जिले की हवाई पट्टी को मध्य प्रदेश शासन के विमानन विभाग के द्वारा सर्वश्रेष्ठ और आदर्श हवाई पट्टी की संज्ञा दी जा रही है। यह हवाई पट्टी विमानों के हिसाब से हर दृष्टिकोण से अन्य हवाई पट्टियों से बेहतर है।

मध्य प्रदेश शासन के विमानन विभाग के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि सिवनी की हवाई पट्टी पर विमान उतारने और टेक ऑफ के बाद राज्य सरकार के अनुभवी पायलट्स के द्वारा दी गयी राय के अनुसार इस हवाई पट्टी के हिसाब से ही प्रदेश की अन्य हवाई पट्टियों को विकसित किया जाना चाहिये।

सूत्रों ने आगे बताया कि राज्य सरकार के पायलट्स ने विमानन विभाग को बताया कि यह हवाई पट्टी लगभग छः हजार फीट लंबी और सौ फीट चौड़ी है। इस हवाई पट्टी में बोईंग विमान भी आसानी से उतारे जा सकते हैं। सूत्रों के अनुसार विमानन विभाग को इस हवाई पट्टी के आदर्श होने के संबंध में कुछ तथ्य भी दिये गये हैं।

सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को आगे बताया कि इस हवाई पट्टी में रनवे के दायीं और बायीं ओर पर्याप्त खाली जगह है। इसके साथ ही साथ रनवे के पास किसी तरह का अवरोध भी नहीं है। यह हवाई पट्टी मुख्य मार्ग से (नेशनल हाईवे) से ज्यादा दूर नहीं है।

सूत्रों की मानें तो इस हवाई पट्टी से जिला मुख्यालय और ब्रितानी घुमंतू पत्रकार रूडयार्ड किपलिंग की द जंगल बुक के हीरो भेड़िया बालक मोगली की कथित कर्मभूमि पेंच पहुँचना बहुत ही आसान है। इसके अलावा हवाई जहाज जैसे ही एयर बॉर्न (हवा में आता है) होता है वैसे ही महज दो हजार फीट ऊपर जाने पर विमान का संपर्क एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) नागपुर से हो जाता है।

सूत्रों ने बताया कि इस हवाई पट्टी को राज्य सरकार ने 15 साल के लिये मेस्को एयरो स्पेस कंपनी को दे दिया है। यह कंपनी पूरे विश्व से खराब विमानों के कबाड़ को यहाँ लेकर आयेगी और उसके बाद यहाँ रीसाईक्लिंग प्रक्रिया अपनायी जाकर विमानों के अच्छे पुर्जे निकालकर उनका उपयोग किया जायेगा।

सिवनी की हवाई पट्टी को आदर्श हवाई पट्टी की श्रेणी में रखा जा सकता है. इस हवाई पट्टी में पर्याप्त विजिबिलटी मिलती है और जल्द ही एटीसी से संपर्क भी हो जाता है.

कैप्टिन अनंत सेठी,

संचालक, विमानन.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *