दिलीप बिल्डकॉन पर कसा प्रशासन ने शिकंजा

 

 

ठेकेदार पर होगा मामला दर्ज, जारी होगा पब्लिक न्यूसेंस का नोटिस

(जाहिद शेख)

कुरई (साई)। मोहगांव से खवासा के बीच निर्माणाधीन मार्ग में बार बार जाम लगने की शिकायतों के बाद जिला प्रशासन हरकत में आया है। जिला प्रशासन के द्वारा बार बार जाम लगने के बाद पूरे मार्ग का निरीक्षण करने के बाद कुरई थाने में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ बैठक में कठोर कार्यवाही के संकेत दिए हैं।

कुरई थाने के उच्च पदस्थ सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि पिछले दिनों बार बार मोहगांव से खवासा के बीच जाम लगने के बाद जिलाधिकारी प्रवीण सिंह और जिला पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक के तेवर काफी तल्ख नजर आ रहे थे। दोनों ही अधिकारी मंगलवार को कुरई क्षेत्र के भ्रमण पर थे।

सूत्रों ने बताया कि जिलाधिकारी एवं जिला पुलिस अधीक्षक के द्वारा सबसे पहले पूरे मार्ग को बारीकी से देखा गया। इसके बाद उन्होंने उन स्थलों को चिन्हित किया जहां जाम लग रहा है अथवा लग सकता है। इस दौरान एनएचएआई के अधिकारी एवं सड़क का निर्माण करा रही दिलीप बिल्डकॉन कंपनी के कर्मचारी भी उनके साथ थे।

सूत्रों ने बताया कि इसके उपरांत कुरई थाने में ठेकेदार और एनएचएआई के अधिकारियों के साथ जिलाधिकारी प्रवीण सिंह और जिला पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने बैठक की। इस दौरान उन्होंने जाम के लिए चिन्हित किए गए स्थानों की तत्काल मरम्मत कराए जाने के निर्देश ठेकेदार और एनएचएआई के अधिकारियों को दिए।

सूत्रों ने बताया कि इस दौरान जिलाधिकारी प्रवीण सिंह ने कुरई के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को यह निर्देश भी दिए कि निर्माणकर्ता फर्म दिलीप बिल्डकॉन के खिलाफ सीआरपीसी की धारा 133 के तहत पब्लिक न्यूसेंस का मामला दर्ज किया जाकर नोटिस जारी किया जाए।

सूत्रों ने बताया कि जिले के शीर्ष अधिकारीद्वय इस बात से खासे खफा दिख रहे थे कि निर्माण करने वाली कंपनी और इसका अधीक्षण करने वाली एनएचएआई के अधिकारियों के द्वारा कथित तौर पर बरती जा रही लापरवाही के कारण आए दिन जाम लग रहा है और लोग परेशान हो रहे हैं।

सूत्रों ने बताया कि जिले के शीर्ष अधिकारियों ने दिलीप बिल्डकॉन कंपनी के प्रबंधक को इस बात की हिदायत भी दी है कि भविष्य में निर्माण कार्य को इस तरह कराया जाए कि निर्माण कार्य के दौरान यह मार्ग अवरूद्ध न हो पाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *