जब गर्मी में आने लगे चक्कर और बेहोशी तो . . .

 

 

 

क्या आपने कभी सोचा है कि बेहोशी के पीछे क्या कारण हो सकते हैं? हम अपने आस पास अक्सर ऐसा देखते हैं कि कोई व्यक्ति जो पूरी तरह से फिट और स्वस्थ दिख रहा है लेकिन अचानक बिना किसी कारण वो बेहोश होने लगता है।

बेहोशी को चिकित्सा पद्दति में सिंकोप कहा जाता है। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे ब्लडप्रेशर, हृदय की बीमारी या डीहाइड्रेशन। किसी व्यक्ति में लो ब्लडप्रेशर की शिकायत किसी दवा, ज्यादा व्यायाम या सोडियम की कमी की वजह से हो सकती है। हालांकि कि हम यह भूल जाते हैं कि मौसम में बदलाव के कारण अक्सर ब्लडप्रेशर में उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है। सर्दियों के दौरान ब्लडप्रेशर बढ़ जाता है और गर्मी में ब्लडप्रेशर कम हो जाता है।

बेहोशी के लक्षण

बेहोश होने से पहले व्यक्ति में कुछ लक्षण दिखाई देने लगते हैं जैसे कमजोरी आना, सांस में भारीपन, सिर में दर्द और चक्कर आना। इन्ही सब कारणों के होने से शरीर का बैलेंस बिगड़ता है और व्यक्ति बेहोश हो कर गिर पड़ता है। बेवक्त गिरने से व्यक्ति को चोट भी लगती है। इसीलिए अगर किसी व्यक्ति को चक्कर आ रहें हैं या वो बेहोश होने वाला है तो इस स्थिति को हल्के में ना लें।

न होने दें पानी की कमी

बेहोश होने और चक्कर आने के पीछे सबसे बड़ा कारण हैं पानी की कमी। आपकी पेशाब गर्मियों में पानी की तरह या हलकी पीली होनी चहिये। गर्मियों में खूब पानी पीएं और अपने आपको हाइड्रैटड रखें।

गर्मी से बचें

बहुत ज्यादा गर्मी से बचे। जब सूरज सर पर हो तो बाहर ना निकलें। जितना हो सके एयर कंडीशनर या पंखे का इस्तेमाल करें। शरीर से ज्यादा मात्रा में पसीना ना निकलने दें।

गर्म जगह पर व्यायाम न करें

अपने व्यायाम का समय बदलें, दोपहर के समय या धूप में व्यायाम ना करें। इसके बजाये सुबह जल्दी उठ कर या शाम को व्यायाम करें, और खूब पानी पीएं। जिससे व्यायाम के वक़्त आये हुए पसीने से पानी की कमी पूरी हो सके।

इलेक्ट्रोलाइट्स लें

ब्लडप्रेशर के स्तर को बनाए रखने के लिए इलेक्ट्रोलाइट्स बहुत महत्वपूर्ण है। यदि आपका ब्लडप्रेशर कम रहता है तो एक गिलास पानी में एक बड़ा चम्मच नमक मिला कर पीएं, इससे ब्लडप्रेशर ठीक रहेगा। इलेक्ट्रोलाइट्स सॉफ्ट ड्रिंक्स में भी आता है। लेकिन ध्यान रहे कि इन ड्रिंक्स में ज्यादा शक्कर ना हो। नहीं तो ज्यादा शक्कर शरीर में जाने से वजन भी बढ़ सकता है।

ठीक से कपड़े पहनें

गर्मियों में जितना हो सके हलके कपडे पहने। ज्यादा कसे हुए कपड़े ना पहने और सिंथेटिक कपड़ों के बजाय सूती कपड़े पहने। घर में रहें तो कम से कम कपड़े पहने। इससे पसीना कम आएगा।

सही आहार लें

इंसान कम ब्लडप्रेशर के कारण से ही बेहोश हो जाता है तो इसलिए वही भोजन करें जिससे आपका ब्लडप्रेशर बढ़े। इसके लिए अपने आहार में सोडियम की मात्रा को बढ़ाएं। इसके आलावा दूध से बनी हुई चीजें या एक गिलास दूध पी सकते हैं। इसमें आपको लगभग 100 मिलीग्राम सोडियम मिलेगा जिससे आपका ब्लडप्रेशर सही रहेगा।

स्नान

ठन्डे पानी से नहाएं इससे परिधीय रक्त वाहिकाएं जकड़ जाती हैं जिससे कुछ समय के लिए ब्लडप्रेशर बढ़ जाता है। जिससे आप बेहोश होने से बच जाएंगे। गर्मियों में ठन्डे पानी से नहाएं क्योंकि गर्म पानी से ब्लडप्रेशर कम होने लगता है।

डॉक्टर से सलाह लें

एक बार गर्मियों में बेहोश हो जाना कोई बड़ी बात नहीं है। लेकिन अगर यह कई बार होता है और ऊपर बताये गये उपायों से भी ठीक ना हो, तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएँ। अपने आप से दवा ना खाएं।

(साई फीचर्स)

6 thoughts on “जब गर्मी में आने लगे चक्कर और बेहोशी तो . . .

  1. Have you ever thought about including a little bit more
    than just your articles? I mean, what you say is valuable and all.
    But think of if you added some great visuals or videos to give your posts more, “pop”!
    Your content is excellent but with pics and videos, this website
    could certainly be one of the very best in its field.
    Awesome blog!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *