प्राथमिक शाला घुटना वाल ऑफ फेम से पुरूस्कृत

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। आदिवासी विकास खण्ड घंसौर के सुदूर अंचल की शासकीय प्राथमिक शाला घुटना को राज्य स्तरीय बाल ऑफ फेम 2018-19 पुरूस्कार से जिला कलेक्टर प्रवीण सिंह अढ़ायच द्वारा सम्मानित किया गया है।

प्राथमिक शाला घुटना को यह उपलब्धि शाला के 90 प्रतिशत विद्यार्थियों द्वारा दक्षता उन्नयन अंतर्गत हिन्दी और गणित विषय में आवश्यक मूलभूत दक्षताओं को प्राप्त किया गया है। शाला की इस सफलता के पीछे शिक्षक कोदूलाल यादव की लगन और मेहनत के साथ छात्र – छात्राओं के प्रति समर्पण भाव रहा।

आदिवासी क्षेत्र के वनांचल की प्राथमिक शाला घुटना में पदस्थ शिक्षक कोदूलाल यादव मूलतः केवलारी विकास खण्ड के ग्राम छींदा के निवासी है। पदस्थापना के बाद से ही श्री यादव ने गाँव में शिक्षा के प्रति जागरूकता लाने का बीड़ा उठाया और गाँव वालों को बच्चों को स्कूल भेजने के लिये प्रेरित किया। जागरूकता के साथ इन्होंने बच्चों से भी पढ़ाई लिखाई के प्रति रूचि जगायी।

छात्र – छात्राओं ने भी अपने गुरूजी की लगन का साथ दिया, जिसका नतीजा राज्य स्तरीय बाल आफ फेम पुरूस्कार के रूप में सामने है। शिक्षक कोदूलाल यादव की शैक्षणिक कार्य के प्रति लगन को देखते हुए वर्ष 2018 में राष्ट्रीय शिक्षक कल्याण परिषद मध्य प्रदेश द्वारा उन्हें प्रशस्ति पत्र से पुरूस्कृत किया गया था।

इसके अलावा लगातार 10 वर्षाें से जिला कलेक्टर द्वारा जिला स्तर पर श्रेष्ठ शिक्षक बतौर पुरूस्कृत किया जा रहा है। जनपद पंचायत घंसौर द्वारा भी कोदूलाल पाँच बार गणतंत्र दिवस पर सम्मानित किये जा चुके हैं। तत्कालीन कलेक्टर व्ही.एस. निरंजन द्वारा पढ़ना बढ़ना आंदोलन में सक्रिय योगदान देने के लिये श्री यादव को वर्ष 2001 में अंर्तराष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर भी सम्मानित किया जा चुका है।

शासकीय प्राथमिक शाला घुटना को मिली इस उपलब्धि पर वरिष्ठ शिक्षक कोदूलाल यादव को शिक्षकगण किशोरी लाल यादव, संतोष बरला, शेख मंसूर, राजेश सिंगौर, अशोक यादव, बसंत बरकड़े सहित गणमान्यजनों एवं ग्राम वासियों ने बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *