अचानक आने वाली खांसी को कैसे करें कंट्रोल

 

 

हालांकि खांसी का हमला आमतौर पर सर्दी या फ्लू से पीड़ित होने के कारण होता है, लेकिन यह किसी भी समय हो सकती है। इसका कारण गले में संक्रमण, धूम्रपान, बदलता मौसम, ठंडे और गरम को एक साथ लेना, या फिर धूल या किसी अन्य चीज से एलर्जी हो सकता है।

खांसी का हमला आपकी दैनिक गतिविधियों को भी प्रभावित कर सकता हैं। इसके अलावा इसका सार्वजनिक होना, किसी के लिए भी शर्मनाक हो सकता हैं। लेकिन घबराइए नहीं क्योंनकि कई ऐसे तरीके हैं जिन्हेंम अपनाकर आप खांसी के हमले को रोक सकते हैं। आइए ऐसे ही कुछ उपायों के बारे में जानें।

तैयार रहें

इस समस्यां से निपटने का सबसे अच्छां तरीका है कि कभी भी होने वाले इस खांसी के हमले के लिए आप खुद को तैयार करें। खांसी और एलर्जी की दवा और इनहेलर मौजूद होने पर आप इस हमले से बेहतर तरीके से लड़ पायेंगे। खांसी का दौरा पड़ने पर खांसी की दवा को धीरे-धीरे चूसें।

हमले का कारण एलर्जी

अधिकांश एलर्जी आपको अत्यधिक खांसी के हमले पर ला सकती हैं। अगर आपको एलर्जी की समस्याप है तो खांसी के हमलों से बचने के बारे में अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए। एलर्जी के मौसम के दौरान एलर्जी दवा का सेवन खांसी के हमले को कम कर सकता है।

गर्म-तरल पदार्थ

खांसी के हमले के दौरान कई लोग पानी लेते हैं। लेकिन ठंडा पानी पीने की बजाय, गर्म पानी खांसी के हमले को रोकने के लिए बहुत ही कारगर हो सकता है। नींबू और शहद के साथ गर्म चाय खांसी के हमले को रोकने का शानदार तरीका है। क्यों कि चाय में प्राकृतिक सुखदायक प्रभाव और शहद में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल तत्वक खांसी को तुरंत कम कर देते है। शहद के साथ गर्म दूध पीना खांसी को शांत करने का एक और तरीका है। इसलिए जब आपको आम सर्दी या खांसी पकड़ लें तो इससे बचने के लिए इसका सेवन कीजिए।

वातावरण भी करता है प्रभावित

वातावरण भी खांसी के हमले का कारण हो सकता है। जब आपको खांसी का हमला हो तो कमरे से बाहर ठंडी जगह पर जाये। इसके अलावा तंग कपड़ों को ढीला कर दें। सर्दियों में भी इसी तरह खांसी का कारण शुष्कग वातावरण हो सकता है। बाहर की सूखी हवा को कम करने के लिए घर को गर्म करें और हवा में नमी को पुन: निर्माण करें ताकी आपको खांसी को दूर रखने में मदद मिल सकें।

सांसों पर नियंत्रण

खांसी को नियंत्रित करने की कोशिश करने के लिए आपको अपनी सांसों पर नियंत्रण करने का प्रयास करना चाहिए। अपनी नाक के माध्यम से धीरे धीरे सांस लेने का प्रयास करें। खांसी शांत करने के लिए एक कप चाय के रूप में गर्म पेय पीना खांसी के हमले को गंभीरता से कम कर देता है। शहद की एक चम्मच भी खांसी में चिड़चिड़ा महसूस करने को खत्मर करने में आपकी मदद करता है।

धूम्रपान बिलकुल भी न करें

एक्टिव और पेसिव धूमप्रान से बचें। स्मो की कमरे या अन्यं स्मोड़की स्थाीनों से बचें। क्योंवकि यह आपके गले को नुकसान पहुंचा सकते हैं और यह हवा में उपस्थित धुआं फेफड़ों को प्रभावित कर आपकी सांस में परेशानी पैदा कर सकता है। धूम्रपान कर रहें व्यक्ति के नजदीक बैठना भी एलर्जी से प्रभावित होने वाले व्यक्ति में सांस की तकलीफ और खांसी को बढ़ा देता है।

अरोमाथेरपी करायें

अगर आप खांसी के हमलों से ग्रस्ती हैं तो आप अरोमाथेरपी का सहारा ले सकते हैं। इसके लिए नीलगिरी के तेल की तीन बूंदें, थाइम तेल की दो बूंदें और मुलायम या पिघले हुए नारियल तेल के दो चम्मच को मिलाकर मिश्रण बन लें। इस मिश्रण को छाती पर लगाये और गहरी सांस लें।

ज्यादातर मामलों में, खांसी एक छोटी सी झुंझलाहट और समय के साथ हल हो जाती है। अगर ऐसा नहीं होता है, तो अपने चिकित्सक की सलाह लीजिए।

(साई फीचर्स)

19 thoughts on “अचानक आने वाली खांसी को कैसे करें कंट्रोल

  1. Thanks , I have just been looking for information about this subject for
    a long time and yours is the greatest I’ve found out till now.
    But, what in regards to the conclusion? Are you positive
    concerning the source?

  2. Heya i am for the primary time here. I came across this board and I in finding It really helpful & it helped me
    out a lot. I hope to present one thing back and aid others such as you helped me.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *