बिना महिला इंस्ट्रक्टर संचालित हो रहे जिम!

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। एक तंदुरूस्ती हजार नियामत की कहवात सदियों पुरानी है। इस कहावत को देखते हुए शहर में चल रहे जिम में बॉडी बिल्डिंग करने वालों सहित अपने आप को चुस्त दुरूस्त रखने के लिये युवाओं की खासी तादाद देखी जा सकती है। वर्तमान समय में युवतियां भी चुस्त दुरूस्त रहने के लिये जिम का सहारा ले रहीं हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर में लगभग एक दर्जन जिम संचालित हैं। इनमें से महज़ एक दो जिम ही इस तरह के होंगे जहाँ महिला इंस्ट्रक्टर के द्वारा युवतियों और महिलाओं को वर्जिश किस तरह से करना है इसका प्रशिक्षण दिया जा रहा हो, शेष लगभग सभी जिम्स में पुरूष इंस्ट्रक्टर्स ही महिलाओं को प्रशिक्षण देते नज़र आते हैं, जिससे महिलाएं अपने आप को असहज महसूस कर रहीं हैं।

बताया जाता है कि जब महिलाओं के द्वारा जिम संचालकों से महिला इंस्ट्रक्टर्स मुहैया करवाने की माँग की जाती है तो जिम संचालकों के द्वारा यह कहकर पल्ला झाड़ लिया जाता है कि महिला प्रशिक्षक सिवनी में उपलब्ध नहीं हैं, जबकि महिलाओं के लिये संचालित होने वाले जिम्स में महिला प्रशिक्षक अपनी सेवाएं दे रहीं हैं।

महिलाओं का कहना है कि इस तरह के जिम्स जहाँ महिला प्रशिक्षक नहीं हैं और वहाँ महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाकर वर्जिश करवायी जा रही हो उनमें महिलाओं का प्रवेश तत्काल बंद कराया जाना चाहिये अथवा इन स्थानों पर नोटिस बोर्ड पर यह साफ शब्दों में लिखा जाना चाहिये कि इन स्थानों पर महिला प्रशिक्षक मौजूद नहीं हैं।