अस्पताल से चोरी हो गयीं टोंटियां!

 

 

कायाकल्प अभियान के दौरान हो रहीं चोरियां!

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। जिलाधिकारी प्रवीण सिंह भले ही जिला अस्पताल के कायाकल्प कर मरीज़ों को राहत दिलवाने की कवायद कर रह हों पर जिला अस्पताल प्रशासन के द्वारा अस्पताल के अंदर की व्यवस्थाओं पर नियंत्रण नहीं किये जाने के कारण प्रतिकूल परिस्थितियां उत्पन्न हो रही हैं।

जिला अस्पताल के उच्च पदस्थ सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि जिला अस्पताल में कायाकल्प अभियान के तहत अनेक वार्ड के शौचालयों में टाईल्स लगवायी जाकर नये नल और शॉवर लगाये गये थे। अस्पताल के इन वार्डों में से अनेक नल और शॉवर को ही चोरों ने उड़ा दिया।

सूत्रों का कहना था कि बीते दिवस महिला सर्जिकल वार्ड के शौचालय के नल चोरी हो जाने से वहाँ पानी बहता रहा। बाद में जब पानी की टंकी खाली हुई और मरीज़ों को पानी नहीं मिला तो उनके द्वारा इसकी शिकायत वार्ड प्रभारी नर्स से की गयी, तब जाकर इस बात का खुलासा हुआ कि नल और शॉवर चोरी हो गये हैं।

सूत्रों ने इस बात पर आश्चर्य व्यक्त किया कि जिस अस्पताल में सुरक्षा और सफाई के नाम पर भारी भरकम खर्च किया जा रहा हो उस जगह से नल और शॉवर चोरी कैसे हो सकते हैं! इसके अलावा जैसे ही किसी के द्वारा नल चोरी किया जायेगा तो पानी जिस वेग से गिरेगा उससे होने वाली आवाज तो कम से कम वार्ड में तैनात कर्मचारियों को सुनायी अवश्य दे जायेगी।

सूत्रों ने बताया कि हाल ही में जिलाधिकारी प्रवीण सिंह के अस्पताल के निरीक्षण के पूर्व चोरी गये नल और शॉवर्स को दुबारा लगवा दिया गया है। इस बारे में चोरी की रिपोर्ट नहीं किये जाने से यह बात भी शोध का विषय ही मानी जा सकती है कि इन नलों और शॉवर्स को लगवाये जाने का भोगमान किसके द्वारा भोगा जायेगा!