बालाघाट रोड हो चुकी है पूरी तरह जर्जर

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। सिवनी से बालाघाट होते हुए गुजरने वाली स्टेट हाइवे 26 देखरेख के अभाव व बारिश के चलते खस्ताहाल हो गयी है।

सड़क पर जहाँ देखों वहाँ पर बड़े-बड़े गड्ढे बन गये हैं। वहीं साइड शोल्डर भी जानलेवा हो गये हैं। इस सड़क की एमपीआरडीसी के अधिकारियों ने भी अब तक कोई सुध नहीं ली है। इसके कारण इस सड़क से गुजरने वालों में हादसे होने का भय बना हुआ है।

आधा से एक फुट तक बन गये गड्ढे : सिवनी बालाघाट रोड इस कदर खस्ताहाल हो गया है कि थोड़ी – थोड़ी दूरी पर आधा से एक फुट तक के गहरे गड्ढे निर्मित हो गये हैं। शहर से 10 किलोमीटर की दूरी पर बंजारी घाट व बम्होड़ी के बीच में दो फीट गहरा और चार – पाँच फिट चौड़ा गड्ढा हो गया था।

इस पर डंपर संचालकों द्वारा गिट्टी व मिट्टी डालकर भरा गया है ताकि गड्ढे में कोई हादसा घटित न हो। इसके बावजूद आसपास फिर गड्ढे निर्मित हो गये हैं। इसी तरह बरघाट की ओर जाने वाले रास्ते में छोटे व बड़े पुल के पास दस – पंद्रह फीट तक पूरी सड़क में गड्ढे हो गये हैं। वहीं कई जगह सड़क के धपड़े निकल गये हैं।

सड़क के दोनों ओर जानलेवा साइड शोल्डर : सड़क निर्माण के दौरान ठेकेदारों ने दोनों तरफ मुरम और रेत की बजरी से साइड शोल्डर को भरा था लेकिन बारिश में पानी के बहाव से मुरम और बजरी बहकर दूर चली गयी है। बम्होड़ी गाँव के पास पुलिया से कुछ ही दूरी पर तो यह नज़ारा है कि अगर वाहन चालक जरा भी पटरी में उतरा तो उसके लिये खतरनाक साबित हो सकता है। सड़क से सटकर ऐसा गड्ढा बन गया है कि सड़क तक धसक रही है। यदि बाईक या चौपहिया वाहन का पहिया उसमें पड़ा तो निश्चित तौर पर फंस जायेगा और वाहन चालक के लिये मुसीबत खड़ी हो सकती है।