कमलेश तिवारी की पत्नी ने हत्यारे के लिए मांगी फांसी की सजा

 

 

 

 

CM योगी ने दिया न्याय का भरोसा

(ब्‍यूरो कार्यालय)

लखनऊ (साई)। कमलेश तिवारी हत्याकांड में एक तरफ जहां पुलिस आरोपियों की धरपकड़ में जुटी है, वहीं दूसरी तरफ लखनऊ में पीड़ित परिवार ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। इस दौरान परिवारवालों ने हत्यारों के लिए फांसी की सजा की मांग की। सीएम योगी ने आश्वासन दिया कि उनके साथ न्याय होगा और दोषियों को सजा जरूर मिलेगी।

रविवार को आरोपियों से जुड़े कई अहम सुराग पुलिस को हाथ लगे। लखनऊ स्थित होटल खालसा से कुछ सामान बरामद हुए हैं जिनमें एक बैग और खून लगे भगवा एवं लाल कुर्ते हैं। वहीं, सीसीटीवी फुटेज में दोनों आरोपी होटल के रिसेप्शन पर दिखे हैं। इसके आधार पर पुलिस ने जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी का दावा किया है।

दोषियों को सजा दिलाने का दिया आश्वासन

इस बीच लखनऊ में पीड़ित परिवार ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। इस दौरान कमलेश की मां, उनकी पत्नी किरन तिवारी और बेटे मौजूद रहे। कमलेश के बेटे ने पैर छूकर सीएम का आशीर्वाद भी लिया। सीएम से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत में पत्नी किरन ने कहा, ‘उन्होंने (सीएम योगी) हमें आश्वासन दिया है कि न्याय मिलेगा। हमने हत्यारों के लिए उम्रकैद की सजा की मांग की है। सीएम ने भरोसा दिया है कि दोषियों को सजा जरूर मिलेगी।

परिवार ने सीएम के सामने रखीं मांगें

सूत्रों के मुताबिक पीड़ित परिवार ने तिवारी के बेटे को सरकारी नौकरी देने, परिवार को सुरक्षा देने, सुरक्षा के लिहाज से परिजन को असलहों के लाइसेंस देने, उनके मुहल्‍ले का नाम तिवारी के नाम पर करने, लखनऊ में तिवारी की मूर्ति स्‍थापित करने और पूरे मामले की सुनवाई फास्‍ट ट्रैक कोर्ट में करने की मांग की। मुख्‍यमंत्री ने उन्‍हें समुचित कार्रवाई का आश्‍वासन दिया।

सीएम से मुलाकात कर हम संतुष्ट

मुख्‍यमंत्री से मुलाकात के बाद तिवारी की पत्‍नी किरण ने बताया, ‘सीएम योगी ने हर सम्‍भव कार्रवाई का आश्‍वासन दिया है। हम उनसे हुई मुलाकात से संतुष्‍ट हैं। हमारी मांग थी कि हत्‍यारों को फांसी की सजा दी जाए।तिवारी की मां कुसुमा ने कहा, हमने सीएम से कहा कि हमारे बेटे को न्‍याय चाहिए। सीएम योगी ने इसका भरोसा देकर हमें बहुत कुछ दे दिया।

सीएम योगी के आने पर अड़े थे परिजन

महमूदाबाद में शनिवार को करीब 10 घंटे की जद्दोजहद के कमलेश तिवारी का अंतिम संस्कार कर दिया गया। नाराज परिवार को मनाने के लिए मंडलायुक्त मुकेश मेश्राम व आईजी एसके भगत ने नौ सूत्रीय समझौता पत्र पर दस्तखत किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *