कमलेश मर्डर का ‘नागपुर कनेक्शन’

 

 

 

 

हत्या के आरोपियों से संपर्क में था सैयद असीम अली

(ब्यूरो कार्यालय)

लखनऊ (साई)। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शुक्रवार को हुए कमलेश तिवारी मर्डर केस में एटीएस की नागपुर यूनिट को अहम जानकारियां मिली हैं।

यूनिट को इस बात का पता चला कि सैयद असीम अली नाम के एक शख्स की कमलेश हत्याकांड में महत्वपूर्ण भूमिका थी। इसके बाद असीम को एटीएस महाराष्ट्र की टीम ने गिरफ्तार कर लिया। एटीएस नागपुर यूनिट ने सैयद असीम अली से पूछताछ की। इस पूछताछ में कई हैरान कर देने वाली बातें सामने आईं।

पूछताछ में इस बात का पता चला कि संदिग्ध सैयद असीम अली हत्याकांड के आरोपियों से संपर्क में था। यही नहीं, यह जानकारी भी मिली है कि वह कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा था। इन तमाम बातों को देखते हुए असीम को एटीएस महाराष्ट्र ने गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने नागपुर की एक अदालत में सोमवार को आरोपी को पेश किया और उसकी ट्रांजिट रिमांड हासिल की।

ट्रांजिट रिमांड पर सूरत से लाए गए 3 आरोपी

उधर, कमलेश तिवारी हत्याकांड में शामिल तीन आरोपियों को गुजरात के सूरत से 72 घंटे की ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ लाया जा चुका है। गौरतलब है कि हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या के बाद सूरत से एटीएस टीम ने तीन लोगों को शुक्रवार रात पकड़ा था। इन तीनों (मोहसिन शेख, फैजान और राशिद पठान) को अब कोर्ट में पेश किया जाएगा।