वार्ड हों स्थानीय विभूतियों के नाम पर

 

सामाजिक कार्यकर्त्ता लक्ष्मी कश्यप ने की माँग

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिले की इकलौती नगर पालिका परिषद में वार्ड की संख्या 24 से बढ़ाकर 36 किया जाना स्वागत योग्य है, पर नये वार्ड के नाम स्थानीय विभूतियों के नाम पर होना चाहिये।

उक्ताशय की बात सामाजिक कार्यकर्त्ता लक्ष्मी कश्यप द्वारा सोशल मीडिया पर लिखी इबारत में कही गयी है। उन्होंने कहा कि सिवनी जिले को नयी दिशा देने वाले समाज के विभिन्न क्षेत्रों के दिवंगत लोगों की यादों को चिरस्मरणीय बनाने के लिये नये वार्ड के नाम स्थानीय लोगों के नाम पर किये जाने चाहिये।

उन्होंने कहा कि समूची दुनिया में जगतगुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती का मान है। यह सिवनी जिले का सौभाग्य है कि वे सिवनी में ही पैदा हुए हैं और आज भी वे देश दुनिया को नित नये संदेश देकर मार्गदर्शन करते रहते हैं। इसके अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व.विमला वर्मा का भी सभी दलों के नेताओं के द्वारा आदर किया जाता है। इतना ही नहीं राजा दलपत शाह के नाम पर दलसागर तालाब का निर्माण करवाया गया था।

उन्होंने कहा कि नगर पालिका में नये जुड़े वार्ड के नाम स्थानीय लोगों के नाम पर किये जाने चाहिये ताकि इन लोगों की यादों को चिरस्थायी बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि सभी सियासी दलों के लोगों के द्वारा दलगत राजनीति से ऊपर उठकर एक मुहिम चलायी जाकर नये वार्ड के नाम स्थानीय विभूतियों के नाम पर करने की कवायद की जाना चाहिये।