इस बार कहाँ लगेंगी पटाखा दुकानें!

 

 

दीपावली में महज छः दिन शेष, पटाखा व्यवसायी चिंतित!

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। रविवार 27 अक्टूबर को दीपों का पर्व दीपावली मनाया जायेगा। दीपावली को महज छः दिन शेष बचे हैं और जिला मुख्यालय में पटाखा दुकानें कहाँ लगेंगी इस बारे में न तो पटाखा व्यवसायियों को पता है और न ही नागरिक ही इस बात से वाकिफ हैं।

ज्ञातव्य है कि सालों से पटाखा दुकानें पोस्ट ऑफिस से दलसागर के मुहाने पर बने भैरोगंज मार्ग पर लगायी जाती थीं। अमूमन पटाखा दुकानें, दीपावली से एक पखवाड़ा पहले लगना आरंभ हो जाती थीं। इसके बाद दुर्घटनाओं के अंदेशे को देखते हुए कुछ साल से पटाखा दुकानों को नागपुर नाका क्षेत्र में स्थानांतरित कर दिया गया था।

इस साल के आरंभ में उस स्थान पर जिस स्थान पर पटाखा दुकानें संचालित होती थीं, वहाँ थोक सब्जी मण्डी स्थानांतरित किये जाने के कारण अब नागपुर नाके में उस स्थान पर भी पटाखा दुकानें लगना संभव प्रतीत नहीं हो रहा है। यह अलहदा बात है कि थोक सब्जी मण्डी के व्यापारी आज भी व्यवस्थाओं को तरस रहे हैं और प्रशासन को इसकी किंचित मात्र भी परवाह प्रतीत नहीं हो रही है।

पटाखा व्यवसाय करने वाले अनेक व्यापारियों के बीच चल रहीं चर्चाओं के अनुसार संभवतः पहला ही मौका होगा जबकि दीपावली के एक सप्ताह पहले तक पटाखा दुकानों का स्थल तक चयनित कर इसकी जानकारी लोगों को नहीं दी गयी हो। व्यापारियों के बीच अभी भी इस बात को लेकर संशय बना हुआ है कि वे दुकानें कहाँ लगायेंगे!

चर्चाओं के अनुसार अगर उन्हें मंगलवार को यह बताया जायेगा कि उनकी दुकानें अमुक स्थान पर लगायी जायेंगी तो उन्हें भी दुकानों के लिये अस्थायी व्यवस्थाएं करने में कम से कम दो दिन का समय लग जायेगा। उन्हें दुकानों के लिये तखत अथवा सैंट्रिंग की व्यवस्था कर माल भी खरीदना होगा। इन तैयारियों के करते – करते तो दीपावली ही आ जायेगी, फिर वे किस तरह अपना व्यापार कर पायेंगे।

व्यापारियों का कहना है कि पटाखों का व्यापार करने का अवसर साल में एक बार ही आता है, वह भी महज़ एक पखवाड़े के लिये, इसके बाद भी अगर पटाखा मार्केट के स्थल चयन में इतना विलंब किया जायेगा तो वे कहाँ जायेंगे!

वहीं, दूसरी ओर प्रशासनिक सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि इस बार पटाखा मार्केट को मठ मंदिर के परिसर में लगवाया जा सकता है। इसके लिये पटाखा दुकानों के लिये आवेदन करने वाले व्यापारियों का ड्रॉ भी मंगलवार को निकाला जायेगा, इसके बाद ही व्यापारियों को स्थान के बारे में भी बता दिया जायेगा।