तुर्की जानेवालों के लिए सरकार की अडवाइजरी

 

 

 

 

अतिरिक्त सतर्कता बरतने का निर्देश

(ब्यूरो कार्यालय)

नई दिल्‍ली (साई)। केंद्र सरकार ने तुर्की के हालात को देखते हुए यात्रियों के लिए अडवाइजरी जारी की।

केंद्र सरकार की ओर से जारी अडवाइजरी में तुर्की जानेवाले भारतीय नागरिकों से अतिरिक्त सुरक्षा बरतने का निर्देश दिया गया है। उत्तरी सीरिया में कुर्द ठिकानों पर हमले के कारण तुर्की में बहुत तनावपूर्ण हालात हैं। इसके साथ ही पाकिस्तान से तुर्की की नजदीकियां लगातार बढ़ रही हैं और भारत ने अंकारा से अपनी दूरी बरतने का संकेत दिया है।

तुर्की और भारत के बीच बढ़ रहा है तनाव

भारत और तुर्की के बीच लगातार बढ़ रहा तनाव साफ नजर आ रहा है। संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर मुद्दे पर तुर्की ने लगातार पाकिस्तान का साथ दिया, जिसके बाद भारत ने कठोरता से आंतरिक मामले से दूर रहने का संदेश दिया। हालांकि, पाकिस्तान के साथ तुर्की की दोस्ती यहीं खत्म नहीं हुई और उसने एफएटीएफ में भी पाकिस्तान का समर्थन किया।

पाकिस्तान से मिलकर परमाणु बम बनाने की अटकलें

तुर्की के राष्ट्रपति रिजेब तैय्यप अर्दोआन ने हाल ही में अपनी पार्टी की एक बैठक में कथित तौर पर तुर्की को न्यूक्लियर पावर बनाने की इच्छा जाहिर की है। इसके बाद से ही इस बात के कयास लगने लगे हैं कि क्या पाकिस्तान ने तुर्की को परमाणु तकनीक बेची है। अर्दोआन के बयान के बाद से वॉशिंगटन में हलचल तेज हो गई है। पाकिस्तानी तस्कर अब्दुल कादिर खान से तुर्की के लिंकहोने की भी खबर है।

उत्तरी सीरिया पर हमले का भारत ने किया विरोध

अंतरराष्ट्रीय दबाव और युद्ध विराम पर सहमति जताने के बाद भी उत्तरी सीरिया में तुर्की का कुर्दों पर हमला जारी है। भारत ने कुर्दों पर तुर्की के हमले की निंदा करते हुए तत्काल इसे रोकने की मांग की थी। तुर्की और भारत के बीच इस मुद्दे को लेकर भी हाल में तनाव काफी बढ़ा है।