अस्पताल परिसर से बच्चा चोरी का प्रयास!

 

 

अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था में लगातार लग रही सेंध!

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। प्रियदर्शनी के नाम से सुशोभित इंदिरा गांधी जिला अस्पताल में शनिवार की शाम कथित तौर पर बच्चा चोरी की घटना से सनसनी फैल गयी। किसी के द्वारा डायल 100 को सूचना दिये जाने पर पुलिस भी मौके पर जा पहुँची।

कोतवाली पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि जिला अस्पताल के भर्त्ती एक प्रसूता अपने बच्चे को, बच्चे की दादी की गोद में सौंपकर बाथरूम गयी थी। उसकी दादी, बच्चे को लेकर कॉरीडोर में बैठी थी। इसी बीच दो युवक आये और बुजुर्ग महिला की गोद से बच्चे को उठाकर वहाँ से जाने लगे।

सूत्रों ने बताया कि यह पूरा घटनाक्रम अस्पताल के कॉरीडोर का है। इन युवकों ने जैसे ही दादी की गोद से बच्चे को उठाया वैसे ही दादी ने शोर मचा दिया। शोर शराब सुनकर वहाँ भीड़ एकत्र हो गयी और इन युवकों को लोगों के द्वारा मौके पर ही रोक लिया गया। इसके बाद इसकी जानकारी किसी के द्वारा डायल 100 को दे दी गयी।

सूत्रों ने बताया कि इसके बाद मामला अस्पताल की पुलिस चौकी पहुँचा। वहाँ से आरोपी युवकों और बुजुर्ग महिला को लेकर पुलिस कोतवाली थाना पहुँची। कोतवाली थाने में युवकों से पूछताछ की गयी। पूछताछ में यह बात निकलकर सामने आयी कि दोनों युवक बरघाट रोड स्थित सेलुआ ग्राम के हैं।

सूत्रों ने बताया कि दोनों युवकों ने बताया कि उनकी बहन अस्पताल में भर्त्ती है और उनकी बहन का ऑपरेशन रविवार को होना है। वे अपनी बहन को खाना देने देर शाम अस्पताल गये थे। वहीं, प्रसूता भी सेलुआ ग्राम की उनकी परिचित थी, इसलिये उनके द्वारा बच्चे को, उसकी दादी की गोद से लेकर खिलाने का प्रयास किया गया था।

सूत्रों ने बताया कि कोतवाली पुलिस के द्वारा पूछताछ के लिये दोनों युवकों को थाने में ही बैठाए रखा गया है और बच्चे की दादी को वापस अस्पताल भेज दिया गया है। इस मामले में देर रात तक कोतवाली पुलिस अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज खंगालती रही।

मामला संज्ञान में आया है. इस मामले में सीसीटीवी फुटेज देखे जा रहे हैं. दोनों युवकों से पूछताछ की जा रही है. वे और प्रसूता एक ही ग्राम के हैं, इस बात की तस्दीक भी की जा रही है.

मनोज गुप्ता,

नगर कोतवाल.