महिला ऑटो चालक से बनाए शारिरिक संबंध

 

 

 

 

जब रिश्ता तोडऩा चाहा तो नाबालिग से कटवा दी गर्दन

(ब्यूरो कार्यालय)

जबलपुर (साई)। लार्डगंज थाना अंतर्गत भूलन के पास 26 अक्टूबर की रात चाकू मारकर की गई ऑटो चालक अवध नरेश तिवारी उर्फ शिवा की हत्या उसकी कथित प्रेमिका ने 35 हजार रुपए सुपारी देकर कराई थी। हत्या करने वाला 17 वर्षीय नाबालिग है।

महिला का पति मानसिक व शारीरिक रूप से बीमार है। वह अवैध तरीके से शराब बेचती थी। शिवा शराब बिकवाता था। एएसपी डॉ. संजीव उइके ने शुक्रवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया कि महिला शिवा के शारीरिक शोषण से परेशान थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

एएसपी उइके ने बताया कि मूलत: करेली नरसिंहपुर निवासी शिवा शारदा चौक में किराए से रहता था। वह 12 साल से गढ़ा क्षेत्र में अवैध रूप से शराब बेचने वाली महिला के सम्पर्क में था। दोनों में प्रेम हो गया था। महिला के बच्चे जब तक छोटे थे, तब तक सब ठीक था। अब बच्चे बड़े हो गए हैं। उनके विरोध के कारण महिला ने शिवा को घर आने से मना किया था। महिला ने एक-दो लोगों से शिवा की हत्या करने की बात की, लेकिन वे नहीं माने, तब महिला ने अपने देवर के घर में किराए से रहने वाले 17 वर्षीय नाबालिग से सम्पर्क किया। उसने हत्या के बदले 50 हजार रुपए मांगे। महिला ने 35 हजार रुपए दिए।

नाबालिग ने 26 अक्टूबर की रात शिवा को फोन किया। गेहूं लाने के बहाने भूलन गांव ले गया। भूलन पहुंचने पर नाबालिग ने पीछे से शिवा की गर्दन के नीचे और पेट पर चाकू से वार किए। शिवा को गम्भीर हालत में मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान 27 अक्टूबर की सुबह 5.45 बजे उसकी मौत हो गई। शिवा की पत्नी का दावा है कि रात में होश आने पर उसने महिला, नाबालिग व मद्दू और जगदीश का नाम लिया था। पुलिस ने मामले में चारों को आरोपी बनाया है। पुलिस ने नाबालिग के कमरे से वारदात में प्रयुक्त चाकू और सुपारी के 31 हजार रुपए बरामद किए हैं।