तीसरी मंजिल से गिरे नीलेश ने तोड़ा दम!

 

 

आत्महत्या, दुर्घटना या कुछ और पर से जाँच के बाद ही उठ सकेगा पर्दा!

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (ंसाई)। कोतवली से चंद कदम दूर स्थित प्राईवेट बस स्टैण्ड के बैनगंगा शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में अपरान्ह लगभग बारह बजे एक व्यक्ति के खून से लथपथ व्यक्ति को देखकर अफरा तफरी मच गयी। लोगों ने उक्त व्यक्ति को तत्काल जिला अस्पताल ले जाया गया, जहाँ चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

कोतवाली पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि बैनगंगा शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में रहने वाले नीलेश (51) पिता रमेश पटेल को खून से लथपथ हालत में दोपहर 12 बजे के लगभग देखा गया था। सूत्रों ने बताया कि उनका शरीर मुँह के बल पड़ा हुआ था। इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी थी।

सूत्रों ने बताया कि परिजनों के अनुसार नीलेश शराब के आदी थे। परिजनों ने संभावना व्यक्त की है कि छत पर उनका संतुलन बिगड़ा होगा और वे नीचे गिर गये। उनके गिरते ही उनके मुँह से काफी मात्रा में रक्त स्त्राव भी हुआ। संभवतः इसी के चलते उन्होंने दम तोड़ दिया।

सूत्रों ने बताया कि वे नीलेश तंबाखू का कारोबार करते थे। कुछ साल पहले उनके पुत्र का स्वास्थ्य भी एक सड़क दुर्घटना में खराब हो गया था। संभवतः वे पुत्र की बीमारी को लेकर भी व्यथित रहते थे। लोगों के द्वारा उन्हें इंदिरा गांधी जिला अस्पताल ले जाया गया जहाँ चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। सूत्रों ने बताया कि कुछ दिनों से वे डूण्डा सिवनी स्थित अपनी जमीन को बेचने का प्रयास भी कर रहे थे।

पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम कर विवेचना आरंभ कर दी है। नीलेश का शव परीक्षण कराया जाकर उनके शव को परिजनों को सौंप दिया गया है। नीलेश की मौत दुर्घटना के चलते हुई या यह आत्महत्या है इस बात पर से कुहासा पुलिस की जाँच के उपरांत ही हट सकेगा।

नीलेश के निधन की खबर जिस किसी ने भी सुनी वह अवाक ही रह गया। अपने मित्रों और परिचितों के बीच वे काफी लोकप्रिय रहे। पारिवारिक सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि नीलेश पटेल की अंतिम यात्रा रविवार को प्राईवेट बस स्टैण्ड स्थित शॉपिंग कॉम्प्लेक्स स्थित उनके निवास से दोपहर तीन बजे कटंगी रोड स्थित मोक्षधाम के लिये रवाना होगी।