सतना के मुकुंदपुर व्हाइट टाइगर सफारी एंड जू में रहेगी मादा बाघ शावक

 

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

जबलपुर (साई)। कान्हा टाइगर रिजर्व के मुक्की परिक्षेत्र के घोरिल्ला बीट में घायल हुआ छह माह का मादा बाघ शावक सतना के मुकुंदपुर स्थित व्हाइट टाइगर सफारी एंड जू में रहेगा। जबलपुर के वन्यजीव स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने शनिवार को शावक का स्वास्थ्य परीक्षण किया। सभी रिपोट्र्स पॉजीटिव आने पर उसे ऐसे स्थान पर रखने के निर्देश दिए गए, जहां उसके चलने-फिरने के लिए पर्याप्त जगह हो और वह सुरक्षित रहे। इसके बाद शावक को मुकुंदपुर टाइगर सफारी में शिफ्ट किया गया।

शावक को 30 अक्टूबर को रेस्क्यू कर शल्य क्रिया के लिए नानाजी देशमुख पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ वाइल्ड लाइफ फॉरेंसिक एंड हेल्थ सेंटर लाया गया था। शावक की जान खतरे में थी, इसलिए उसके पिछले बाएं पैर को शल्यक्रिया कर काट दिया गया। उसे ऑपरेशन के बाद ऑब्जर्वेशन के लिए यहीं रखा गया था।

विशेषज्ञों ने शावक के स्वास्थ्य की जांच की

वेटरनरी कॉलेज के सर्जरी विभाग के विशेषज्ञों ने शनिवार सुबह 11 बजे शावक के स्वास्थ्य की जांच की। अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक डॉ जेएस चौहान ने शावक को व्हाइट टाइगर सफारी में स्थानांतरित करने के निर्देश दिए। यह निर्णय इसलिए लिया गया कि वन्यजीव स्वास्थ्य एवं फॉरेंसिक केंद्र के विशेषज्ञ और टाइगर सफारी में पदस्थ चिकित्सक संयुक्त रूप से शावक के स्वास्थ्य परीक्षण के साथ उस पर नजर रख सकेंगे।