नवंबर में कड़ाके की सर्दी के आसार नहीं!

 

 

महा तूफान के चलते छाये रह सकते हैं बादल, हो सकती है बूंदाबांदी

(महेश रावलानी)

सिवनी (साई)। अरब सागर में बने शक्तिशाली तूफान महा का प्रदेश में असर दिखने लगा है। अरब सागर की तरफ से लगातार आ रही नमी से सिवनी सहित प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर बादल छा गये हैं। उधर बंगाल की खाड़ी में भी एक कम दबाव का क्षेत्र बन गया है। उसकी वजह से भी प्रदेश में नमी बढ़ रही है।

मौसम विभाग के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि फिलहाल जो पूर्वानुमान दिख रहा है उसके अनुसार एकाध सप्ताह तक इसी तरह के हालात बनते दिख रहे हैं। वर्तमान में चक्रवाती तूफान महा अरब सागर में गुजरात के तट से लगभग 500 किलो मीटर दूर है। इसके प्रभाव से प्रदेश में नमी आने का सिलसिला आरंभ हो गया है। इससे बादल छाने लगे हैं।

सूत्रों ने आगे बताया कि इस तूफान के 05 अक्टूबर को वापस पलटते हुए दक्षिण गुजरात के तट से टकराने की संभावना है। इसके प्रभाव से 07 या 08 अक्टूबर को प्रदेश में कहीं – कहीं तेज बौछारें पड़ने की संभावनाएं हैं। उधर बंगाल की खाड़ी में भी एक शक्तिशाली कम दबाव का क्षेत्र बन गया है। इसके प्रभाव से भी 07 व 08 नवंबर को प्रदेश में बरसात की संभावना बन रही है। यदि दोनों तरफ के सिस्टम से एक साथ ऊर्जा मिली, तो 07 व 08 नवंबर को प्रदेश में कई स्थानों पर भारी बरसात के हालात भी बन सकते हैं।

हवाओं ने बदला रुख, पारे ने मारी उछाल : सूत्रों ने आगे बताया कि मौसम के बदलते मिजाज़ के बीच हवाओं ने भी अपना रूख बदल लिया है। अब तक उत्तर से ठण्डी हवाएं आ रहीं थीं लेकिन अरब सागर की नमी से छाये बादलों के बीच उत्तरी हवाओं ने अपना रुख बदल लिया। अब दक्षिणी हवाएं 02 किलो मीटर प्रतिघण्टे से बहने लगीं हैं।

सूत्रों ने बताया कि हवाओं का रुख बदलने के कारण पारा भी उछल गया और रविवार को दिन भर बादलों की लुका छुपी के बीच ठण्ड का अहसास कम हुआ। सूत्रों ने बताया कि जिस तरह का पूर्वानुमान मिल रहा है उसके अनुसार नवंबर माह में दिन में अधिकतम तापमान 28 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच तो रात में न्यूनतम तापमान 18 से 20 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है।

वहीं सिवनी के स्थानीय तापमान के संबंध में अधिकृत जानकारी देते हुए भू अभिलेख से राकेश विश्वकर्मा ने बताया कि रविवार 03 नवंबर की शाम को पिछले चौबीस घण्टों में अधिकतम तामपान 31 डिग्री सेल्सियस तो न्यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि इस दिन सुबह के वक्त आद्रता जहाँ 91 थी तो शाम को यह घटकर 59 दर्ज की गयी है।