सीबीएसई ने जारी किया प्रैक्टिकल एग्जाम का शेड्यूल

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

नई दिल्ली (साई)। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 12वीं प्रायोगिक परीक्षा और 10वीं का प्रोजेक्ट और इंटरनल असेसमेंट 2020 एक जनवरी से सात फरवरी तक चलेगा। वहीं स्कील विषयों और वोकेशनल कोर्स की परीक्षा 15 फरवरी 2020 से शुरू होगी। सीबीएसई ने इसकी जानकारी तमाम स्कूलों को दे दी है।

ज्ञातव्य है कि इस बार प्रायोगिक परीक्षा की तिथि को 15 दिन कम कर दिया गया है। 2019 तक प्रायोगिक परीक्षा 15 जनवरी से 15 फरवरी तक चलता था। लेकिन बोर्ड परीक्षार्थी को सुविधा मिले, इसके लिए सात फरवरी को प्रायोगिक परीक्षा समाप्त कर दी जायेगी। प्रायोगिकि परीक्षा के लिए हर केंद्रों पर बोर्ड की तरफ से आर्ब्जवर नियुक्त किये जायेंगे।

जिस केंद्र पर जिस दिन परीक्षा होगी, इसकी जानकारी स्कूलों को देनी होगी। स्कूल के डेट शीट के अनुसार बोर्ड हर केंद्र पर आब्जर्वर नियुक्त करेंगा। आब्जर्वर के अलावा एक्सटर्नल भी रहेंगे। परीक्षा के बाद हर दिन अंक को अपलोड करनी है।

सेटेलाइट से होगी मॉनिटरिंग : प्रायोगिक परीक्षा पर बोर्ड इस बार सेटेलाइट से नजर रखेगा। इसके लिए एप बनाया गया है। इस एप को स्कूल को डाउनलोड करनी है। जिस दिन प्रायोगिक परीक्षा होगी। परीक्षा की जगह, तिथि, छात्रों की संख्या सारा कुछ सेटेलाइट से पता चल जायेगा। स्कूलों को प्रायोगिक परीक्षा का एक फोटोग्राफ, बैच, समय और छात्रों की संख्या बोर्ड एक एप का अपलोड करना होगा।

होम सेंटर पर ही होगी प्रायोगिक परीक्षा : स्कूल में प्रयोगशाला की स्थिति सही नहीं होने के कारण बोर्ड ने होम सेंटर समाप्त करने का फैसला खत्म कर दिया है। 2020 की प्रायोगिक परीक्षा होम सेंटर पर ही लिया जायेगा। लेकिन स्कूल फर्जी ना कर पाएं, इसके लिए पूरी नजर रखी जायेगी। हर छात्र को परीक्षा में शामिल होना होगा।

दो मार्च से मुख्य विषयों की परीक्षा : स्कील विषयों की परीक्षा 15 फरवरी से और मुख्य विषयों की परीक्षा दो मार्च से शुरू होगी। बोर्ड की मानें तो जिन विषयों में छात्रों की संख्या कम है, उनकी परीक्षा 15 फरवरी से शुरू की जायेगी। वहीं मुख्य विषयों की परीक्षा दो मार्च से होगी। मार्च के पहले सप्ताह से मूल्यांकन शुरू कर दिया जायेगा।