सड़कर कबाड़ में तब्दील हो गये कंटेनर!

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। भारतीय जनता पार्टी शासित नगर पालिका के द्वारा जनता के गाढ़े पसीने की कमाई से संचित राजस्व से खरीदे गये कचरे के कंटेनर कबाड़ में पड़े-पड़े सड़ते रहे, पर किसी ने इसकी सुध नहीं ली। पालिका के द्वारा भले ही डोर टू डोर कचरा एकत्र किया जा रहा हो पर इन कंटेनर्स की सुध लेने की फुर्सत किसी को नहीं दिखी।

नगर पालिका के उच्च पदस्थ सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि पालिका की सफाई व्यवस्था महज़ दिखावा बनकर रह गयी है। पालिका बड़े बजट से कचरा एकत्रित करने के लिये कंटेनर तो ले आयी लेकिन अभी तक सभी वार्डों में नहीं रखे गये, कुछ सालों तक पालिका के राजस्व कार्यालय के प्रांगण में आधा सैकड़ा कंटेनर पड़े पड़े सड़ते रहे और कबाड़ में तब्दील हो गये।

सूत्रों ने बताया कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 के लिये इन कंटेनर्स को तैयार कराया गया था। सर्वेक्षण दल के आने के पहले इन कंटेनर्स को जगह – जगह रखवाया गया और उसके बाद इन्हें हटवा दिया गया था। इसके बाद चुने हुए पार्षदों ने भी यह जानने का प्रयास नहीं किया कि ये कंटेनर्स कहाँ चले गये।

सूत्रों ने बताया कि इन खराब कंटेनर्स में से अनेक कंटेनर्स को रंग रोगन कराकर एक बार फिर खरीदा गया है। इन कंटेनर्स को इस साल के स्वच्छता सर्वेक्षण के दौरान जगह – जगह रखने का ताना बाना पालिका के द्वारा बुना जा रहा है।

इसके दूसरी ओर सफाई के लिये अन्य संसाधनों का उपयोग नहीं किया जा रहा है। इसका उदाहरण पालिका के पुराने फिल्टर स्थित स्टोर शाखा में देखा जा सकता है। कई वाहन खराब होने लगे हैं। इतना ही नहीं डालडा फेक्ट्री मार्ग पर भी लगभग आधा दर्जन कंटेनर पड़े-पड़े सड़े थे, जिनके अवशेष वहाँ आज भी दिखायी दे जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *