सरला हत्याकाण्ड में पुलिस ने पेश किया खात्मा

 

 

 

 

अदालत में पीडि़त पक्ष ने दर्ज कराई आपत्ति

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। वर्ष 1997 में हुए बहुचर्चित सरला मिश्रा हत्याकाण्ड के मामले में करीब 22 साल बाद बुधवार को टीटी नगर पुलिस ने जिला अदालत में खात्मा प्रतिवेदन पेश कर दिया। मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी विनोद पाटीदार की अदालत में टीटी नगर पुलिस ने खात्मा पेश किया।

टीटी नगर पुलिस ने खात्मा पेश करने की सूचना सरला मिश्रा के परिजनों को दी थी। सूचना पर सरला मिश्रा के भाई होशंगाबाद निवासी अनुराग मिश्रा बुधवार को अदालत में उपस्थित हुए। अनुराग ने पुलिस के खात्मा आवेदन पर लिखित आपत्ति दर्ज करायी।

इसमें बताया गया है कि मामले में अनुसंधान के लिए उच्च न्यायालय जबलपुर में रिट याचिका दायर है। इस पर 13 नवंबर को सुनवाई होना है। इसमें टीटी नगर थाना प्रभारी भी पक्षकार हैं। टीटी नगर थाना प्रभारी को पूरी जानकारी होने के बावजूद रिट याचिका के लंबित रहते पुलिस ने खात्मा प्रतिवेदन पेश किया है।

यह अवमानना की श्रेणी में है। 19 साल से अनुराग सूचना के अधिकार के तहत जानकारी मांग रहे हैं। पुलिस उन्हें लगातार गुमराह कर रही है। पुलिस ने महत्वपूर्ण गवाहों, परिजनों के बयान नहीं लिए है। मामलें में निष्पक्ष जांच किए बगैर खात्मा प्रतिवेदन पेश किया है। ऐसे में हाईकोर्ट में लगी रिट याचिका के चलते खात्मा मंजूर नहीं किया जाए।