प्रदेश में 9 फीसदी लोग डायबिटीज के शिकार

 

 

 

 

युवा तेजी से आ रहे चपेट में!

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। प्रदेश में डायबिटीज मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। प्रदेश के सरकारी अस्पतालों के गैर संचारी रोग (एनसीडी) में पिछले साल 3 लाख 34 लोगों की डायबिटीज की जांच की गई। इसमें 28 हजार डायबिटीज से पीड़ित मिले हैं। यानी 9 फीसदी लोग डायबिटीज की चपेट में हैं।

यह आंकड़ा केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा पिछले हफ्ते जारी नेशनल हेल्थ फ्रोफाइल में सामने आया है। प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में गैर संचारी रोग क्लीनिक शुरू किए गए हैं। अस्पताल में किसी भी बीमारी के इलाज के लिए आने वाले हर उम्र के मरीजों की यहां पर बीपी व शुगर की जांच की जाती है। जांच किए गए मरीजों में नौ फीसदी डायबिटीज व करीब 13 फीसदी हाई ब्लड प्रेशर के शिकार मिले हैं। 29 हजार मरीज ऐसे मिले हैं, जिन्हें बीपी व डायबिटीज दोनों था।

हमीदिया अस्पताल के इंडोक्रायनोलॉजिस्ट डॉ. मनुज शर्मा ने बताया कि 10 साल पहले 25 से 40 साल की उम्र वाले डायबिटीज के एक-दो फीसदी मरीज मिलते थे। अब शहरी आबादी 10 से 15 फीसदी और ग्रामीण आबादी में 8 से 10 फीसदी मरीज डायबिटीज के मिल रहे हैं। डॉ. शर्मा ने कहा डायबिटीज के इलाज के लिए डियोडोनल म्यूकोजल रिसर्फेसिंग (डीएमआर) तकनीक आ गई हैं। इसमें शुगर को नियंत्रित करने वाले हार्माेन में बनने लगते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *