जिला शिक्षा अधिकारी ने किया शालाओं का निरीक्षण

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिला शिक्षा अधिकारी जी.एस. बघेल ने शुक्रवार को धनौरा विकास खण्ड के अंतर्गत शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यायल सुनवारा, उत्कृष्ट विद्यालय धनौरा, शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय धनौरा सहित 02 आदिवासी छात्रावासों का निरीक्षण किया।

जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार जिला शिक्षा अधिकारी ने अनुपस्थित विद्यार्थियों की उपस्थिति बढ़ाने हेतु शाला के कर्मचारारियों बैठक लेकर हर दिन सुबह – शाम अनुपस्थित विद्यार्थियों के पालकों से संपर्क कर उपस्थिति बढ़ाने हेतु निर्देश दिये।

इसके साथ ही उन्होंने शाला में प्रायोगिक कार्य पुस्तकालय इत्यादि का भी निरीक्षण किया। उन्होंने सभी विद्यालयों के प्राचार्यों को निर्देश दिया कि शाला भवन के बराण्डे एवं आस – पास के वातावरण को शैक्षणिक गुणवत्ता से सुसज्जित कर परिपूर्ण किया जाये। इसी दौरान एपीसी आरएमएसए द्वारा भी शासकीय हाई स्कूल डूण्डा सिवनी एवं बींझावाड़ा का औचक निरीक्षण किया गया।

शासकीय हाई स्कूल डूण्डा सिवनी की शिक्षिका श्रीमति अनिशा बी द्वारा परीक्षा परीणाम उन्नयन हेतु अनूठी पहल करते हुए कहा गया कि शासकीय हाई स्कूल डूण्डा सिवनी के कक्षा दसवीं के जो भी विद्यार्थी 80 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करंेगे उन्हें शिक्षिका के द्वारा 5000 – 5000 रूपये का नगद पुरूस्कार दिया जायेगा।

जिला शिक्षा अधिकारी ने जिले के समस्त शासकीय हाई स्कूल एवं उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्राचार्यों से अपेक्षा व्यक्त की है कि वे जिले में बोर्ड परीक्षा हेतु निर्धारित किये गये लक्ष्य 80 प्रतिशत से अधिक प्राप्त करने हेतु अधिक से अधिक प्रयास करें ताकि जिले के परीक्षा परिणाम में उत्तरोत्तर वृद्धि हो सके।