तारीख लिखते समय करें न करें यह गलती वरना..

 

2020 में तारीख लिखने में गलती की तो फंसेंगे भारी मुसीबत में

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। इस साल की पहली वित्तीय सीख यही है कि आवश्यक वित्तीय दस्तावेजों तथा चैक वगैरह में अगर तारीख लिखनी है तो उसे तारीख, महीना और साल (साल के चार अंक पूरे) के रूप में ही लिखें न कि तारीख महीना और साल के अंतिम दो अंक के रूप में। इसका कारण यह है कि ऐसा नहीं करने पर आपके साथ फर्जीवाड़े की संभावना बेहद बढ़ जाती है।

विधिवेत्ता वीरेंद्र सोनकेशरिया ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया से चर्चा के दौरान कहा कि अगर आपको किसी वित्तीय दस्तावेज में तारीख लिखनी है तो उसे 31 / 01 /20 लिखने की बजाय 31 / 01/ 2020 लिखें। इसका कारण यह है कि कोई भी व्यक्ति तारीख में बदलाव कर सकता है और उसे बदलकर 31 / 01/ 2000 या 31 / 01 /2019 कर सकता है।

वरिष्ठ अधिवक्ता प्रदीप बैस का कहना था कि यदि आपको अपने वित्तीय दस्तावेजों में तारीख, महीना और साल (साल के चार अंक पूरे) रूप में ही लिखना है न कि तारीख, महीना एवं साल के दो अंक रूप में, क्योंकि फर्जीवाड़ा करने वाले लोग दस्तावेज में साल के दो अंक को आसानी से बदलकर आपको धोखा दे सकते हैं। वित्तीय आंकड़े बेहद संवेदनशील होते हैं और उनके अक्सर दुरुपयोग की संभावना होती है। साल को लिखने के सही तरीके को अपनाकर आप इससे जुड़े किसी भी तरह के संभावित फर्जीवाडे़ से बच सकते हैं।

वरिष्ठ अधिवक्ता वीरेंद्र शर्मा का कहना है कि साल 2020 में पिछले सालों की तरह अंत के दो अंक 18, 19 आदि लिखना ठीक नहीं होगा। चूँकि यह साल 2020 है इसलिये अगर आप अंतिम दो अंक 20 का प्रयोग करते हैं तो इसके आगे दो अंक लिखकर कोई भी आपके दस्तावेज, धनादेश आदि में कूटरचना कर सकता है।

ऑफलाईन केवाईसी डॉक्युमेंट : अपने उपभोक्ता को पहचाने (केवायसी) डॉक्युमेंट एक बेहद आवश्यक वित्तीय दस्तावेज है। मौजूदा समय में बैंक एकाउंट खोलने, म्यूचुअल फण्ड में निवेश करने, इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने, मोबाईल फोन कनेक्शन लेने, मोबाईल वॉलेट में साइन अप करने के लिये केवाई की आवश्यकता होती है। इसका फॉर्म तो बेहद साधारण होता है, लेकिन इसे जल्दबाजी में भरने की बजाय तसल्ली पूर्वक भरें खासकर इसकी जारी होने की तारीख। अगर डेट लिखने में आप सावधानी बरतते हैं तो आप बैक – डेटेड फ्राउडुलेंट ट्रांजेक्शंस जैसी बड़ी मुसीबत से बच सकते हैं।

चैक, ड्राफ्ट एवं अन्य वित्तीय दस्तावेज : चैक, ड्राफ्ट, पे ऑर्डर्स, बैंकर्स चैक की मान्यता सामान्यतया महज़ तीन महीने की होती है, इसलिये चैक पर सही ईयर चार अंकों में लिखना आवश्यक है। ऐसा नहीं होने पर आपका चैक अमान्य हो जायेगा। क्योंकि अगर आपने साल दो अंकों के रूप में लिखा है तो हो सकता है कि कोई परेशान करने के लिये उसके पीछे कोई दो और अंक लगा दे, जिससे आपका चैक अमान्य हो सकता है। जैसे अगर आपने चैक की डेट लिखी है 02 / 01/ 20 तो कोई इसे बदलकर 02 / 01/ 2019 या 02/ 01 /2021 कर सकता है और दोनों ही परिस्थितियों में आपकी दुश्वारियां बढ़ सकती हैं।

नोटराइज्ड लीगल डॉक्युमेंट्स : आप रेंट अग्रीमेंट बनवा रहे हैं और अगर उसमें नोटरी ऑफिसर ने तारीख 01 /01 /20 से 01 / 11/ 20 लिखा है। यह रेंट एग्रीमेंट मूलतः 11 महीने के लिये है, लेकिन इस एग्रीमेंट की तारीख के साल में दो अंक जोड़कर इसे आसानी से गलत साल का दिखाया जा सकता है। ऐसी स्थिति में आप मुसीबत में पड़ सकते हैं। इसलिये आप इसे नोटरी से लेते वक्त ही चैक कर लें।