बर्खास्त सिपाही की अवैध बहुमंजिला इमारत जमींदोज

 

(ब्यूरो कार्यालय)

जबलपुर (साई)। विकास नगर मानेगांव में अवैध रूप से बनाए गए तीन मंजिला कमर्शियल कॉम्प्लेक्स को शनिवार को माफिया दमन दल की कार्रवाई में गिरा दिया गया। रात दो बजे तक चली कार्रवाई।

नगर निगम की अनुमति एवं टीएंडसीपी से नक्शा पास कराए बगैर तैयार किए इस कॉम्प्लेक्स में करीब छह दुकानें संचालित थीं। ढाई हजार वर्गफीट से ज्यादा क्षेत्रफल में बने इस अवैध निर्माण को हिताची एवं जेसीबी मशीन से तोड़ दिया गया। शनिवार की दोपहर में शुरू हुई इस कार्रवाई से आसपास के दूसरे माफियाओं में भी दहशत फैल गई।

यह अवैध निर्माण बिल्डर और बर्खास्त आरक्षक चंद्रप्रकाश दुबे का है। जिला प्रशासन, नगर निगम एवं पुलिस की ओर से दोपहर को शुरू की गई इस संयुक्त कार्यवाही में पहले सभी दुकानों को खाली कराया गया। ऊपरी मंजिल में लोग भी रह रहे थे। नगर निगम के उपायुक्त राकेश अयाची ने बताया कि कमर्शियल कॉम्प्लेक्स के निर्माण की अनुमति नगर निगम से नहीं ली गई थी। बिल्डर चन्द्र प्रकाश दुबे की ओर से बनाए गए इस व्यावसायिक भवन का निर्माण ढाई हजार वर्गफीट भूमि पर था।

उपायुक्त के अनुसार बिल्डर के द्वारा न तो पार्किंग के लिए स्थान छोड़ा गया था और न ही इसमें किसी भी तरफ खुली भूमि छोड़ी गई थी जिसे छोड़ा जाना टीएंडसीपी की शर्तों के अनुसार जरूरी होता है। इसका नक्शा भी पास नहीं कराया गया। इसकी शिकायत लंबे समय से की जा रही थी। इस कॉम्प्लेक्स में एक फोटो स्टूडियो, सैलून एवं एक कोचिंग क्लास संचालित की जा रही थी। कार्यवाही के पहले बिल्डर चन्द्र प्रकाश दुबे को नोटिस भेजा गया था लेकिन उन्होंने इसका कोई जवाब नहीं दिया।

रिकॉर्ड में सिर्फ 825 वर्गफीट

कमर्शियल कॉम्प्लेक्स जिस भूमि पर बनाया था राजस्व अभिलेखों में वहां केवल 825 वर्गफीट जमीन सरिता दुबे के नाम पर दर्ज बताई गई है। कॉम्प्लेक्स को ध्वस्त करने की कार्यवाही शुरू करने के पहले इसमें रह रहे किराएदार तथा स्टूडियो एवं कोचिंग क्लास के संचालकों को अपना सामान निकालने का मौका दिया गया था।

मशीन बिगड़ी, फिर चालू

इस कार्रवाई में दो जेसीबी और एक हिताची मशीन क उपयोग किया गया लेकिन जब यह कार्रवाई चल रही थी तभी हिताची मशीन खराब हो गई। इससे कार्रवाई काफी देर तक रुकी रही। फिर मैकेनिक को बुलाकर उसमें सुधार कराया गया। फिर रात तक कमर्शियल काम्प्लेक्स को गिराने का काम चला।

सहायक आयुक्त का आरोप बिल्डर ने कहा गोली मार दूंगा

विकासनगर मानेगांव में कार्रवाई के दौरान सहायक आयुक्त वेदप्रकाश चौधरी ने आरोप लगाया कि बिल्डर चंद्रप्रकाश दुबे कार्रवाई के विरोध में मौके पर गाली-गलौज कर रहा था। उसने जान से मारने की धमकी दी। ये मामला शनिवार को कार्रवाई के दौरान शाम करीब छह बजे सामने आया। चौधरी ने बताया कि बिल्डर दुबे को अपशब्दों से रोका गया, तो वह मारपीट पर उतारू हो गया। इस दौरान उसने गोली मारने की धमकी दी। निगम एवं प्रशासन के अधिकारियों ने सहायक आयुक्त को वहां से अलग किया। हालांकि, इसकी शिकायत अभी थाने में नहीं की गई।