विश्व के अदभुत वाटरफॉल्स

 

हमने अपनी एक पिछली पोस्ट में आपको दुनिया भर 20 खुबसूरत वाटरफाल्स (झरनों) के बारे में बताया था। आज हम आपको दुनियाभर के कुछ ऐसे झरनों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो अपने अनोखेपन की वजह से लोगों को पसंद आते हैं। इनमें से किसी से आग निकलने का आभास होता है तो किसी से खून। कोई हजारों फीट की ऊंचाई से गिरता है तो कोई समुद्र के अंदर।

हॉर्सटेल फॉल, कैलिफोर्निया

यह झरना 1560 फीट ऊंचे कैप्टन माउंटेन से गिरता है। विंटर और स्प्रिंग सीजन में इसका बहाव तेज हो जाता है। फरवरी के आखिरी दो हफ्ते में यह झरना रंग बदल लेता है। यह हॉर्सटेल फॉल से फायर फॉल में बदल जाता है। जैसे ही रात होती है यह झरना लाल रंग का हो जाता है। इसको देखकर ऐसा लगता है जैसे इससे आग की लपटें निकल रही हैं।

कैमरॉन फॉल्स, कनाडा

कैमरॉन फॉल कनाडा के अल्बर्टा में है। अगर आप जून में इस झरने को देखने जाते हैं तो यह पिंक कलर में मिलेगा। इसकी वजह एक विशेष प्रकार का पदार्थ एग्रीलाइट है, जो पानी में मिल जाता है। ऐसे में जब सूरज की रोशनी इस पर पड़ती है तो यह पिंक रंग का दिखाई देता है।

ब्लड फॉल, अंटार्कटिका

अंटार्कटिका की ड्राई वैली में यह 5 स्टोरी बिल्डिंग जितना बड़ा रेड वाटरफॉल है, जिसे देखकर लगता है मानो इसमें खून बह रहा हो। दरअसल, इस फॉल के पानी के लाल होने की वजह आॅक्सीजन, आइस और आयरन का केमिकल रिएक्शन है। इसे ब्लड फॉल के नाम से भी जाना जाता है।

पामुकक्ले वाटरफॉल, तुर्की

तुर्की में पामुकक्ले का मतलब रूई का महल होता है। यह तुर्की के साउथ-वेस्ट में स्थित है। 1970 में इसे न्छम्ैब्व् ने वर्ल्ड हेरिटेज साइट पर जगह दी थी। यह झरना 8860 फीट लंबा, 1970 फीट चौड़ा और 525 ऊंचा है। यह कार्बाेनेट मिनरल्स के कारण बनने वाली टेरेस के कारण फेमस है। इसमें चट्टानों के ऊपर एक टेरेस बन जाती है। अपने औषधीय गुणों और गर्म पानी की वजह से यह जगह सदियों से बाथिंग स्पॉट के रूप में प्रसिद्ध है।

डेविल केटल फॉल्स, ग्रांड मेरिस

यह झरना लेक सुपीरियर झील के उत्तरी किनारे पर स्थित है। यह वाटरफॉल एक तरफ से नदी में गिरता है तो दूसरी तरफ यह पहाड़ के अंदर चला जाता है। किसी को नहीं पाता यह पानी कहां जाता है। रिसर्च इसका पता लगाने में लगे हैं लेकिन आज तक इसका पता नहीं चल पाया है।

रूबी फॉल्स, टेनेसी

यह वाटरफॉल अमेरिका का सबसे गहरा वाटरफॉल माना जाता है। हर साल यहां 4 लाख से अधिक विजिटर्स आते हैं। यह सुरंग की तरह दिखाई देता है। इस 145 फीट के वाटर फॉल का नाम रूबी लेमबर्ट इसकी खोज करने वाली महिला के नाम पर पड़ा है। इसके पानी में अधिक मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है।

फॉग वाटरफॉल, आइसलैंड

फॉग वाटरफॉल चट्टानों के बीच से बहता है। इसकी फोटोज 2015 में आइस कलैंडर के लिए ली गई थी। इन फोटोज में इस झरने के चारों ओर फॉग नजर आ रहा है। ऐसा माना जाता है कि ऐसे फॉग का बनना टेम्परेचर इनवर्जन के कारण होता है।

होरिजोन्टल फॉल्स, आॅस्ट्रेलिया

दुनिया में सिर्फ दो होरिजोन्टल वाटर फॉल्स हैं। दोनों ही वेस्टर्न आॅस्ट्रेलिया में स्थित हैं। पहाड़ों के बीच इस वाटरफॉल में पानी हवा के तेज बहाव से आगे बढ़ता है। इससे वाटरफॉल्स की हाइट 5 मीटर बढ़ जाती है।

बिगार वाटरफॉल, रोमानिया

रोमानिया में स्थित इस झरने का कोई विशेष फ्लो या साइज नहीं है। लेकिन इसका शेप और लोकेशन अनोखा है। यह चट्टान और दलदल से घिरा हुआ है। झरना भूमध्य रेखा और उत्तरी ध्रुव के बीच 45 समानांतर में स्थित है। यह दुनिया के सबसे अनूठे झरने में से एक है।

अंडरवाटर वाटरफॉल, मॉरिशस

पानी के अंदर झरना होना संभव नहीं है। लेकिन मॉरिशस के तट के निकट हिन्द महासागर में ऐसा वाटरफॉल होने का अहसास होता है। यह बालू और गाद की वजह से होता है। यह झरना काफी गहराई में नजर आता है।

(साई फीचर्स)