सरकार ने बढ़ाया मंत्रियों का स्वेच्छानुदान

 

अब मंत्री एक करोड़ तक कर सकेंगे मदद

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। मंत्रियों की मांग पर राज्य सरकार ने स्वेच्छानुदान की राशि बढ़ा दी है। अब कैबिनेट मंत्री एक करोड़ रुपए और राज्यमंत्री 60 लाख रुपए तक खर्च कर सकेंगे। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग ने गुरुवार को आदेश जारी कर दिए हैं।

जनहितैषी कार्यों में खर्च की जाती है स्वेच्छानुदान की राशि : उल्लेैखनीय है कि स्वेजच्छा्नुदान की राशि जनहितैषी कार्यों में खर्च की जाती है। बताया जाता है कि यह राशि कम पड़ रही थी, जिसे लेकर मंत्री लंबे समय से स्वेच्छानुदान मद में राशि बढ़ाने की मांग कर रहे थे।इसके बाद यह निर्णय लिया गया है।

मंत्रियों की मांग पूरी करते हुए राशि 50 लाख से बढ़ाकर एक करोड़ रुपए कर दी : प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछली चार जनवरी को कमलनाथ कैबिनेट ने मंत्रियों की मांग पूरी करते हुए राशि 50 लाख से बढ़ाकर एक करोड़ रुपए कर दी। इसके साथ ही मध्यन प्रदेश में राज्य मंत्रियों की राशि 35 लाख से बढ़ाकर 60 लाख रुपए कर दी है। ज्ञात हो कि वर्तमान में मध्यत प्रदेश में 28 कैबिनेट मंत्री हैं।

विधान सभा अध्यक्ष को दो करोड़ के अधिकार : जानकारी के अनुसार इस निर्णय के बाद अब कमल नाथ सरकार विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की स्वेच्छानुदान राशि में भी बढ़ोतरी करने जा रही है।

अध्यक्ष का स्वेच्छानुदान 50 लाख रुपए से बढ़ाकर दो करोड़ रुपए और उपाध्यक्ष का एक करोड़ रुपए किया जाना है। इस प्रस्ताव पर सैद्धांतिक सहमति बन चुकी है। अब संसदीय कार्य विभाग कैबिनेट में प्रस्ताव लाएगा।