अंकुरित होकर सड़ने लगा है सैकड़ों क्विंटल मक्का और धान

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। नया साल किसानों के लिये मुसीबत लेकर आया है। साल के पहले ही दिन ओलावृष्टि व तेज बारिश से फसलों के साथ खरीदी केंद्रों में रखी धान व मण्डी में रखा मक्का सुरक्षा के साधन नहीं होने से भीगकर बर्बाद होने की कगार पर आ गया है। तमाम स्थ्तियों की जानकारी होने के बाद भी प्रशासन ठोस कदम नहीं उठा रहा है।

इस आशय की बात प्राकृतिक आपदा व केंद्रों में सुरक्षा को लेकर बरती गयी लापरवाहियों से त्रस्त किसानों ने व्यक्त की हैं। उनका कहना है कि मण्डी में समय पर खरीदी नहीं होने व सुरक्षा के इंतजाम ना होने से मक्का अंकुरित हो गया है। खरीदी केंद्रों में रखी धान भी अंकुरित होने के साथ काली होने के कारण सड़ने की कगार पर आ गयी है।

कुछ ही ढेरों में हो रही बोली : जिला मुख्यालय से महज़ 06 किलो मीटर दूर कृषि उपज मण्डी सिमरिया में मक्का लेकर आये किसान सुरजीत जंघेला, हरिराम डहेरिया, छोटेलाल बघेल, दिनेश उईके व नीरज यादव सहित अन्य किसानों ने बताया है कि बारिश की वजह से मण्डी परिसर में कीचड़ व दलदल जैसी स्थिति बन गयी है। इसी कीचड़ के बीच किसानों के मक्के के ढेर लगे हुए हैं।

व्यापारी मण्डी परिसर में सामने की ओर रखे मक्के के ढेरों की बोली लगा रहे हैं। अधिकांश व्यापारियों का कहना है कि मण्डी परिसर के अंदर कीचड़ के बीच रखे मक्के को यदि वे खरीदेंगे तो वहाँ तक ट्रक नहीं पहुँच पायेगा। व्यापारी किसानों से रोड के पास तक मक्के के ढेर लगाने की बात कहकर इसे खरीदने का आश्वासन दे रहे हैं।

मण्डी परिसर में फैली दुर्गंध : बेमौसम बारिश से भीगा मक्का अंकुरित होने व सड़ने की कगार पर आने की वजह से मण्डी परिसर में दुर्गंध फैलने लगी है। यहाँ मक्का लेकर आये किसान पुसेरा निवासी मुकेश सकर लाल ने बताया है कि बेमौसम बारिश व समय पर मक्का नहीं बिक पाने के कारण काफी नुकसान हुआ है। तकरीबन आठ से नौ क्विंटल मक्का अंकुरित होकर सड़ने की कगार पर आ गया है, फिर भी इस ओर मण्डी व जिला प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा है।

दिया है नोटिस : मण्डी परिसर की रोड, शेड में कई दिनों से रखे व्यापारियों के मक्के के कारण हो रही परेशानी की शिकायत पर कुछ व्यापारियों को नोटिस दिया गया है। मण्डी निरीक्षक टेक चंद घुवारे ने बताया है कि व्यापारियों को नोटिस देकर अपना मक्का मण्डी परिसर से उठाने कहा गया है। इस पर कुछ व्यापारियों ने मक्के का उठाव आरंभ कर दिया है।