जीएन रोड पर लगने वाले जाम से मिल सकेगी मुक्ति

 

0 चिल्लहर सब्जी मण्डी . . . 02

थोक सब्जी मण्डी का शुरूआत में हुआ था विरोध, अब सब कुछ है सामान्य

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। बुधवारी स्थित फुटकर सब्जी मण्डी, मटन और मछली मार्केट को अगर यहाँ से हटा दिया जाता है तो शंकर मढ़िया के आसपास जीएन रोड पर लगने वाले जाम से मुक्ति मिल सकती है। इस आशय की बात नागरिकों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया से चर्चा के दौरान कही।

पेशे से शिक्षक मनोज राव भोसले ने बताया कि बुधवारी बाज़ार की सब्जी मण्डी अब आबादी के हिसाब से काफी छोटी पड़ने लगी है। किसी भी जिलाधिकारी के द्वारा इस दिशा में कभी विचार नहीं किया गया है। और तो और नगर पालिका परिषद के द्वारा भी इस समस्या पर कोई कदम नहीं उठाये गये हैं। अब समय आ गया है कि सब्जी मण्डी को यहाँ से कहीं ओर ले जाया जाना चाहिये।

व्यवसायी विपिन सिंह राजपूत का कहना था कि मटन मछली मार्केट के लिये तीन साल पहले हड्डी गोदाम क्षेत्र में एक परिसर बनाया गया था, पता नहीं क्यों प्रशासन के द्वारा मटन मछली मार्केट को इस स्थान पर नहीं ले जाया जा रहा है। अगर इसे नये परिसर में ले जाया जाता है तो बुधवारी एवं आसपास होने वाली गंदगी से निज़ात मिल सकेगी।

रहवासी सादिक खान ने कहा कि थोक सब्जी मण्डी को स्थानांतरित करने के दौरान इसका विरोध हुआ था। आज सब कुछ सामान्य हो गया है। इसी तरह अगर चिल्लहर सब्जी मण्डी को गंज स्थित पुरानी कृषि उपज मण्डी में ले जाया जाता है तो सड़कों पर बैठकर सब्जी बेचने वालों से निज़ात मिलेगी, जिससे यातायात जाम से भी मुक्ति मिल सकती है।

ठेकेदार करीम खान का कहना है कि बुधवारी बाज़ार में मटन और मछली मार्केट सहित सब्जी मण्डी के लिये प्रशासन को स्थान नियत किये जाने चाहिये और अगर स्थान नियत हैं तो इन्हें अविलंब वहाँ स्थानांतरित करने की कार्यवाही की जाना चाहिये। अब समय आ गया है कि लोग शहर और बाज़ार के विस्तारीकरण की दिशा में सोचें।

शिक्षक रूपेश मसीह ने कहा कि अब बारापत्थर, भैरोगंज, डूण्डा सिवनी जैसे विकसित हो चुके क्षेत्रों में भी बाज़ार विकसित किये जाने की कार्ययोजना पर प्रशासन को विचार करना चाहिये। जिस तरह महानगरों में अनेक क्षेत्रों के अपने – अपने बाज़ार होते हैं, उसी तर्ज पर सिवनी में भी प्रयास किये जाने चाहिये।