रामकथा के चौथे दिन मनाया गया राम जन्मोत्स्व

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

छपारा (साई)। नगर के बैनगंगा तट स्थित मैदान पर चल रही श्रीराम कथा के चौथे दिन शनिवार को श्रीराम कथा में भगवान राम के चरित्र का वर्णन करते हुए श्रीराम जन्मोत्सव मनाया गया।

श्री राम कथा में उक्त प्रसंग का वर्णन कथा वाचिका साक्षी देवी ने सुनाया। श्री राम कथा में श्री राम प्रकटोत्सव मनाया गया। इस दौरान संपूर्ण प्रांगण, श्री राम के जयकारों से गुंजायमान हो उठा। कथा वाचक साक्षी देवी ने भक्तों को श्रीराम की बाल लीलाओं का वर्णन अत्यंत कर्णप्रिय तरीके से किया कि कथा सुनने वाले मंत्रमुग्ध होकर सुनते रहे।

उन्होंने नारद मोह प्रसंग से अवगत कराते हुए नारद और श्री हरि के बीच होने वाले वार्तालाप का अत्यंत रोचक प्रसंग सुनाया। साथ ही उन्होंने मनु प्रसंग और प्रताप भानु प्रसंग की जानकारी भी भक्तों को दी। इसके उपरांत उन्होंने भगवान राम के जन्म से जुड़ी कथा का विस्तार से वर्णन किया।

उन्होंने बताया कि किस तरह से महाराज दशरथ के यहाँ महारानी कौशल्या, केकैयी और सुमित्रा को पुत्र योग का संयोग बना। भगवान राम के जन्म के बाद अयोध्या में हर तरफ खुशियां मनायी गयीं। भगवान श्री राम के जन्म पर राजा दशरथ संपूर्ण नगर में बधाईयों का वितरण कर मिठाई बंटवाते हैं। नगर में प्रत्येक घर में बधाई गीत का गायन किया गया।

इस अवसर पर जय श्री राम के जयकारों के बीच विशेष प्रसाद का वितरण किया गया। नगर के वंशकार समाज द्वारा हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी बैनगंगा तट पर पहले भागवत कथा का आयोजन सार्वजनिक रूप से किया जाता रहा और इस वर्ष से श्री राम कथा का आयोजन कराया जा रहा है। 09 दिनों तक चलने वाली कथा में प्रतिदिन कथा सुनने के लिये बड़ी संख्या में महिला – पुरूष पहुँच रहे हैं।

 

One thought on “रामकथा के चौथे दिन मनाया गया राम जन्मोत्स्व

  1. Pingback: cbd for anxiety

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *