गैस कटर से ATM काटकर जिले में चोरी की पहली घटना!

 

गंगा नगर इलाके में एटीएम काटकर 08 लाख 78 हजार किये पार

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। रविवार और सोमवार की दरमियानी रात लगभग डेढ़ बजे अज्ञात चोरों ने शहर के गंगा नगर स्थित भारतीय स्टेट बैंक के एटीएम को गैस कटर से काटकर आठ लाख 78 हजार रूपये पार कर दिये। घटना को अंजाम देने के बाद गैस, ऑक्सीजन सिलेण्डर एवं अन्य सामान मौके पर ही छोड़कर चोर फरार हो गये।

कोतवाली पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि छिंदवाड़ा रोड पर गंगा नगर में संजय बघेल के निवास पर भारतीय स्टेट बैंक का एटीएम लगभग पाँच वर्षों से संचालित हो रहा है। बीति रात अज्ञात चोरों जिनकी संख्या चार (जो ज्यादा भी हो सकती है) के द्वारा इस वारदात को अंजाम दिया गया।

सूत्रों ने बताया कि स्कॉर्पियो वाहन में सवार होकर आये चोरों में से तीन चोर मुँह पर कपड़ा बांधकर एटीएम के अंदर पहुँचे और गैस कटर की मदद से एटीएम को काट दिया। देर रात घटी इस घटना के समय एटीएम में गार्ड का न होना भी संदेहास्पद ही प्रतीत हो रहा है।

सूत्रों की मानें तो सुबह जब इस बात की जानकारी कोतवाली पुलिस को लगी तब कातवाली पुलिस मौके पर पहुँची। इस मामले में गठित संपत्ति स्क्वॅड के प्रभारी अमित विलास दाणी भी दोपहर में मौके पर जा पहुँचे। इसके बाद पुलिस के द्वारा सीसीटीवी फुटेज खंगालना आरंभ किया गया।
सूत्रों ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में तीन लोग एटीएम के अंदर घुसकर वारदात करते प्रतीत हो रहे थे। इस एटीएम में शुक्रवार 10 जनवरी को 22 लाख रूपये कैश लोड किया गया था। पुलिस के द्वारा रात को उस लोकेशन पर एक्टिव मोबाईल की जानकारी भी एकत्र की जा रही है।

सूत्रों की मानें तो इसके बाद शहर में प्रवेश द्वारों पर लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले गये। इसमें संदिग्ध स्कॉर्पियो छिंदवाड़ा रोड बायपास के नीचे से शहर की ओर आती दिख रही है, इससे यह अंदाज़ा लगाना मुश्किल है कि संदिग्ध वाहन छिंदवाड़ा की ओर से आया था या बायपास से उतरकर सिवनी की ओर आया था।

सूत्रों ने बताया कि इसके साथ ही पुलिस ने घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों को भी खंगालना आरंभ किया है। सूत्रों ने इस बात के संकेत भी दिये हैं कि शुरूआती तफ्तीश में पुलिस के हाथ कुछ सुराग लगे हैं, जिनके आधार पर पुलिस का दल नागपुर रवाना किया गया है।

सूत्रों ने यह भी बताया कि इस मामले में कोतवाली पुलिस के साथ ही साथ केवलारी, कुरई, बरघाट, कान्हीवाड़ा आदि के थाना प्रभारी को भी लगाया गया है। इसके साथ ही साथ पुलिस की सायबर सेल की मदद भी ली जा रही है। पुलिस के हाथ लगे सुरागों के आधार पर तफ्तीश को आगे बढ़ाया जा रहा है। सूत्रों ने इस बात के संकेत भी दिये कि पुलिस को सिवनी में मिले सुरागों के बाद नागपुर में उन सुरागों की पुष्टि होती भी दिखी है।

सूत्रों के अनुसार नियमानुसार जिले भर के सभी एटीएम में सुरक्षा कर्मी मौजूद रहना चाहिये। जिस बैंक के एटीएम हैं, यह उस बैंक की जवाबदेही है कि वे एटीएम में गार्ड की व्यवस्था करने के साथ ही साथ समय – समय पर इसका औचक निरीक्षण करते हुए इसकी सुरक्षा की जाँच अवश्य करें।

सूत्रों ने यह भी कहा कि रविवार एवं सोमवार की दरमियानी रात पुलिस की गश्त, नाईट अफसर, ब्रेकर स्क्वॅड, डायल 100 आदि पर इन पंक्तियों के लिखे जाने तक पुलिस विभाग के द्वारा किसी तरह की कार्यवाही नहीं की गयी है, क्योंकि इस पूरी घटना को अंजाम देने में चोरों को काफी समय लगा और घटना स्थल मुख्य मार्ग पर होने के बाद भी वहाँ से रात के समय पुलिस की गश्त न होना भी अपने आप में सवालिया निशान ही खड़े करता दिख रहा है।

यहाँ यह उल्लेखनीय होगा कि सिवनी में एटीएम को गैस कटर से काटकर चोरी करने की यह पहली घटना प्रकाश में आयी है। इस तरह की घटना से यही प्रतीत हो रहा है कि अन्य शहरों और प्रदेशों के जरायमपेशा लोगों की नज़रों में अब सिवनी सॉफ्ट टारगेट के रूप में उभरता दिख रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *