चारों दिशाओं में स्थापित होना चाहिये सब्जी मण्डियां

 

0 चिल्लहर सब्जी मण्डी . . . 05

शहर विस्तारीकरण को देखते हुए उठने लगी माँग, जनप्रतिनिधियों को देना होगा ध्यान

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। थोक सब्जी मण्डी को स्थानांतरित किये जाने के बाद अब चिल्लहर सब्जी मण्डी को लेकर लोगों में चर्चाओं के दौर आरंभ हो चुके हैं। शहर के अधिकांश लोगों का मानना है कि बुधवारी बाज़ार में स्थित सब्जी मण्डी अब आबादी के हिसाब से छोटी पड़ने लगी है इसलिये इसे यहाँ से स्थानांतरित करना आवश्यक है।

बस स्टैण्ड, बुधवारी से लेकर कटंगी नाका और छिंदवाड़ा नाका के निवासियों का मानना है कि इस सब्जी मण्डी को अगर गंज स्थित पुरानी गल्ला मण्डी के परिसर में ले जाया जाता है तो शंकर मढ़िया के आसपास सड़क पर लगने वाले यातायात जाम के साथ ही साथ बुधवारी बाज़ार में होने वाली गंदगी को रोका जा सकता है।

यहाँ यह उल्लेखनीय होगा कि बुधवारी तालाब के पानी के प्रदूषित होने का सबसे बड़ा कारण सब्जी मण्डी, मटन एवं मछली मार्केट की गंदगी का यहाँ फेंका जाना है। इससे आवारा मवेशी, सूअर, कुत्ते आदि भी बुधवारी तालाब के आसपास चौबीसों घण्टे मण्डराते दिखते हैं।

वहीं, शुक्रवारी के आसपास के क्षेत्रों के निवासियों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया से चर्चा के दौरान कहा कि अगर सब्जी मण्डी गंज स्थानांतरित की जाती है तो काली चौक, दीवान महल, गणेश चौक से बरघाट रोड आदि के रहवासियों को सब्जी खरीदने जाने में दूरी बाधा बन सकती है। इसलिये बरघाट नाका से डूण्डा सिवनी के बीच सरकारी जमीन पर एक सब्जी मण्डी की स्थापना करवायी जा सकती है।

इसी तरह कर्वे कॉलोनी, भैरोगंज, सिंधी कॉलोनी, स्टेडियम के पीछे वाले भाग में रहने वालों का मानना है कि गंज की सब्जी मण्डी उनके लिये काफी दूर हो जायेगी। वैसे भी हर जगह शहर विस्तारीकरण की बात चल रही है पर सिवनी मे शहर विस्तारीकरण के बारे में नेता सोच भी नहीं रहे हैं। बेहतर होगा कि सोमवारी चौराहे से डिग्री कॉलेज़ के आसपास या फुटबाल स्टेडियम के आसपास अगर एक सब्जी मण्डी का निर्माण करवा दिया जाये तो ज्यारत नाका, एकता कॉलोनी के निवासियों को यह मुफीद होगा।

इसके साथ ही साथ बारापत्थर, बाबूजी नगर, आर्चीपुरम, जंगल अहाता आदि क्षेत्रों के निवासियों की माँग है कि पॉलीटेक्निक कॉलेज़ के समीप अथवा पुरानी लोहा फैक्ट्री (क्रिसेंट एलायंस) के आसपास सरकारी भूमि पर अगर एक सब्जी मण्डी की स्थापना करवा दी जाये तो यह यहाँ के निवासियों के लिये बहुत ही उपयुक्त होगी।

कुल मिलाकर शहर में अब यह मानस बनता दिख रहा है कि चिल्लहर सब्जी मण्डी को बुधवारी से हटाया जाना ही जनहित में होगा। इसके साथ ही साथ यह बात भी उभरकर सामने आ रही है कि चारों दिशाओं में शहर की बसाहट बढ़ने के साथ ही साथ अब कम से कम चार दिशाओं में चार सब्जी मण्डी अवश्य बनायी जाना चाहिये, जिससे रोजगार के अवसर बढ़ सकेंगे। इसके लिये जन प्रतिनिधियों को भी आगे आकर जनता की भावनाओं के अनुरूप काम हो इसके लिये प्रशासन को पाबंद करना होगा।

2 thoughts on “चारों दिशाओं में स्थापित होना चाहिये सब्जी मण्डियां

  1. Pingback: 안전놀이터

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *