शिकायत वापिस लो नही तो धोना होगा जान से हाथ!

 

 

शिकायत वापस लेने सरपंच पति ने दी संपादक को धमकी!

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (ंसाई)। शहरी सीमा से लगी ग्राम पंचायत खैरी की सरपंच के पति के द्वारा एक समाचार पत्र के संपादक को जान से मारने की धमकी देने का मामला प्रकाश में आया है।

दैनिक राष्ट्रबाण समाचार पत्र के संपादक संजय बघेल ने बताया कि उनके द्वारा ग्राम पंचायत खैरी की अनियमितताओं के संबंध में समाचारों के प्रकाशन के साथ ही साथ इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से की गयी थी। उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात की जानकारी मिली थी कि ग्राम पंचायत में नल-जल योजना की लगभग 25 लाख रूपये की राशि को सरपंच नीलम सनोडिया के द्वारा पंचायत के खाते में न डालते हुए इस योजना में गबन करते हुए उक्त राशि अपने खाते में डाल ली गयी थी।

उन्होंने बताया कि इसके अलावा भवन अनुज्ञा की राशि भी सरपंच के द्वारा अपने पास रखी गयी है। ग्राम पंचायत के द्वारा कराये गये कार्यों की गुणवत्ता भी अत्यंत खराब होने की बात उनके द्वारा कही गयी है। उन्होंने ग्राम पंचायत की अनियिमितताओं की शिकायत जिला पंचायत सीईओ से की थी, इसकी जाँच भी जारी है।

उन्होंने बताया कि सोमवार को जब वे गंगा नगर स्थित अपने निवास की ओर जा रहे थे उसी दौरान सरपंच नीलम सनोडिया के पति के द्वारा उनका रास्ता रोककर शिकायत वापस लेने के लिये उन पर दबाव बनाया गया। उनके द्वारा मना किये जाने पर सरपंच पति के द्वारा यहाँ तक कह दिया गया कि शिकायत वापस ले लो नहीं तो जान से हाथ धोना पड़ सकता है। इसके साथ ही उनके द्वारा यह भी कहा गया कि अब प्रदेश में काँग्रेस की सरकार है। अगर शिकायत वापस नहीं ली तो फर्जी केस में फंसा दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि उनके द्वारा पूर्व में भी सरपंच और उनके पति के द्वारा दी गयी धमकियों की शिकायत कोतवाली में की जा चुकी है।