हिटलर की भाषा बोल रहे छोटा भाई और मोटा भाई : भूपेश बघेल

(ब्यूरो कार्यालय)

रायपुर (साई)। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के सवाल पर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि मोदी और शाह हिटलर की भाषा बोल रहे हैं।

हाल ही में अमित शाह ने कहा था कि राहुल बाबा ऐंड कंपनीको जितना गाली देना हैं दें लेकिन देश के खिलाफ बोलेंगे तो जेल में डाल दिया जाएगा। इसी पर बघेल ने कहा कि यह हिटलर की भाषा है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और छत्तीसगढ़ के सीएम बघेल ने कहा, ‘हिटलर ने कभी जर्मनी में भाषण देते हुए कहा था कि जितना मुझे गाली देना है दो लेकिन जर्मन को मत दो। यही बात मोटा भाई भी बोल रहे हैं और छोटा भाई भी बोल रहे हैं। दोनों एक ही भाषा बोल रहे हैं। सवाल यह है कि अमित शाह जी यह बताएं कि नरेंद्र मोदी दी झूठ बोल रहे हैं या वह खुद झूठ बोल रहे हैं। दोनों में से कौन झूठ बोल रहा है? एक कहते हैं कि एनआरसी लागू होगा, दूसरे कहते हैं कि लागू नहीं होगा। एक कहतें है कि डिटेंशन सेंटर है, दूसरे कहते हैं कि डिटेंशन सेंटर नहीं हैं।

सीएए, एनआरसी और एनपीआर से गरीबों को होगी समस्या

भूपेश बघेल ने कहा, ‘सीएए, एनआरसी और एनपीआर का असर आम जनता पर पड़ना है। गरीब लोगों पर प्रभाव पड़ना है। जो एक प्रदेश से दूसरे प्रदेश जाते हैं, उनपर असर पड़ेगा। ऐसा कोई भी प्रदेश नहीं होगा, जहां कोई दूसरे प्रदेश से ना आया हो। चाहे वे नौकरी के लिए हों, उद्योग के लिए हों या किसी और रोजी-रोटी के लिए हों। हर जगह लोग गए ही हैं। सबको परेशानी होनी है, किसी एक जाति या समुदाय की बात नहीं है। जो लोग भूमिहीन हैं, पढ़े-लिखे नहीं हैं, उन्हें बहुत समस्या आने वाली है।

सीएए के विरोध में प्रस्ताव लाने के सवाल पर बघेल ने कहा, ‘मैंने तो पहले कहा था कि एनआरसी लागू होगा तो मैं पहला आदमी रहूंगा, जो इसपर हस्ताक्षर नहीं करेगा। सविनय अवज्ञा आंदोलन होगा।सीएए के समर्थन में यूपी के डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की छत्तीसगढ़ में हुई रैली को लेकर बघेल ने कहा, ‘पहले वह उत्तर प्रदेश संभाल लें, जहां 28 लोगों की जानें गई हैं। वह तो उनसे संभल नहीं रहा है, यहां क्या आग लगाने आए हैं।‘ 

 

37 thoughts on “हिटलर की भाषा बोल रहे छोटा भाई और मोटा भाई : भूपेश बघेल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *