अयोध्या में भव्य राम मंदिर के साथ बनेगा कारसेवक स्मारक?

 

कैलाश विजयवर्गीय ने किया ट्वीट

(ब्यूरो कार्यालय)

इंदौर (साई)। अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट बनाया जा चुका है। इसी महीने की ट्र्स्ट की पहली बैठक में मंदिर निर्माण की तारीख का ऐलान हो सकता है। इस बीच बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने ऐसा ट्वीट किया है, जो एक विवाद को जन्म दे सकता है। विजयवर्गीय ने कहा है कि मंदिर के साथ-साथ कारसेवकों की याद में स्मारक बनाने के कदम का वह स्वागत करते हैं।

विजयवर्गीय ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘स्वागत योग्य कदम!!! अयोध्या में भव्य राम मंदिर के साथ ज्ञात-अज्ञात कारसेवकों की याद में स्मारक बनाने का फैसला स्वागत योग्य कदम है! ये शहीद वही राम भक्त हैं जिन्होंने अयोध्या में राम मंदिर के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया! जय जय श्रीराम!

मंदिर निर्माण की तारीख का ऐलान 19 को?

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्रकी पहली बैठक 19 फरवरी को दिल्ली में होगी। सूत्रों के मुताबिक, इसमें मंदिर निर्माण की तारीख का ऐलान हो सकता है। रामनवमी (2 अप्रैल) या अक्षय तृतीया (26 अप्रैल) से मंदिर का निर्माण शुरू करने पर सहमति बनने की उम्मीद है।

सदस्यों का चुनाव बहुमत के आधार पर होगा। केंद्र सरकार ने 5 फरवरी को ट्रस्ट के गठन को मंजूरी दी थी। पीएम मोदी ने लोकसभा में इसकी घोषणा करते हुए कहा था कि यह ट्रस्ट अयोध्या में भगवान श्रीराम की तीर्थस्थली पर भव्य और दिव्य राम मंदिर के निर्माण और उससे संबंधित विषयों पर निर्णय लेने के लिए पूर्ण रूप से स्वतंत्र होगा। ट्रस्ट में कुल 15 सदस्यों को शामिल किया गया है।

कार्यशाला में हो रही पत्थरों की सफाई

मंदिर निर्माण शुरू होने की खबरों के बीच वीएचपी के श्रीरामजन्म भूमि न्यास कार्यशाला में तराशे गए पत्थरों की सफाई का काम हो रहा है। वाराणसी से आए कारीगर रामू के मुताबिक पत्थरों पर लगी काई की सफाई चल रही है। इस समय कार्यशाला में तीन कारीगर तराशे गए पत्थरों की सफाई का काम कर रहे हैं। कार्यशाला में काम कर रहे घनश्याम चतुर्वेदी के मुताबिक मंदिर निर्माण शुरू होने का समय करीब आते देख अब देश के कोने-कोने से आने वाले श्रद्धालु मंदिर कार्यशाला में आ रहे हैं। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *