आसान है सर्दी का इलाज

 

जल्द ही सर्दी का सफल इलाज हो सकेगा। वैज्ञानिकों ने एक जैविक व्यवस्था का पता लगाने का दावा किया है, जो शरीर के भीतर से सर्दी के लिए जिम्मेदार विषाणुओं (वाइरस) को बाहर कर देती है। ब्रिटेन स्थित कैंब्रिज युनिवर्सिटी के मेडिकल रिसर्च काउंसिल लेबोरेटरी के एक दल ने यह सफलता पाई है।

अब शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र को बढ़ाकर विषाणुओं के खिलाफ इस्तेमाल किया जा सकेगा। गौरतलब है कि विषाणुओं को नाक, फेफडे़ और पेट में जिंदा रहने तथा पनपने के लिए संक्रमित कोशिकाओं की जरूरत होती है। पहले माना जाता था कि बाहरी तत्वों से लड़ने वाला शरीर का प्रतिरक्षी (एंटीबॉडी) विषाणुओं पर हमला कर उन्हें अंदर आने से रोक देता है।

अब नए अध्ययन में यह बात सामने आई है कि एंटीबॉडी भी विषाणुओं की तरह कोशिका के अंदर घुसते हैं। वहां पर वह तेजी से क्रिया करके ट्रिम 21 प्रोटीन की सहारे कोशिका से विषाणुओं को बाहर कर देते हैं। ट्रिम 21 सामान्य तौर पर विषाणुओं द्वारा नुकसान पहुंचाने से पहले ही तेजी से कोशिका के जीवन को बचा लेता है।

वैज्ञानिकों ने इस शोध का इस्तेमाल ऐसी दवा विकसित करने में किया है, जो ट्रिम 21 का स्तर शरीर में बढ़ा सके। इससे सर्दी में संक्रमण से बचा जा सकेगा। दल का नेतृत्व कर रहे डॉक्टर लियो जेम्स ने कहा, डॉक्टरों के पास जीवाणुओं से लड़ने के लिए बहुत सारे एंटीबायोटिक्स (प्रतिजैविक) और कुछ ही एंटीवायरल दवाएं हैं। हालांकि अभी तक सभी विषाणुओं में ऐसी व्यवस्था पाए जाने के बारे में पता नहीं चल पाया है। हम उत्साहित हैं कि यह खोज नई एंटीवायरल दवाओं के विकास के कई रास्ते खोलेगी। हालांकि वैज्ञानिकों का कहना है कि शोध अभी आरंभिक दौर में है। नई एंटीवायरल दवाओं के इंसान पर परीक्षण में करीब दो या तीन साल लग सकते हैं।

क्या है ट्रिम 21

यह एक प्रकार का प्रोटीन है, जो इंसान के शरीर की कोशिकाओं में पाया जाता है। जिससे ट्रिम 21 (ट्राईपरटाइट मोटिफ) जीन का निर्माण होता है। यह जीन शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र के लिए जिम्मेदार होता है। यह शरीर को विषाणुओं और जीवाणुओं के संक्रमण से बचाने में मददगार होता है।

(साई फीचर्स)

 

8 thoughts on “आसान है सर्दी का इलाज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *