सिवनी में भी खुलेगा चैकअप सेंटर


कोरोना वायरस एलर्ट पर, पीएमओ ने दिये निर्देश
(ब्यूरो कार्यालय)
नई दिल्ली (साई)। देश में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामले को देखते हुए सरकार इसे लेकर कई कदम उठाने जा रही है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने स्वास्थ्य विभाग से कहा कि कोरोना वायरस की जाँच के लिये जिला स्तर पर शीघ्र सुविधा मुहैया करायें और संदिग्ध मामलों का उपलब्ध दवा सुविधाओं के साथ उपचार करें।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रधान सचिव पी.के. मिश्रा ने सरकारी विभागों से कहा है कि वे कॉन्फ्रेंस और इंटर नेशनल मीटिंग करने से परहेज करें। यह फैसला किया गया सभी जिलों को यह आदेश दिया जाये कि वे देश में इंटर नेशनल मीटिंग और कोई कॉन्फ्रेंस करने से पहले स्वास्थ्य मंत्रालय से अवश्य मशविरा करें।
बड़े कार्यक्रम करने से परहेज : कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच जानकारों की तरफ से बड़ी सभा न करने की सलाह के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पहले ही इस बात का ऐलान कर दिया है कि वे किसी भी होली मिलन कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे।
प्रधानमंत्री मोदी के कैबिनेट मंत्रियों और बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने उसके बाद इसी तरह की घोषणाएं कीं। शाम तक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी इस बात की घोषणा की कि ऐहतियाती तौर पर राष्ट्रपति भवन में पारंपरिक होली मिलन समारोह का आयोजन नहीं किया जायेगा।
बुधवार की बैठक ऐसे वक्त पर हुई है जब देश में कोरोना वायरस के 28 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।