हम युद्ध में भी नहीं थमे थे… रेलवे समेत सब बोल रहे #StayHomeIndia

(ब्‍यूरो कार्यालय)

नई दिल्‍ली (साई)। एक ओर भारतीय रेलवे ने भावुक अपील करते हुए लोगों से कहा है कि रेलवे कभी युद्धकाल में भी नहीं रुका, परिस्थितियों की गंभीरता को समझें और घर में ही रहें, वहीं दूसरी ओर दुनिया भर के लोग भी ट्विटर के जरिए कुछ ऐसी ही अपील कर रहे हैं।

ट्विटर पर #StayHomeIndia और #StayAtHomeSaveLives जैसे हैशटैग भी ट्रेंड करने लगे हैं। इसमें भारत समेत दुनिया भर से लोग हर किसी से घरों में रहने की अपील कर रहे हैं। दिल्ली पुलिस ने भी अपील करते हुए इंडिया गेट के सामने खड़े होकर एक तस्वीर शेयर की है। आइए जानते हैं लोग क्या-क्या कह रहे हैं।

एक शख्स ने तंज भरे अंदाज का एक ग्राफिक ट्विटर पर डाला है, जिसमें लिखा है- हमारे पास 3 विकल्प हैं, घर में रहना, अस्पताल में रहना, फोटो फ्रेम में रहना। तय हमें करना है, सरकार को नहीं।ये अपील भले ही तंज भरी है, लेकिन स्थिति की गंभीरता को बखूबी बयां कर रही है।

एक ट्विटर यूजर ने रेडलाइन पर खड़े कुछ वाहनों की तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा है- बाहर निकलना खतरनाक है, बहुत से लोग इसे हल्के में ले रहे हैं। रुक जाइए, इससे पहले कि बहुत देर हो जाए, घर में ही रहिए।

बहुत से यूजर तो कोरोना वायरस से लड़ने का तरीका भी बता रहे हैं। दरअसल, वह ये कह रहे हैं कि योग और मेडिटेशन कर के अपनी इम्यूनिटी पावर बढ़ाएं। साथ ही दही, पनीर, पिस्ता जैसी चीजें भी खाएं, जिनमें काफी इंटीबायोटिक्स होते हैं और ये आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं।

आपको सर्दी-खांसी या कोरोना वायरस? ऐसे पहचानें, देखें ख़बरों का पंचनामा अनुराग वर्मा के साथखांसी, जुकाम या बुखार जो सर्दियों के मौसम में सामान्य लगता था अब लोगों के हाथ-पांव फुला रहा है। वजह है कोरोना वायरस। इस जानलेवा वायरस के लक्षण इन्हीं सामान्य रोगों जैसे होते हैं, इसलिए लोग कुछ समझ नहीं पाते। ऐसे में सब खौफ में जी रहे हैं कि कहीं उन्हें या उनके बगल में तेजी से छींक रहा शख्स कोरोना की चपेट में तो नहीं है। अगर आप भी इसी डर से दो चार हो रहे हैं तो आज जान लीजिए कि कोरोना और सामान्य खांसी-जुकाम में क्या फर्क है!

कोरोना वायरस कितना खतरनाक है, इस पर लोगों का ध्यान खींचते हुए एक शख्स ने लिखा है कि इटली में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा हेल्थकेयर सिस्टम है और भारत 140 वें नंबर पर है। जरा कल्पना कीजिए कि अगर अभी भी आप घरों में नहीं रहे तो नतीजे कितने भयावह हो सकते हैं।

एक अन्य यूजर ने कुछ आंकड़े देते हुए बताया है कि घर में रहना क्यों जरूरी है, वरना भारत का हाल भी इटली के जैसा हो जाएगा। आंकड़े भले ही पूरी तरह से सही ना हों, लेकिन मैसेज बिल्कुल सटीक और साफ है कि लोग घरों में रहें और बाहर ना निकलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *