नागपुर से सिवनी पैदल पहुंच गई महिला!

नागपुर से सिवनी पैदल आ रहा मजदूरों का जत्थ!

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। जिले में टोटल लॉक डाऊन के बाद सार्वजनिक परिवहन पर प्रतिबंध लग गया है, पर पैदल चलकर मजदूरों के आने का सिलसिला थम नहीं रहा है। जिले में अनेक स्थानों पर पैदल चलकर आने वाले मजदूर दिखाई दे रहे हैं।

जिले के ग्रामीण अंचलों से बड़ी संख्या में मजदूर महानगरों में मजदूरी करने जाते हैं। कोेरोना वायरस के कारण लॉकडाउन के कारण जिले व जिले से जुड़ें अन्य प्रांतों की सीमाएं सील कर दी गई हैं। ऐसे में महानगरों में मजदूरी करने गए मजदूरों को वापस लौटने में मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसी ही परेशानियों से जूझने के बाद जिले के जोगीवाड़ा गांव की महिला मजदूर को 128 किमी दूर नागपुर से सिवनी पैदल पहुंच गई।

बस स्टैंड पहुंचने पर मिली सहायता

लखनादौन ब्लॉक के गनेशगंज से 5 किमी दूर जोगीवाड़ा निवासी जयंतीबाई धुर्वे ने बताया कि वह अपने गांव जाने के लिए सोमवार शाम नागपुर से पैदल निकली थी। बुधवार को दोपहर में सिवनी बस स्टैंड पहुंची। यहां से भी उसे अपने गांव तक जाने के लिए कोई साधन नहीं मिले।

पुलिस कर्मियों ने हेल्पलाइन नंबर में कॉल कर महिला की जानकारी दी

बस स्टैंड में तैनात पुलिस कर्मियों ने हेल्पलाइन नंबर में कॉल कर महिला की जानकारी दी। जानकारी के कुछ ही देर बाद बस स्टैंड पहुंची एंबुलेंस से महिला को जिला अस्पताल जांच के लिए ले जाया गया।

महिला में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं मिले

यहां महिला की जांच व स्क्रीनिंग की गई। इसमें महिला में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं पाए जाने पर एंबुलेंस से ही उसके घर जोगीवाड़ा गांव पहुंचाया गया। साथ ही 14 दिनों तक घर पर ही आइसोलेट रहने व इस दौरान सर्दी, खांसी, बुखार के साथ सांस लेने में तकलीफ होने पर इसकी जानकारी देने की समझाइश दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *