‘महाभारत’ में मुकेश खन्ना को कैसे मिला था भीष्म पितामह का किरदार?

(ब्‍यूरो कार्यालय)

मुंबई (साई)। कोरोना वायरस के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इसी के चलते देश में सरकार ने लॉकडाउन का दूसरा चरण भी लागू कर दिया है। दूसरा फेज तीन मई तक चलेगा। लॉकडाउन के इस समय में जनता की भारी मांग की वजह से कई टीवी सीरियलों को फिर से शुरू किया गया है। इन्हीं में एक सीरियल का नाम है महाभारत। महाभारत में एक्टर मुकेश खन्ना ने भी अहम किरदार निभाया था।

शक्तिमान के किरदार से देशभर में बच्चों और बड़ों के बीच में लोकप्रिय होने वाले मुकेश खन्ना को महाभारत के भीष्म पितामह किरदार के लिए भी याद किया जाता है। मुकेश खन्ना को भीष्म पितामह का किरदार मिलने के पीछे एक कहानी है। मुकेश खन्ना ने बताया था कि उन्हें महाभारत में भीष्म पितामह का किरदार कैसे मिला।

कॉमेडियन पेंटल के भाई गूफी पेंटल ने महाभारत में शकुनी का किरदार निभाया था। वह महाभारत के कास्टिंग डायरेक्टरों में भी एक थे। गूफी ने ही सबसे पहले मुकेश खन्ना को फोन किया था। दरअसल, वह मुकेश खन्ना के साथ एक एड में काम कर चुके थे। मुकेश ने पूछा कि उन्हें कौन सा रोल दिया जाएगा। गूफी ने बताया कि अर्जुन, कर्ण, कृष्णा और भीष्म में वह कौन सा किरदार निभाना चाहते हैं। इसके बाद मुकेश ने अर्जुन और कर्ण का किरदार पसंद किया था।

मुकेश खन्ना को कुछ देर बाद गूफी का फोन आया कि बी आर चोपड़ा चाहते हैं कि वह दुर्योधन का किरदार निभाएं। इस बात को मुकेश खन्ना ने मना कर दिया। उनका मानना था कि रोल तय करने का काम गूफी का होना चाहिए नाकि चोपड़ा जी का।

हालांकि, बाद में कई अन्य रोल दिए जाने के बाद उन्हें कैंसल कर दिया गया। इसके बाद गूफी ने फिर मुकेश खन्ना को बुलाया और बताया कि जिस एक्टर को भीष्म पितामह का रोल दिया गया था, उसकी बात बन नहीं पाई। जिन्हें यह रोल दिया गया था, उनका नाम था विजेंद्र घटके। इसके बाद बीआर चोपड़ा ने मुकेश खन्ना से यह किरदार निभाने को कहा। मुकेश खन्ना ने इस रोल के लिए हामी भर दी।