12 जुलाई 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन पढ़िए

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में रविवार 12 जुलाई 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन, अब आप रीना सिंह से समाचार सुनिए.
देश में कोरोना के संक्रमित मरीजों की तादाद का आंकड़ा साढ़े आठ लाख के पार पहुंच गया है। वर्तमान में यह आंकड़ा आठ लाख 54 हजार 480 पहुंच गया है। देश में कुल एक्टिव मरीजों की तादाद से लगभग दो लाख 44 हजार से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में अब तक सक्रिय मरीजों की तादाद 02 लाख 93 हजार 480 एवं रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 05 लाख 37 हजार 599 है, एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 22 हजार 718 है। अब तक देश में कुल 01 करोड़ 15 लाख 87 हजार 153 लोगों का कोविड परीक्षण कराया जा चुका है। मध्य प्रदेश में संक्रमित मरीजों के मिलने का आंकड़ा सत्रह हजार पार कर गया है। प्रदेश में कुल संक्रमित मरीजों की तादाद से लगभग 08 हजार 801 ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। प्रदेश में आंकड़ा 17 हजार 201 पहुंच गया है, जिसमें एक्टिव मरीजों की तादाद 03 हजार 878, रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 12 हजार 679 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 644 है।
प्रदेश में जिन जिलों में कोरोना के संक्रमित मरीजों की तादाद दो सौ से ज्यादा है उनमें वर्तमान में इंदौर में 05 हजार 176 कुल मरीजों में से एक्टिव मरीजों की तादाद 959 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 261 है, भोपाल में 03 हजार 407 कुल मरीज, एक्टिव मरीजों की तादाद 680, जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 118, उज्जैन में 880, एक्टिव मरीजों की तादाद 24 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 71, मुरैना में कुल मरीजों की संख्या 945 एवं सक्रिय मरीजों की तादाद 464 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 5, नीचम में 487 कुल एवं एक्टिव मरीजों की तादाद 41 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 08, ग्वालियर में कुल 888 संक्रमित मरीजों में से 468 एक्टिव एवं यहां महज 3 लोग ही कालकलवित हुए हैं, जबलपुर में कुल मरीजों की संख्या 518, एक्टिव मरीजों की तादाद 115 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 14, बुरहानपुर में कुल 421 में से एक्टिव मरीजों की तादाद 19 एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 23, सागर में कुल मरीजों की संख्या 441 एवं एक्टिव मरीजों की तादाद 50 व जिनका निधन हुआ उनकी तादाद 22, खण्डवा में 393 कुल एवं एक्टिव 80 व जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 17, खरगौन में कुल 356 मरीजों में एक्टिव मरीजों की तादाद 54 व जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 15, भिण्ड में 338 कुल संक्रमित मरीजों में से एक्टिव मरीज 76 है। भिण्ड में कोरोना से अब तक किसी ने भी दम नहीं तो ड़ा है। देवास में कुल मरीज 257 एवं एक्टिव मरीजों की तादाद 40 एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 10 एवं रतलाम में कुल तादाद 215 एवं एक्टिव मरीजों की तादाद 45 व जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 06 है। प्रदेश में एक भी ऐसा जिला वर्तमान में नहीं है जहां एक्टिव मरीजों की तादाद शून्य हो।
—–
जनवरी माह में चीन के वुहान प्रांत से निकले कोरोना कोविड 19 वायरस के संक्रमण के कारण इस सत्र में अब तक स्कूल नहीं खुल पाए। ऑनलाइन कक्षा लगाकर पढ़ाई कराई जा रही है। अब स्कूल खोलने को लेकर गाइडलाइन तैयार की जा रही है। छह चरणों के प्रारूप के तहत इस साल स्कूल खुलने पर न तो प्रार्थना सभा होगी और ना ही वार्षिकोत्सव का आयोजन होगा। स्कूल शिक्षा विभाग प्रदेश के स्कूलों को खोलने को लेकर गाइडलाइन तैयार कर शासन से अनुमति लेने के लिए प्रारूप तैयार कर भेज दिया है।
शिक्षा विभाग के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि सितंबर से स्कूल खुलने की संभावना है। ऐसे में विभाग प्रारूप को अंतिम रूप देने में लगा है। कोरोना संक्रमण के बीच स्कूलों को दोबारा खोलने की दिशा में बड़ा कदम उठाया गया है। विभाग ने अपनी गाइडलाइन का ड्राफ्ट शासन को सौंप दिया है। इसके तहत बताया गया है कि स्कूल खुलने पर पढ़ाई का सिलसिला किस तरह शुरू होगा और विद्यार्थियों, अभिभावक व शिक्षकों के लिए किन बातों का ध्यान रखना जरूरी होगा। विभाग ने सम व विषम संख्या में विद्यार्थियों को बांटकर एक दिन छोड़कर बुलाया जाएगा।
सूत्रों की मानें तो विभाग ने प्रारूप में यह तय किया है कि कक्षा में विद्यार्थियों के बीच 6 फीट की दूरी जरूरी होगी। एक कमरे में 15 या 20 विद्यार्थी होंगे। विद्यार्थियों को सम-विषम के आधार पर बुलाए जाएंगे, लेकिन गृह कार्य प्रतिदिन देना होगा। कोई भी विद्यार्थी अपना सीट न बदलें, इसके लिए डेस्क पर नाम लिखा होगा। कक्षा को रोजाना सैनिटाइज करना होगा, यह सुनिश्चित करना प्रबंधन का काम होगा। स्कूल में प्रवेश से पहले विद्यार्थियों और स्टाफ की स्क्रीनिंग होगी। स्कूल के बाहर खाने-पीने के स्टॉल नहीं लगाए जाएंगे। विद्यार्थियों के लिए कॉपी, पेन, पेंसिल या खाना शेयर करने की मनाही होगी। सभी को अपना पानी साथ लाना होगा। हर के लिए मास्क पहनना जरूरी होगा। स्कूल में सुरक्षित शारीरिक दूरी का ख्याल रखा जाएगा।
सूत्रों ने बताया कि शाला खोलने की तैयारियों को चरण बद्ध तरीके से किया जाएगा। पहले चरण में 11वीं और 12वीं की कक्षाएं शुरू की जाएंगी। इसके एक हफ्ते बाद नौवीं और दसवीं की पढ़ाई शुरू होगी। तीसरे चरण में दो हफ्ते बाद छठी से लेकर आठवीं तक की कक्षाएं शुरू होंगी। इसके तीन हफ्ते बाद तीसरी से लेकर पांचवीं तक की पढ़ाई होने लगेंगी। पांचवां चरण पहली और दूसरी कक्षाओं की शुरुआत का होगा।
—–
सरकार अब मास्क न पहनने वाले व्यक्तियों के लिए रोको -टोको कार्यक्रम चलाएगी। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का प्रयोग करना अनिवार्य है। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने वाले व्यक्तियों को चयनित स्वयंसेवी संस्थाए मास्क उपलब्ध कराँएगी और संबंधित से 20 रूपये प्रति मास्क की दर से राशि वसूल करेगी।
कलेक्टर इस कार्य के लिए जिले में बेहतर कार्य कर रहीं स्वयंसेवी संस्थानों का चयन करेंगे। चयन करते समय संस्थान में उपलब्ध व्यक्तियों की संख्या, संस्थान की विश्वसनीयता और कार्यक्षमता को ध्यान में रखा जायेगा। ऐसी संस्थानों का पंजीकरण जिला नोडल अधिकारी पोर्टल पर करेंगे।
कलेक्टर ऐसे सार्वजनिक स्थलों, जहाँ पुलिस द्वारा चौकियाँ लगाई जाती हैं, का चयन करेंगे। इन स्थलों पर चयनित संस्थानों को मास्क के प्रचार -प्रसार के लिए स्थान उपलब्ध कराया जायेगा। चयनित संस्थाओं को जीवन शक्ति योजना में निर्मित 100 मास्क क्रेडिट पर उपलब्ध कराये जायेंगे। मास्क के विक्रय होने पर संस्था सम्बंधित नगरीय निकाय के नोडल अधिकारी को 11 रूपए प्रति मास्क की दर से भुगतान करेगी। किसी भी समय संस्थान के पास एक समय में 100 मास्क क्रेडिट के रूप में रखे जा सकेंगे।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जाने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर रोजाना अपलोड होने वाले वीडियो जरूर देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य करवाने वालों आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
कोरोना संक्रमण के बीच मध्य प्रदेश में सियासी बियावान में भी जमकर हचचल मचती दिख रही है। मध्यप्रदेश में उपचुनाव से पहले कांग्रेस को एक के बाद एक बड़े झटके लग रहे हैं और अब कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए बीजेपी सरकार में मंत्री ने ये तक दावा कर दिया है कि कांग्रेस के दस विधायक और उनकी संपर्क में हैं और अगर पार्टी नेतृत्व इशारा करे तो वो कांग्रेस के 10 विधायकों को बीजेपी में शामिल करा देंगे। बता दें कि छतरपुर के बड़ा मलहरा से कांग्रेस विधायक प्रद्युम्न सिंह लोधी ने कांग्रेस का हाथ छोड़कर बीजेपी का दामन थामा है। जिससे कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है।
ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले सुमावली से पूर्व विधायक और शिवराज सरकार में मंत्री एंदल सिंह कंसाना ने दावा किया है कि कांग्रेस के 10 और विधायक उनके संपर्क में हैं। भाजपा नेतृत्व जब आदेश करे तब उन्हें पार्टी में शामिल करवा सकता हूं।
मंत्री एंदल सिंह कंसाना ने ये भी कहा है कि कोशिश करने पर विधायकों की संख्या 10 से 15 तक भी हो सकती है। मुरैना में मंत्री एंदल सिंह कंसाना से जब सवाल पूछा गया कि कांग्रेस ने दावा किया है कि बीजेपी के 10 विधायक उसकी संपर्क में हैं तो उन्होंने ये जवाब दिया। मंत्री कंसाना ने आगे कहा कि सत्ता परिवर्तन के पहले से ही हम 15 विधायक थे। 5 तो भाजपा में आ गए 10 अभी भी संपर्क में हैं। कोशिश करेंगे तो पांच और आ जाएंगे।
इसी बीच रविवार को छतरपुर जिले की बड़ा मलहरा सीट से कांग्रेस विधायक प्रद्युम्न लोधी ने कांग्रेस को बड़ा झटका देते हुए हाथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया। प्रद्युम्न लोधी ने भोपाल में बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सामने बीजेपी की सदस्यता ली। प्रद्युम्न लोधी ने विधायकी के पद से भी इस्तीफा दे दिया है जिसे विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने स्वीकार करने के बारे में भी जानकारी दी है। प्रद्युम्न लोधी के बीजेपी में शामिल होने और विधायकी से इस्तीफा देने के बाद अब प्रदेश में उपचुनाव वाली सीटों की संख्या में इजाफा हो गया है और उपचुनाव की सीटें 24 से बढ़कर 25 हो गई हैं।
—–
मानसून अब प्रभावी हो चुका है। मौसम विभाग का कहना है कि मानसून ट्रफ के 13 से 14 जुलाई के आसपास वापस मध्य भारत की तरफ खिसकने की संभावना है। साथ ही इसी समय बंगाल की खाड़ी में भी एक कम दबाव का क्षेत्र बनने के आसार हैं। इससे प्रदेश में बरसात की गतिविधियों में तेजी आने की संभावना है। 13 जुलाई की शाम से बारिश शुरू हो जाएगी। इसके बाद 3 दिन तक प्रदेश में जमकर पानी गिरेगा। कहीं-कहीं तो 50 मिमी से भी ज्यादा बारिश हो सकती है।
मौसम विभाग के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि अभी द्रोणिका हिमालय के तराई में चली गई है। ऐसे में इसकी ऊंचाई अधिक होने के कारण सेंट्रल पार्ट में बारिश नहीं हो पा रही है। सोमवार से यह करीब डेढ़ किमी ऊपर आ जाएगी, उसके बाद से प्रदेश में बारिश होने लगेगी। शाम के बाद बारिश का दौरा शुरू हो जाएगा। उसके बाद 14 और 15 को प्रदेश के लगभग सभी संभागों में जमकर पानी गिरेगा।
सूत्रों का मानना है कि मानसून की बरसात थमने का दौर अगस्त माह में ही देखने में आता है, लेकिन जुलाई माह में इस तरह की स्थिति लगातार दूसरे वर्ष बनी है। पिछले वर्ष 13 जुलाई से वर्षा का दौर थम गया था। बुधिवार सुबह तक प्रदेश में इस सीजन की कुल 268.2 मिमी. बरसात हुई है। जो सामान्य बरसात (193.9 मिमी.) से 38 फीसद अधिक है।
—–
अभी तक लोगों के मन में यह सवाल है कि आखिर गैंगस्टर विकास दुबे उज्जैन कैसे पहुंचा था। उसके एनकाउंटर के बाद उज्जैन एसपी मनोज कुमार सिंह ने उसके बारे में पूरी जानकारी दी है। उन्होंने उसके पूरे रूट मैप के बारे में जानकारी दी है कि वह कैसे-कैसे और किन रास्तों से उज्जैन के महाकाल मंदिर तक पहुंचा था। उज्जैन एसपी मनोज कुमार सिंह ने बताया कि वह राजस्थान के अलवर से बस के जरिए झालावाड़ पहुंचा था। वहां से बस पकड़ वह उज्जैन पहुंचा था। साथ ही महाकाल मंदिर में दर्शन के दौरान उसके कैसे पकड़ा गया, उसके बारे में भी जानकारी दी गई है। उज्जैन एसपी ने कहा कि उससे पूछताछ के दौरान मिली जानकारी के बाद चीजों को सत्यापित की गई। उन्होंने कहा कि इसके बाद ही वे इन जानकारियों को मीडिया से साझा कर रहे हैं।
—–
इंदौर शहर में लगातार बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या को देखते हुए रविवार को रेसीडेंसी कोठी में एक बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें सांसद शंकर लालवानी, संभागायुक्त डॉक्टर पवन कुमार शर्मा, कलेक्टर मनीष सिंह, डॉक्टर निशांत खरे और मेडिकल कॉलेज तथा स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर उपस्थित रहे। बैठक में शहर में बढ़ रहे कोरोना केस को लेकर समीक्षा की गई और इसे रोकने के उपायों पर विचार किया गया। सोमवार को होने वाली आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में इंदौर में लॉकडाउन को लेकर तय किया जाएगा। माना जा रहा है कि इंदौर में जिस तरह से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं उससे शहर में फिर लॉकडाउन किया जा सकता है।
सांसद शंकर लालवानी ने शनिवार को कहा था कि कोरोना संक्रमण की कड़ी तोड़कर शहर बेहतर स्थिति में आ चुका था, लेकिन कुछ लोगों को लापरवाही के कारण फिर संक्रमण के मामले बढ़ने लगे। यदि शहरवासियों ने सावधानी नहीं बरती तो देश के दूसरे शहरों की तरह इंदौर में भी फिर लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है।
—–
गैंगस्टर विकास दुबे के महाकाल मंदिर परिसर से पकड़े जाने के बाद कई तरह की चर्चाएं हैं। महाकाल मंदिर परिसर में 170 आधुनिक कैमरे लगे हैं। इसके अलावा यहां हर समय 60 सुरक्षाकर्मी तैनात रहते हैं। गुरुवार सुबह गिरफ्तारी के वक्त भी यहां विभिन्न पॉइंटों पर सुरक्षाकर्मी तैनात थे। विकास दुबे मुंह पर मास्क लगाकर खुलेआम घूम रहा था।
ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता मानी जाती है। सिंहस्थ के दौरान यहां सुरक्षा की दृष्टि से कई काम हुए थे। आधुनिक कैमरे लगाने के साथ-साथ एक कंट्रोल रूम भी स्थापित किया गया था। यहां से पूरे मंदिर परिसर और आसपास के कुछ क्षेत्रों की निगरानी की जाती है। दुबे की गिरफ्तारी के समय भी कंट्रोल पर एक अधिकारी और कर्मचारी ड्यूटी दे रहे थे।
—–
आप सुन रहे थे रीना सिंह से समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में रविवार 12 जुलाई का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन। सोमवार 13 जुलाई को एक बार फिर हम आडियो बुलेटिन लेकर हाजिर होंगे, अगर आपको यह आडियो बुलेटिन पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब जरूर करें। फिलहाल इजाजत लेते हैं, नमस्कार।