सोमवार 14 सितंबर 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज में सोमवार 14 सितंबर 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन, अब आप रीना सिंह से समाचार सुनिए.
—–
मध्य प्रदेश विधानसभा सत्र 21 सितंबर से शुरू हो रहा है। इसे लेकर भोपाल कलेक्टर ने विधानसभा इलाके में 21 सितंबर से दो दिन के लिए धारा 144 लागू करने का आदेश जारी कर दिया। इस दौरान कोरोना गाइडलाइन के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। 74 बंगले से ऊपर वाली सड़क से लेकर रोशनपुरा चौराहे तक धारा-144 का प्रतिबंधात्मक आदेश लागू होगा। प्रतिबंधात्मक आदेश 21 से 23 सितंबर तक विभिन्न क्षेत्रों में लागू होंगे।
इधर, 21 सितंबर से विधानसभा का सत्र प्रारंभ होने जा रहा है। कोरोना संक्रमण की बढ़ती संख्या को देखते हुए विधानसभा ने सभी कलेक्टरों को चिट्ठी लिख दी है कि वे सत्र से पांच दिन पहले की विधायकों की कोविड टेस्ट रिपोर्ट भेजें। यह आदेश 21 से 23 सितंबर तक सुबह 6 बजे से रात 12 बजे तक 74 बंगले के ऊपर वाली सड़क से होते हुए रोशनपुरा चौराहा में लागू रहेगा। नवीन विधायक विश्रामगृह के सामने वाला मार्ग पुराना, पुलिस अधीक्षक कार्यालय से शब्बन चौराहा, ओमनगर और वल्लभ नगर का समस्त झुग्गी क्षेत्र धारा 144 के तहत जारी आदेश का प्रभाव क्षेत्र माना जाएगा। आदेश डयूटी पर कार्यरत कर्मचारियों-अधिकारियों पर लागू नहीं होगा। शवयात्रा या बारात भी इस आदेश से मुक्त रहेंगे।
—–
रविवार को मंत्री विजय शाह, बैतूल विधायक ब्रम्हा भलावी, भोपाल के पूर्व सांसद आलोक संजर की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इन्हें मिलाकर अब तक 18 फीसदी सदन संक्रमित हो चुका है। विधानसभा के 203 सदस्यों में से मुख्यमंत्री, 10 मंत्री, 28 विधायक संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इधर, 21 सितंबर से विधानसभा का तीन दिनी सत्र शुरू होने जा रहा है। संक्रमण की बढ़ती संख्या को देखते हुए विधानसभा ने सभी कलेक्टरों को चिटठी लिख दी है कि वे सत्र से पांच दिन पहले की विधायकों की कोविड टेस्ट रिपोर्ट भेजें।
इससे यह साफ हो जाएगा कि विधायक संक्रमित है या नहीं। इसके साथ ही विधानसभा अपने 100 अधिकारियों व कर्मचारियों की भी कोरोना जांच 15 सितंबर को कराएगा ताकि संक्रमण को लेकर तस्वीर साफ रहे। ये कर्मचारी सदन के काम में जुटते हैं। विधानसभा ने यह कार्यवाही इसलिए की है क्योंकि, अभी तक मप्र में मुख्यमंत्री व मंत्री से लेकर विधायक तक 38 लोग संक्रमित हो चुके हैं।
विधानसभा अपने परिसर में भी सत्र के दौरान स्वास्थ्य अमले को रखेगी, ताकि जिन विधायकों की जांच रिपोर्ट नहीं आई होगी, उनकी जांच की जा सके। विधायक व पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति, विधायक व पूर्व वित्तमंत्री तरुण भनोत, विधायक गोवर्धन दांगी, विधायक व पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा समेत कुछ विधायक हाल ही में पॉजिटिव हुए हैं, वे अनुपस्थित रह सकते हैं। आरिफ अकील हाल ही में बीमार हुए हैं और वित्तमंत्री जगदीश देवड़ा ने दिल्ली में एंजियोप्लास्टी कराई है। मंत्री विजय शाह की प्रारंभिक रिपोर्ट (ट्रूनाट) पॉजिटिव आई है। अब उनकी आरटीपीसीआर से जांच होगी।
—–
कोरोना संकट के बीच नियमित रूप से फेस मास्क लगाने वाले लोगों के लिए अच्छी खबर है। हालही में हुए एक शोध में दावा किया गया है कि, जो लोग नियमित रूप से फेस मास्क पहनते हैं, खासकर किसी सार्वजनिक स्थल पर जाते समय उनके शरीर में कोरोना वायरस काफी कम मात्रा प्रवेश कर पाता है। शरीर में वायरस लोड कम होने के कारण शरीर अपने आप ही एंटीबॉडी विकसित होने लगती है। इस सिद्धांत को वैरियोलेशन कहा जाता है। अब तक की जांच में ये भी सामने आया है कि, जिन इलाकों में लोग मास्क का नियमित इस्तेमाल कर रहे हैं, वहां कोरोना के लक्षण वाले मरीज काफी कम हैं।
इंटरनेशनल रिसर्च जर्नल न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन की हाल ही में प्रकाशित एक ताजा शोध में ये दावा किया गया है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि, फेसमास्क काफी हद तक वैक्सीन जैसा ही काम कर रहा है। क्योंकि, नियमित रूप से फेसमास्क पहनने वाले लोगों के शरीर में 90 फीसदी या उससे अधिक संक्रमण नहीं पहुंच पाता। संक्रमण शरीर में कम मात्रा में पहुंचने से शरीर का इम्यून सिस्टम ही संक्रमण से लड़कर उसे खत्म करता है और आगे उससे लड़ने के लिए शरीर एंटीबॉडी भी डेवलप करने लगता है।
शोध पर अपना नजरिया रखते हुए आईसीएमआर के भोपाल स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एन्वायर्नमेंटल हेल्थ के निदेशक और एपिडियोमोलॉजिस्ट डॉ. आरएन तिवारी ने बताया कि, जब से कोविड महामारी की शुरुआत हुई, तभी से इस बात पर जोर दिया जा रहा है कि, संक्रमण से बचे रहने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना है और मास्क का इस्तेमाल करना है। एक्सपर्ट्स पहले से ही जानते थे कि, मास्क का इस्तेमाल सामाजिक वैक्सीन के रूप में कार्य करेगा, जिसपर हालिया शोध ने मोहर लगाई है। उन्होंने कहा कि, मास्क, संक्रमित मनुष्य से, वायरस को वातावरण में फैलने से बहुत हद तक रोकता है। कोरोना से लड़ते हुए अब तक ये अनुभव रहा है कि, ज्यादातर संक्रमितों में कोई लक्षण प्रकट नहीं होते हैं उनमें वायरस लोड काफी कम होता है।
—–
उपचुनाव से पहले सागर जिले के सुरखी विधानसभा क्षेत्र में राम शिला पूजन यात्रा के अंतिम दिन परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत अपनी ही पार्टी के खिलाफ बोल गए। ज्योतिरादित्य सिंधिया के धुर समर्थक राजपूत ने कह दिया कि बीजेपी को नकली राम का सहारा लेना पड़ रहा है, लेकिन जनता सब जानती है। दरअसल, राजपूत राम शिला यात्रा समापन के दौरान पत्रकारों से बात कर रहे थे। इसी दौरान मीडिया कर्मियों ने उनसे कहा कि कांग्रेस नेता भी अब मंदिरों में जा रहे हैं और भगवा झंडे लेकर घूम रहे हैं। इसी के जवाब में राजपूत ने कुछ ऐसा कह दिया जिसके बारे में लोग चटकारे लेकर चर्चा कर रहे हैं।
—–
राजधानी भोपाल में एक युवक के खिलाफ एक जिंदा आवारा कुत्ते को बड़े तालाब में फेंकने के सिलसिले में मामला दर्ज किया गया था। सोमवार को सलमान नाम के युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वीडियो वायरल होने के बाद से ही युवक के ऊपर कार्रवाई की मांग हो रही थी।
भोपाल पुलिस ने आरोपी को आज सुबह हनुमानगंज क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। हनुमानगंज के इलाके के कबाड़ खाना इलाके में रहता है। दरअसल, कुत्ते को तालाब में फेंकने का वीडियो भी वायरल हुआ था। इसमें दिख रहा है कि करीब 20 साल का युवक इस कुत्ते को अपनी गोद में उठाता है और अपने आनंद के लिए उसे बड़ी निर्दयता से गहरे पानी में फेंक देता है।
सामाजिक कायकर्ता असमा खान ने रविवार को भोपाल के पशु क्रूरता निवारण समिति के अध्यक्ष अविनाश लवानिया एवं भोपाल के पुलिस उप महानिरीक्षक को इस बारे में पत्र लिखने के बाद सलमान नाम के इस आरोपी के खिलाफ यह कार्रवाई की गई है। असमा ने अपने इस पत्र में कहा था कि हमें एक वीडियो मिला है, जिसमें एक व्यक्ति आनंद लेते वीडियो बनवा रहा है और वह आवारा कुत्ते को पहले गोद में उठाता है और फिर उसे बड़ी निर्दयता से पानी में फेंक देता है।
समाजिक कार्यकर्ता ने इस मामले में त्वरित पड़ताल कर दोषी के खिलाफ कानून के अनुसार सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की थी। ताकि आगे से कोई व्यक्ति जानवरों के प्रति इस प्रकार हिंसा करने के बारे में कभी न सोचे। वहीं, बाद में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राम सनेही मिश्रा ने बताया कि इस मामले में शहर के श्यामला हिल्स थाने में भादंवि की धारा 429 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जाने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर रोजाना अपलोड होने वाले वीडियो जरूर देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य करवाने वालों आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
सितंबर माह ग्रहों की राशि परिवर्तन के लिए खास माना जा रहा है। ज्योतिषियों का मत है कि करीब एक दशक बाद ऐसी स्थिति बन रही है कि इस माह 9 में से 5 ग्रह अपनी स्वराशि में हैं। सभी ग्रह अपनी स्वयं के आधिपत्य वाली राशि में होने पर अधिक बलशाली होते हैं और जिन राशियों पर उनकी दृष्टि होती है, उन पर अधिक असर डालते हैं। दूसरी ओर 23 सितंबर को राहु मिथुन से वृषभ में और केतु, धनु से वृश्चिक राशि में पहुंचेंगे। यह दोनों ही ग्रह 12 अप्रैल 2022 तक इन्हीं राशियों में रहेंगे। ज्योतिषियों का मत है कि 5 ग्रहों के अपनी राशि में होने से अब जन स्वास्थ्य में सकारात्मक परिणाम दिखाई देंगे। वहीं, राहु व केतु का राशि परिवर्तन आर्थिक मंदी में कमी लाएगा। कृषि के क्षेत्र में हालात सुधरेंगे और सरकारी क्षेत्रों में नौकरियों के अवसर बढ़ेंगे।
ज्योर्तिविदों के अनुसार एक दशक बाद इस माह 9 में से 5 ग्रह अपनी राशि में होंगे, जिसके ज्यादातर सकारात्मक परिणाम ही दिखाई देंगे। सूर्य वर्तमान में अपनी स्वयं की राशि सिंह और मंगल, मेष, बुध, कन्या, बृहस्पति, धनु व शनि मकर राशि में हैं। राहू-केतु के राशि परिवर्तन से सकारात्मक परिणाम दिखने लगेंगे। शनि के 29 सितंबर को मार्गी होने पर महामारी के कम होने की संभावना है। हालांकि, महामारी को कमजोर पड़ने में अप्रैल 2021 तक का समय लग सकता है।
—–
कोरोना के संक्रमित मरीजों का आंकड़ा साढ़े 48 लाख को पार कर गया है। वर्तमान में यह आंकड़ा 48 लाख 65 हजार 292 पहुंच गया है। देश में कुल एक्टिव मरीजों की तादाद से लगभग 28 लाख 10 हजार से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में अब तक सक्रिय मरीजों की तादाद 09 लाख 87 हजार 81 एवं रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 37 लाख 97 हजार 622 है, एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 79 हजार 915 है। अब तक देश में कुल 05 करोड़ 72 लाख 39 हजार 428 लोगों का कोविड परीक्षण कराया जा चुका है। वहीं, मध्य प्रदेश में संक्रमित मरीजों की तादाद का आंकड़ा 88 हजार को पार कर गया है। यहां कुल संक्रमित मरीजों की तादाद से लगभग 45 हजार 511 से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। प्रदेश में आंकड़ा 88 हजार 247 पहुंच गया है, जिसमें एक्टिव मरीजों की तादाद 20 हजार 487, रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 65 हजार 998 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 1 हजार 762 है। प्रदेश में अब तक 16 लाख 80 हजार से ज्यादा लोगों का कोविड टेस्ट कराया जा चुका है।
प्रदेश में जिन जिलों में कोरोना के संक्रमित मरीजों की तादाद एक हजार से ज्यादा है उनमें वर्तमान में इंदौर में 16 हजार 782 कुल मरीजों में से एक्टिव मरीजों की तादाद 05 हजार 11 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 458 है, भोपाल में 13 हजार 187 कुल मरीज, एक्टिव मरीजों की तादाद 1 हजार 796, जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 324, ग्वालियर में 07 हजार 640 कुल मरीजों में एक्टिव मरीजों की तादाद 02 हजार 85 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 83, जबलपुर में कुल 06 हजार 215 में से एक्टिव मरीजों की संख्या 01 हजार 193 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 110, खरगौन में कुल मरीजों की संख्या 2 हजार 352 एवं सक्रिय मरीजों की तादाद 545 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 33, मुरैना में 02 हजार 263 कुल में से एक्टिव मरीजों की तादाद 130 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 17, उज्जैन में कुल मरीजों की संख्या 02 हजार 230 एक्टिव मरीजों की तादाद 406 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 84, शिवपुरी में कुल मरीजों की संख्या 01 हजार 608 में से एक्टिव मरीज 497 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 15, सागर में कुल 01 हजार 564 में से एक्टिव केसेज 390 एवं 72 लोग काल कलवित हुए हैं। नीचम में कुल एक हजार 518 में से एक्टिव मरीजों की तादाद 343 एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 23, रतलाम में एक हजार 500 मरीजों में से एक्टिव की तादाद 313 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 30, बड़वानी में कुल एक हजार 442 मरीजों में से एक्टिव मरीजों की तादाद 207 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 16, धार में कुल 01 हजार 407 में से एक्टिव मरीजों की तादाद 444 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 20, विदिशा में कुल 01 हजार 245 मरीजों में से एक्टिव मरीज 277 एवं जिनका निधन हुआ उनकी तादाद 27, खण्डवा में कुल 01 हजार 182 मरीजों में से 223 एक्टिव मरीज और जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 26, मंदसौर में कुल 1 हजार 146 मरीजों में से एक्टिव मरीज 217 व जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 14, रीवा में कुल 01 हजार 120 मरीजों में एक्टिव मरीजों की संख्या 352 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 17, बैतूल में कुल 01 हजार 112 मरीजों में से एक्टिव मरीज 354 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 24, नरसिंहपुर में कुल एक हजार 110 में से सक्रिय की तादाद 545 एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 07, सीहोर में एक हजार 79 कुल में से एक्टिव मरीजों की तादाद 402 एवं 23 लोगों ने अब तक दम तोड़ा है। दमोह में कुल एक हजार 78 मरीजों में 391 एक्टिव मरीज एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 20, राजगढ़ में एक हजार 22 में से सक्रिय की संख्या 168 एवं 15 लोग कालकलवित हुए हैं। इसके साथ ही प्रदेश के सभी जिलों में मरीजों की तादाद दो सौ से ज्यादा पहुंच चुकी है।
—–
आप सुन रहे थे रीना सिंह से समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज में सोमवार 14 सितंबर का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन। मंगलवार 15 सितंबर को एक बार फिर हम आडियो बुलेटिन लेकर हाजिर होंगे, अगर आपको यह आडियो बुलेटिन पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब जरूर करें। फिलहाल इजाजत लेते हैं, नमस्कार।
(साई फीचर्स)

———