मंगलवार 15 सितंबर 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज में मंगलवार 15 सितंबर 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन, अब आप रीना सिंह से समाचार सुनिए.
—–
कोरोना संकट के चलते इस साल विधानसभा के सत्र में बड़ी तब्दीलियां की गई हैं। विधानसभा के सत्र से पहले बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में शामिल होने पूर्व सीएम कमलनाथ सहित मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहुँचे। प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा कि अध्यक्षता में हुई बैठक में कई महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए गए। मौजूदा हालात को देखते हुए विधानसभा सदन में केवल 108 विधायकों को सत्र में हिस्सा लेने के लिये तैयारी हो सकी है।
मध्य प्रदेश विधानसभा के वर्तमान सदस्यों की बात करें तो इस बार 67 से अधिक विधायक हं जिनकी उम्र 60 साल से ज़्यादा है। मंगलवार को ही एक कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी की कोरोना संक्रमण के बाद जान चली गई। ऐसे में सत्र को लेकर लगातार सवाल खड़े किये जा रहे हैं। हालांकि विधानसभा सचिवालय अधिकउम्र के विधायकों को ऑनलाइन सत्र में हिस्सा लेने के लिये तैयारी कर चुका है।
कोविड-19 के प्रोटोकॉल के अनुसार सदस्यों को दूर-दूर बिठाया जाएगा एसे में सदन में केवल 108 विधायक ही बैठ सकते हैं। सर्वदलीय बैठक में निर्णय हुआ कि इस सत्र में प्रश्नकाल नहीं होगा। देश में ऐसा पहली बार होगा जब किसी सत्र में प्रश्नकाल नहीं हो सकेगा। वही कई महीनों से टल रहे विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के चुनाव भी अभी नहीं हो सकेगें। सदन में बजट पर चर्चा होगी पर सदन में केवल आमंत्रित सदस्य ही आ सकेंगे, अन्य सभी विधायक अपने घर से ऑनलाइन ही सत्र में शामिल हो पायेंगे।
—–
मध्य प्रदेश के ब्यावरा विधायक की आज कोरोना संक्रमण के बाद मौत पर सियासत शुरु हो गई है। पूर्व सीएम कमल नाथ ने विधायक दांगी की मौत के लिये चिरायु अस्पताल पर लापरवाही का आरोप लगाया है। दरअसल विधायक दांगी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उनका इलाज चिरायु कोविड सेंटर में हुआ था लेकिन जब हालत में सुधार नहीं हुआ तो उन्हें दिल्ली के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा था।
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आरोप लगाया है कि दिल्ली में अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया कि भोपाल में दांगी के इलाज में बहुत ज्यादा लापरवाही बरती गई थी। जिसके चलते आज उनकी मौत हो गई। उन्होंने कहा जब दांगी को दिल्ली रैफर किया गया था तब ही उनकी हालत बहुत खराब थी और इसकी तस्दीक दिल्ली अस्पताल प्रबंधन ने की थी। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमल नाथ चिरायु रो लेकर पहले भी सवाल खड़े कर चुके हैं। अब एक बार फिर विधायक की मौत के मामले में अस्पताल पर आरोप लगाकर कोविड सेंटर की लापरवाही बताया है। अक्सर विवादों में रहने वाला चिरायु अस्पताल पर तालाब की जमीन को लेकर भी बयानबाजी होती रही है।
—–
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह के पौत्र व अजय सिंह के पुत्र अभिनेता अरुणोदय सिंह की कनाडियन पत्नी ली एल्टन की याचिका पर भोपाल फेमिली कोर्ट का रिकॉर्ड तलब कर लिया है। ली एल्टन ने एकतरफा तलाक के फैसले को चुनौती दी है। प्रशासनिक न्यायाधीश संजय यादव व जस्टिस बीके श्रीवास्तव की युगलपीठ ने अरुणोदय सिंह को पूर्व में जारी नोटिस का जवाब पेश करने भी निर्देश दिया है। याचिका की अगली सुनवाई 6 अक्टूबर निर्धारित की गई है।
अपीलकर्ता ली एल्टन की ओर से अधिवक्ता आदित्य संघी ने दलील दी कि उनकी पक्षकार को केस से सम्बन्धित कोई जानकारी ही नहीं मिली थी कि उनके पति अरुणोदय ने उनके खिलाफ तलाक की एकतरफा डिक्री हासिल कर ली। याचिकाकर्ता ने भोपाल फैमिली कोर्ट के आदेश को निरस्त करने की मांग है। तर्क दिया गया कि न्यूफाउंडलैंड, कनाडा निवासी डगलस एल्टन की पुत्री ली एनी एल्टन का विवाह विशेष विवाह अधिनियम के तहत भोपाल में पंजीकृत हुआ था। विवाह के बाद वे मुंबई के खार स्थित फ्लैट में रहने लगे। अरुणोदय ने अचानक आना-जाना बंद कर दिया। 10 मई 2019 को भोपाल के फैमिली कोर्ट में अपीलकर्ता ली एल्टन के खिलाफ तलाक का केस दायर किया। इसकी जानकारी तक उन्हें नहीं मिली। ली ने भी अपने पति के खिलाफ भरणपोषण व वैवाहिक सम्बन्धों की पुनर्स्थापना के केस मुंबई में दायर कर दिए। ली को जब तलाक के केस की जानकारी लगी तो उसने इस केस को मुंबई स्थानांतरित करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की। इसके बावजूद भी 18 दिसम्बर 2016 को अपीलकर्ता ली एल्टन की गैरमौजूदगी व उसे जानकारी दिए बिना कुटुंब न्यायालय ने तलाक की एकतरफा डिक्री सिर्फ छह माह के भीतर पारित कर दी।
—–
ज्योतिरादित्य सिंधिया के करीबी मंत्री को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इशारों-इशारों में बड़ा झटका दिया है। साथ ही उनकी मांगों पर उन्होंने साफ कर दिया है कि ऐसा नहीं होने वाला है। एमपी की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी प्रदेश के आंगनबाड़ी केंद्रों में अंडा परोसने की मांग कर रही थी। कांग्रेस की सरकार में रहते हुए भी इमरती देवी ने यह मांग की थी। उस वक्त विपक्ष में रहते हुए शिवराज सिंह चौहान ने खुल कर इसका विरोध किया था।
अब सीएम शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के सीएम हैं और इमरती देवी उनकी सरकार में मंत्री हैं। इमरती देवी फिर से यह मांग दुहरा रही हैं। अभी तक बीजेपी के नेता इस पर चुप्पी साधे हुए थे। पिछले दिनों ज्योतिरादित्य सिंधिया से इसे लेकर सवाल किया गया था कि इमरती देवी आंगनबाड़ी केंद्रों में अंडा परोसने की मांग कर रही हैं। इस पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गेंद सरकार के पाले में डाल दिया था। इमरती देवी की मांग पर कांग्रेस इस पर बीजेपी से सफाई मांग रही थी।
—–
मध्य प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल महाराज यशवंत राव अस्पताल (एमवायएच) में मानवता को शर्मसार कर देने वाली एक तस्वीर सामने आई है। यहां मॉर्चरी रूम में स्ट्रेचर पर रखा एक शव अंतिम संस्कार के इंतजार में कंकाल बन गया। मामला सामने आने के बाद हड़कंप मचा तो जिम्मेदारों ने तत्काल बॉडी को वहां से हटवा दिया। बताया जा रहा है कि बदबू फैलने के बाद भी किसी ने इस ओर ध्यान तक नहीं दिया। हॉस्पिटल अधीक्षक का कहना है कि जो भी दोषी होगा, उस पर कार्रवाई की जाएगी।
एमवायएच लापरवाही के चलते हमेशा सुर्खियों में रहता है। यहां मॉर्चरी रूम में रखी यह बॉडी 10 दिन पुरानी बताई जा रही है। हालांकि, बॉडी किसकी है और कब लाई गई थी, इस संबंध में कोई कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। स्ट्रेचर पर शव के कंकाल बन जाने से सवाल उठ रहे हैं कि आखिर इतनी बड़ी चूक कैसे हो गई और यह गलती किसकी है।
यहां पर 16 फ्रीजर हैं, जहां बॉडी को रखा जाता है। अगर कोई अज्ञात शव पुलिस बरामद करती है तो उसे पीएम के लिए एमवायएच भेजा जाता है। पोस्टमॉर्टम (पीएम) के बाद शव का नगर निगम या एनजीओ द्वारा अंतिम संस्कार करवा दिया जाता है। बताया जा रहा है कि जो बॉडी कंकाल बन गई, उसका न तो पीएम हुआ और न कोई प्रक्रिया। उसे जिस तरह से स्ट्रेचर पर लाया गया था, उसी तरह से पड़ा रहने दिया गया।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जाने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर रोजाना अपलोड होने वाले वीडियो जरूर देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य करवाने वालों आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
कोरोना के संक्रमित मरीजों का आंकड़ा सवा 49 लाख को पार कर गया है। वर्तमान में यह आंकड़ा 49 लाख 33 हजार 188 पहुंच गया है। देश में कुल एक्टिव मरीजों की तादाद से लगभग 28 लाख 66 हजार से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में अब तक सक्रिय मरीजों की तादाद 09 लाख 92 हजार 850 एवं रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 38 लाख 58 हजार 815 है, एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 80 हजार 833 है। अब तक देश में कुल 05 करोड़ 83 लाख 12 हजार 273 लोगों का कोविड परीक्षण कराया जा चुका है। वहीं, मध्य प्रदेश में संक्रमित मरीजों की तादाद का आंकड़ा 90 हजार को पार कर गया है। यहां कुल संक्रमित मरीजों की तादाद से लगभग 46 हजार 483 से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। प्रदेश में आंकड़ा 90 हजार 730 पहुंच गया है, जिसमें एक्टिव मरीजों की तादाद 21 हजार 228, रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 67 हजार 711 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 1 हजार 791 है। प्रदेश में अब तक 19 लाख 01 हजार से ज्यादा लोगों का कोविड टेस्ट कराया जा चुका है।
प्रदेश में जिन जिलों में कोरोना के संक्रमित मरीजों की तादाद एक हजार से ज्यादा है उनमें वर्तमान में इंदौर में 17 हजार 161 कुल मरीजों में से एक्टिव मरीजों की तादाद 05 हजार 162 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 463 है, भोपाल में 13 हजार 431 कुल मरीज, एक्टिव मरीजों की तादाद 1 हजार 769, जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 329, ग्वालियर में 07 हजार 825 कुल मरीजों में एक्टिव मरीजों की तादाद 02 हजार 94 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 86, जबलपुर में कुल 06 हजार 441 में से एक्टिव मरीजों की संख्या 01 हजार 229 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 113, खरगौन में कुल मरीजों की संख्या 2 हजार 441 एवं सक्रिय मरीजों की तादाद 557 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 34, मुरैना में 02 हजार 284 कुल में से एक्टिव मरीजों की तादाद 139 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 18, उज्जैन में कुल मरीजों की संख्या 02 हजार 279 एक्टिव मरीजों की तादाद 441 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 84, शिवपुरी में कुल मरीजों की संख्या 01 हजार 669 में से एक्टिव मरीज 508 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 15, सागर में कुल 01 हजार 620 में से एक्टिव केसेज 427 एवं 74 लोग काल कलवित हुए हैं। नीचम में कुल एक हजार 550 में से एक्टिव मरीजों की तादाद 360 एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 27, रतलाम में एक हजार 523 मरीजों में से एक्टिव की तादाद 289 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 30, बड़वानी में कुल एक हजार 446 मरीजों में से एक्टिव मरीजों की तादाद 225 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 16, धार में कुल 01 हजार 451 में से एक्टिव मरीजों की तादाद 478 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 20, विदिशा में कुल 01 हजार 271 मरीजों में से एक्टिव मरीज 279 एवं जिनका निधन हुआ उनकी तादाद 27, नरसिंहपुर में कुल एक हजार 246 में से सक्रिय की तादाद 669 एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 07, खण्डवा में कुल 01 हजार 209 मरीजों में से 211 एक्टिव मरीज और जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 26, मंदसौर में कुल 1 हजार 178 मरीजों में से एक्टिव मरीज 210 व जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 14, बैतूल में कुल 01 हजार 171 मरीजों में से एक्टिव मरीज 382 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 25, रीवा में कुल 01 हजार 161 मरीजों में एक्टिव मरीजों की संख्या 376 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 18, सीहोर में एक हजार 108 कुल में से एक्टिव मरीजों की तादाद 411 एवं 23 लोगों ने अब तक दम तोड़ा है। दमोह में कुल एक हजार 103 मरीजों में 391 एक्टिव मरीज एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 20, राजगढ़ में एक हजार 47 में से सक्रिय की संख्या 178 एवं 15 लोग कालकलवित हुए हैं। इसके साथ ही प्रदेश के सभी जिलों में मरीजों की तादाद दो सौ से ज्यादा पहुंच चुकी है। अब एक हजार से ज्यादा मरीजों वाले जिलों की सूची में झाबुआका भी शुमार हो गया है। झाबुआ में कुल 01 हजार 27 मरीजों में से एक्टिव की तादाद 216 व 16 लोगों ने दम तोडा है।
———
आप सुन रहे थे रीना सिंह से समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज में मंगलवार 15 सितंबर का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन। बुधवार 16 सितंबर को एक बार फिर हम आडियो बुलेटिन लेकर हाजिर होंगे, अगर आपको यह आडियो बुलेटिन पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब जरूर करें। फिलहाल इजाजत लेते हैं, नमस्कार।
(साई फीचर्स)

———