अलह सुबह डाेेेेली धरती, घरों से निकलकर बाहर भागे लोग

(ब्यूरो कार्यालय)
सिवनी (साई)। तीन माह से चल रहा कंपन का सिलसिला बारिश रूकने के बाद भी नहीं थमा है। सिवनी में डोली धरा सिवनी में भी जमकर सोशल मीडिया पर ट्रेंड हो रहा है।

रिक्टर स्केल पर 3.3 तीव्रता का भूकंप का झटका महसूस किया गया है। भोपाल मौसम ने इसकी पुष्टि की है। भोपाल मौसम विभाग के विज्ञानी वेदप्रकाश सिंह ने बताया कि सिवनी जिले के 21.92 उत्तरी अक्षांश 79.50 पूर्वी देशांतर के निकट 3.3 रिक्टर तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया है। भूकंप का केंद्र (एपी सेंटर) 15 किलोमीटर गहराई में स्थित था। हालाकि इस भूकंप से जान-माल का नुकसान होने की खबर नहीं है।

27 अक्टूबर के तड़के तीन से चार बार लोगों ने जोरदार झटकों में शहरवासियों में खौफ बढ़ा दिया है। झटकों के बाद नाराज लोगों ने डूंडासिवनी थाने के सामने एकत्रित होकर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध जताया। डूंडासिवनी सहित शहर सभी हिस्सों में भूकंप जैसे कंपन के जोरदार झटके मंगलवार सुबह महसूस किए गए। झटकों का असर इतना अधिक था कि गहरी नींद में सो रहे लोगों की नींद भी टूट गई। तेज आवाज के साथ सुबह 3.53 बजे पहली बार लोगों को धरती हिलने का अहसास हुआ। इसके बाद कई बार धरती हिलने से लोग घरों से बाहर निकलकर सड़क पर आ गए।

झटकों ने उड़ा दी लोगों की नींद

तकरीबन 4.14 बजे आए झटके ने लोगों की नींद उड़ा दी। लोगों को घर हिलता महसूस हुआ। सोशल मीडिया वॉट्सऐप ग्रुप में लोगों की प्रतिक्रिया में आना शुरू हो गई। लोगों का कहना है कि शहर में बढ़ते भूकंप के झटकों का कारण पता लगाने में प्रशासन नाकाम साबित हो रहा है।

लोगों ने की नारेबाजी

इससे पहले भी कई बार भूकंप के झटके आ चुके हैं, लोग किसी अनहोनी की आशंका से खौफजदा हैं। लोगों ने सुबह-सुबह डूंडा सिवनी थाने के सामने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी भी की, लोगों का आरोप है कि बार-बार भूकंप के झटके आते रहते हैं, लेकिन प्रशासन इसके कारणों का पता अब तक नहीं लगा पाया है। प्रशासन इस दिशा में कोई काम नहीं कर रहा है। सितंबर माह में भूसर्वेक्षण विभाग ने ऐसे ही कंपन्न की जांच करवाई थी। इसकी रिपोर्ट में कहा गया था कि निम्न दाब के कारण भूकंप जैसे झटके शहर और जिले के आसपास के इलाकों में महसूस किए जा रहे हैं। रिपोर्ट में जमीन के भीतर विस्फोट की ध्वनि के साथ ही भूगर्भीय घटनाओं की संभावना जताई गई थी।

घर व भवन को होगा नुकसान

सिवनी शहर के विभिन्न क्षेत्रों में कंपन के झटके महसूस होने का सिलसिला तीन माह से चल रहा है। लोगों का कहना है कि लगातार महसूस किए जा रहे झटकों से घर व भवन को नुकसान होने की संभावना बनी हुई है। कई लोगों का दावा है कि झटकों से घर के ऊपरी हिस्से की दीवारों में गहरी दरारें आ रही हैं। हालाकि अब तक झटकों से कोई बड़े नुकसान की बात सामने नहीं आई है। 24 अक्टूबर शनिवार को दोपहर दो बजे तेज आवाज के साथ धरती हिल गई थी। इससें कई लोग अपने घरों से बाहर आ गए थे। करीब एक घंटे बाद 3.17 बजे दोबारा कंपन ने लोगों को डरा दिया था। इससे पहले 5 सितंबर को सुबह 11.37 फिर दोपहर करीब डेढ़ बजे दो बार भूकंप जैसे झटके महसूस किए गए थे। अगस्त माह में भी लोगों ने 4 से 5 बार कंपन महसूस किया था।