बुधवार 28 अक्टूबर का राष्ट्रीय ऑडियो बुलेटिन

नमस्कार आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज की समाचार श्रंखला में बुधवार 28 अक्टूबर का राष्ट्रीय ऑडियो बुलेटिन.
—–
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आदेश पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर योगेश त्यागी को निलंबित कर दिया दिया है। शिक्षा मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक राष्ट्रपति ने योगेश त्यागी पर लगे कर्तव्य पालन में लापरवाही के आरोपों की जांच का भी निर्देश दिया है। यह कदम ऐसे वक्त में आया है जब इस केंद्रीय विश्वविद्यालय में सत्ता संघर्ष चल रहा है।
मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि योगेश त्यागी पर लगे आरोपों की निष्पक्ष जांच सुनिश्चित हो सके इसके लिए यूनिवर्सिटी के विजिटर…….. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें निलंबित कर दिया है। इससे वे सबूतों से छेड़छाड़ या गवाहों को प्रभावित करने में सक्षम नहीं रहेंगे।
—–
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि पिछले हफ्ते पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के 20 लाख से अधिक नये मामले सामने आए। महामारी आरंभ होने के बाद यह सबसे कम समय में इतनी तेजी से बढ़े मामले हैं। कोविड-19 के साप्ताहिक विश्लेषण में डब्ल्यू.एच.ओ. ने कहा कि लगातार दूसरे हफ्ते यूरोपीय क्षेत्र में सबसे ज्यादा अनुपात में नये मामले सामने आए हैं। यहां 13 लाख नये मामले सामने आए हैं जो पूरी दुनिया के नये मामलों का 46 प्रतिशत है। संयुक्त राष्ट्र स्वास्थ्य एजेंसी ने कहा कि यूरोप में मरने वालों की संख्या भी बढ़ी है।
पिछले हफ्ते की तुलना में मृतकों की संख्या में लगभग 35 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। डब्ल्यू.एच.ओ. ने कहा हालांकि मरने वालों की संख्या में धीरे-धीरे बढ़ोतरी हो रही है लेकिन महामारी के शुरुआती चरण से तुलना करें तो मामलों की संख्या की तुलना में मृतकों का अनुपात अपेक्षाकृत कम है। एजेंसी ने कहा कि यूरोप के 21 देशों में कोविड-19 के कारण अस्पताल में भर्ती होने और आई.सी.यू. में भर्ती होने की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। डब्ल्यू.एच.ओ. ने कहा कि पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा मामले आने वाले देशों में भारत अमेरिका फ्रांस ब्राजील और ब्रिटेन बने हुए हैं।
—–
वैज्ञानिकों ने एक ऐसे विशालकाय पक्षी के…… जीवाश्म की पहचान की है जो लगभग पांच करोड़ साल पहले पाया जाता था और जिसके पंख. 21 फीट लंबे होते थे। अंटार्कटिका से 1980 के दशक में बरामद जीवाश्म दक्षिणी समुद्रों में विचरण वाले पक्षियों के एक विलुप्त समूह के सबसे पुराने विशालकाय सदस्यों का प्रतिनिधित्व करते हैं। तुलनात्मक रूप से समुद्र के ऊपर विचरण करने वाले पक्षियों में वांडरिंग अल्बाट्रॉस को सबसे बड़ा उड़ने वाला पक्षी कहा जाता है और इनके पंख सभी परिंदों में सबसे ज्यादा लंबे यानी साढ़े 11 फीट तक फैल सकते हैं।
पेलेगोर्निथिड कहे जाने वाले पक्षियों ने आज के अल्बाट्रोस की तरह एक स्थान को भरा. और कम से कम छह करोड़ वर्षों तक पृथ्वी के महासागरों में व्यापक रूप से यात्रा की। जर्नल साइंटिफिक रिपोटर््स में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार एक दूसरा पेलगोर्निथिड जीवाश्म जो जबड़े की हड्डी का हिस्सा है लगभग चार करोड़ साल पहले का है।
—–
दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बुधवार को कहा कि दीपावली पर्व के मद्देनजर दिल्ली सरकार तीन नवम्बर से पटाखा विरोधी अभियान आरंभ करेगी। उन्होंने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर स्थिति की गंभीरता पर विचार करते हुए लोगों से पटाखे नहीं जलाने का आग्रह किया। मंत्री ने कहा कि उच्चतम न्यायालय के 2018 में आये आदेश के अनुसार इस दीपावली पर सिर्फ हरित पटाखे ही बनाए बेचे और उपयोग किये जा सकेंगे।
मंत्री ने कहा कि पटाखों और पराली जलाने से निकलने वाला धुआं प्रत्येक वर्ष दिल्ली की हवा को खतरनाक बना देता है। पटाखा विरोधी अभियान के तहत दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति और शहर पुलिस के 11 विशेष दस्ते पटाखा निर्माण इकाइयों का निरीक्षण करेंगे ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोई पुराना स्टॉक तो नहीं बचा है।
—–
28 अक्टूबर का दिन बिहार में विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के लिये भी रहा। इस दौरान विपक्ष के नेताओं ने मुंगेर में हुई फायरिंग की घटना पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को निशाने पर ले लिया। इनमें सबसे आगे मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव का नाम है। तेजस्वी यादव ने बुधवार को कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आखिर कर क्या रहे थे? भारतीय जनता पार्टी के नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी क्या कर रहे थे? उनकी राज्य में डबल-इंजन की सरकार है। क्या उनके पास इसकी जानकारी नहीं है? यह दिखाता है कि मुंगेर में हुई घटना में उनकी क्या भूमिका थी।
—–
कोरोना काल में हो रहे सबसे बड़े चुनाव के पहले चरण का मतदान खत्म हो गया है। बुधवार को बिहार विधानसभा चुनाव के लिए 16 जिलों की 71 सीटों पर सुबह 7 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक मतदान हुआ। इस चुनाव में भाग्य आजमा रहे कुल 01 हजार 66 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला मतदाताओं ने इवीएम में कैद कर दिया।
कोरोना के कारण इस चुनाव में काफी एहतियात बरती गई थी। सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का कड़ाई से पालन कराया गया। बिना मास्क के मतदान करने आए मतदाता को वोट देने की अनुमति नहीं दी गई। सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गई थी। इक्का-दुक्का घटनाओं को छोड़ दें तो कुल मिलाकर पहले चरण का मतदान शांतिपूर्ण संपन्न हुआ।
लोकतंत्र के इस पर्व में हिस्सा लेने के लिए मतदाताओं में उत्साह देखते ही बन रहा था। मतदान केंद्रों पर प्रत्येक आयु के मतदाताओं की लंबी कतारें दिखीं। सबसे ज्यादा उत्साह पहली बार मतदान कर रहे मतदाताओं में था। उन्होंने इस मौके को हाथ से जाने नहीं दिया और अपने मताधिकार का प्रयोग किया। उम्मीद से अधिक मतदाता घरों से बाहर निकले और अगले पांच साल उनका प्रतिनिधित्व कौन करेगा इसका फैसला ईवीएम की बटन दबा कर दे दिया।
—–
हरियाणा के बल्लभगढ़ में बीकॉम फाइनल ईयर की छात्रा की हत्या के पीछे लव जिहाद का मामला होने से मुख्य आरोपी तौसीफ के परिवार ने इन्कार किया है। हालांकि उन्होंने दोषी को कड़ी सजा देने की बात कही है।
मुख्य आरोपी तौसीफ के चाचा और बहुजन समाजवादी पार्टी नेता जावेद ने एक न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा कि इस घटना में लव जिहाद का कोई भी मामला नहीं है लेकिन जो भी दोषी है उसे कानून के अनुसार कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए क्योंकि गलत काम करने वाला किसी का बेटा नहीं होता वो सिर्फ एक अपराधी होता है।
उन्होंने कहा कि लव जिहाद या धर्म परिवर्तन……. ऐसी बातें वो लोग कर रहे हैं जिन्हें धर्म के बारे में कुछ पता नहीं है। बसपा नेता ने कहा कि वे उस परिवार से संबंध रखते हैं जहां हिंदू भाइयों का ज्यादा सहयोग रहता है। उनका परिवार सारे धर्मों की इज्जत करने वाला परिवार है। आज जो कुछ भी लोग कह रहे हैं वो सही है और उनमें गुस्सा है। मैं उन्हें गलत नहीं कह रहा।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जानने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चैनल पर प्रतिदिन अपलोड होने वाले वीडियो अवश्य देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों निर्माण कार्य यात्रा या समारोह आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
कोरोना संक्रमण की ट्रेसिंग के लिए आरोग्य सेतु ऐप को सरकार की तरफ से आवश्यक टूल करार देते हुए कोरोना वायरस के खिलाफ इसे एक बड़ा हथियार माना गया। लाखों भारतीयों ने इस ऐप को अपने मोबाइल में डाउनलोड किया। लेकिन अब इस ऐप को आखिर किसने बनाया इस बात पर सस्पेंस निर्मित होगया है।
एक तरफ जहां आरोग्य सेतु वेबसाइट में यह कहा गया है कि इसे नेशनल इन्फॉर्मेटिक सेंटर और इन्फॉर्मेशन टेक्नॉलोजी मिनिस्ट्री की तरफ से तैयार किया गया है तो वहीं दूसरी तरफ सूचना के अधिकार के तहत दोनों ने इस बात से इन्कार किया है कि आखिर इस ऐप को किसने डेवलप किया। प्राप्त जानकारी के मुताबिक केन्द्रीय सूचना आयोग ने आरोग्य सेतु ऐप बनाने पर जानकारी न होने को लेकर सरकार को नोटिस जारी किया है।
———
देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 79 लाख 90 हजार 643 पहुंच गई है। इसमें से वर्तमान में सक्रिय मामलों की संख्या 06 लाख 11 हजार 769 है जबकि 72 लाख 57 हजार 444 मरीज अब तक इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं। इस बीमारी से हुईं मृत्यु का आंकड़ा 01 लाख 20 हजार 67 हो गया है। कोरोना संक्रमितों के सक्रिय मामलों की संख्या जिन राज्यों में 20 हजार से अधिक हो गयी है उनमें महाराष्ट्र में सर्वाधिक 01 लाख 31 हजार 544 सक्रिय मरीज हैं।
इसके बाद केरल में 92 हजार 163, सक्रिय मरीज कर्नाटक में 71 हजार 330, पश्चिम बंगाल में 37 हजार 172, दिल्ली में 27 हजार 873, तमिलनाडु में 27 हजार 734, आंध्र प्रदेश में 27 हजार 300, उत्तर प्रदेश में 26 हजार 267 और छत्तीसगढ़ में 21 हजार 693 मामले हैं।
—-
आप सुन रहे थे समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज में शरद खरे से बुधवार 28 अक्टूबर का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन। ब्रहस्पतिवार 29 अक्टूबर को एक बार फिर हम ऑडियो बुलेटिन लेकर उपस्थित होंगे आपको ये ऑडियो बुलेटिन यदि पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक शेयर और सब्सक्राईब अवश्य करें सब्सक्राईब कैसे करना है यह प्रत्येक वीडियो के अंत में हम आपको बताते ही हैं। अभी आपसे अनुमति लेते हैं नमस्कार।
(साई फीचर्स)