मध्य प्रदेश में मिला पीला बिच्छू

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज की समाचार श्रृंखला में शुक्रवार 27 नवंबर 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन, अब आप रीना सिंह से समाचार सुनिए.
——-
मध्य प्रदेश में जब भी कोई बड़ी बारदात या बदमाश को पुलिस गिरफ्तार करती थी तो लोगों में पुलिस का विश्वास बढ़ाने के लिये गिरफ्तार व्यक्ति का जुलूस निकाला जाता था। पर अब पुलिस किसी भी आरोपित को सरेआम बेज्जत नहीं कर सकेगी। पुलिस अक्सर चोरी, बलात्कार, लूट, छेड़छाड़ और गुंडागर्दी करने वाले एसे अपराधियों के जुलूस निकालती थी जो जनता को रौब दिखाते थे। प्रदेश पुलिस मुख्यालय ने सभी पुलिस अधीक्षकों को इस संबंध में आदेश जारी कर अवगत करा दिया है। एडीजी अपराध अनुसंधान विभाग के नाम से जारी आदेश में कहा गया है कि आरोपी, संदेही और गिरफ्तार लोगों को पुलिस सार्वजनिक नहीं करेगी। साथ ही प्रेसनोट में भी किसी आरोपी या संदेही के फोटो सार्वजनिक नहीं किया जाएगा।
——-
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नवकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में निवेश को प्रोत्साहित किया जाएगा। प्रदेश के कुल विद्युत उत्पादन में नवकरणीय ऊर्जा की हिस्सेदारी 20 प्रतिशत है। इसे निरंतर बढ़ाया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नवकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में निवेशकों को मध्यप्रदेश आने का आमंत्रण देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश इस क्षेत्र में आदर्श प्रदेश है। निवेशकों को सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी। प्रदेश के मुरैना, सागर, दमोह और रतलाम जिलों में 5 हजार मेगावाट क्षमता के सोलर पार्क के लिए भूमि चिन्हित कर ली गई है। प्रधानमंत्री श्री मोदी के, सौर ऊर्जा परियोजनाओं को जमीन पर उतारने के स्वप्न को साकार करने में मध्यप्रदेश सहभागी बनेगा। नवकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देने के लिए समस्त बाधाओं को दूर कर सर्वश्रेष्ठ परिणाम प्राप्त किए जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज वीडियो कान्फ्रेंस द्वारा तीसरे वैश्विक नवकरणीय ऊर्जा निवेश सम्मेलन (थर्ड ग्लोबल आरई इन्वेस्ट रिनेवेबिल एनर्जी इन्वेस्टर्स मीट एण्ड एक्स-पो) के सत्र को संबोधित कर रहे थे।
——-
प्रदेश में चल रही मिलावट खोरी के खिलाफ मुहिम में एसटीएफ और खाद्य विभाग ने संयुक्त कार्रवाई की है। इंदौर के पालदा स्थित इंडस्ट्रियल एरिया में हींग की फैक्ट्री पर छापेमारी की गई है। कार्रवाई के दौरान कई क्विंटल मिश्रित हींग सहित कई मिलावटी खाद्य पदार्थ जप्त किए गए हैं। फिलहाल फैक्ट्री को सील कर दिया गया है।
दरअसल, इंदौर के पालदा क्षेत्र स्थित हिम्मत नगर में संचालित एमके ट्रेडर्स नामक हींग की फैक्ट्री यह कार्रवाई हुई है। पिछले दिनों मिलावट खोरी के खिलाफ एमपी में बड़े स्तर पर एक मुहिम चलाई गई थी। इंदौर में छापेमारी के दौरान 14 क्विंटल अप मिश्रित हींग और 31 क्विंटल हींग बनाने की सामग्री फैक्ट्री से जप्त की गई है। बताया जा रहा है कि फैक्ट्री जगदीश मखीजा और मुकेश मखीजा की है। सामाग्री जप्त करने के बाद अधिकारी लगातार पूछताछ कर रहे हैं। अधिकारियों की मानें तो फैक्ट्री में गलत तरीके से हींग तैयार की जा रही थी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार ऐसे खाद्य सामाग्रियों के प्रयोग से लोगों की तबीयत भी बिगड़ सकती है। अभी विभाग के अधिकारी लगातार सबूत इकट्ठा कर रहे हैं। इंदौर एसटीएफ के एसपी मनीष खत्री ने कहा कि अभी जांच जारी है। सभी साक्ष्य न्यायलय में पेश किए जाएंगे। लेकिन इस कार्रवाई के बाद साफ हो गया है कि इंदौर के लोगों को सावधान रहने की जरूरत है।
——-
देश और दुनिया में विभिन्न प्रजातियों के जीव- जंतु मौजूद हैं, जिनकी खोज में भारतीय प्राणि सर्वेक्षण का अमला व्यस्त है। इसमें जबलपुर के एक विज्ञानी ने ओडिशा प्रांत में गंजाम की पतली छिपकली खोज निकाली है। भारतीय प्राणि सर्वेक्षण व प्राणी संग्रहालय ने कुछ समय पहले ही विज्ञानी डॉ. प्रत्युष मोहपात्रा की खोज को प्रकाशित किया है।
भारतीय प्राणि सर्वेक्षण के विज्ञानी डॉ. मोहपात्रा ने बताया कि गंजाम की पतली छिपकली गंजाम सिलेंडर गेको प्रजाति ओडिशा के गंजाम में करीब एक किलोमीटर के दायरे में ही पाई गई है। आम जगह मिलने वाली छिपकली से इसकी मोटाई कम और लंबाई ज्यादा होती है। इस छिपकली का गंजाम के एक मंदिर परिसर में लगे आम के पेड़ पर बसेरा है। इस प्रजाति की छिपकली अब तक अन्य जगह नहीं पाई गई। इसका कारण प्राकृतिक जलवायु है।
डॉ. मोहपात्रा ने बताया कि जबलपुर का पर्यावरण अन्य सभी स्थानों से अलग है। इसलिए वर्ष-2007 में जिले में कटंगी के पास पहाड़ी क्षेत्र में पीली बिच्छू पाई गई। प्राणि सर्वेक्षण कार्यालय के विज्ञानियों ने उक्त बिच्छू प्रजाति पर शोध किया, जिसमें सामने आया देश- दुनिया में पीली बिच्छू की यह प्रजाति सिर्फ जबलपुर में पाई जाती है। विभाग ने इस जीव के बारे में प्रकाशन किया और इंटरनेट पर जानकारी अपलोड की। इसलिए इस जीव को अब दुनिया में जबलपुर पीली बिच्छू के नाम से पहचान मिलती है।
भारतीय प्राणि सर्वेक्षण कार्यालय प्रभारी विज्ञानी डॉ. एस संबत ने बताया कि जबलपुर में बिच्छू और तितली की कुछ प्रजातियां मिली हैं, जिनके बारे में अब तक देश-दुनिया को जानकारी नहीं है। इसलिए इन जीवों की सभी हरकतें, उनके मिलने के स्थान आदि पर खोज की जा रही है। उम्मीद है कि एक साल बाद इन नई प्रजातियों का प्रकाशन किया जाएगा।
——-
लंबे इंतजार के बाद अफ्रीकी चीतों को मध्य प्रदेश लाया जाना लगभग तय हो गया है। इन चीतों के पुनर्वास के लिए केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) की एक टीम मध्य प्रदेश भेजी है। यह जानकारी वन मंत्री विजय शाह ने दी। शाह ने कहा कि कूनो या बांधवगढ़ में जल्दी ही अफ्रीकी चीते देखने को मिल सकते हैं।
सुप्रीम कोर्ट अफ्रीकी चीतों को भारत लाने की अनुमति फरवरी 2020 में राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण को दे चुका है। सुप्रीम कोर्ट ने निर्देश दिए थे कि इन चीतों को अनुकूल वन क्षेत्र में ही रखा जाए। पूर्व में केंद्र सरकार ने अफ्रीकी चीतों के लिए देश में तीन स्थान चिन्हित किए थे। इसमें दो स्थान (कूनो-पालपुर और नौरादेही सेंचुरी) मप्र के हैं, जबकि एक सेंचुरी राजस्थान की है। कूनो-पालपुर और नौरादेही को शॉर्टलिस्ट केंद्र सरकार ने किया था। यदि सरकार पूर्व में चिन्हित की गई जगहों को तवज्जो देती है तो मप्र में ये चीते बसाए जा सकते हैं। कूनो-पालपुर में इनके लिए अनुकूल माहौल तैयार किया जा चुका है। हालांकि वन मंत्री ने कहा है कि बांधवगढ़ में भी इसको लेकर वैकल्पिक तैयारी की जा रही है। उन्होंने बताया कि कूनो पालपुर और नौरादेही सेंचुरी में हिरणों को शिफ्ट किया जा रहा है।
——-
निवार तूफान के कमजोर होने के कारण सर्द हवाओं ने जोर पकड़ा और भोपाल समेत मध्य प्रदेश में लोगों को सर्दी का एहसास कराया। हालांकि तापमान में ज्यादा गिरावट दर्ज नहीं की, लेकिन 30 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति से ठंडी हवाओं के कारण लोगों को गुरुवार और शुक्रवार सुबह ठंड महसूस हुई। प्रदेश में पचमढ़ी और नौगांव सबसे ठंडा रहा। यहां रात का न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया।
——-
मध्य प्रदेश विधानसभा ने शीतकालीन सत्र की अधिसूचना जारी कर दी है। जिसके मुताबिक सरकार धर्म स्वातंत्र्य अधिनियम 2020 बिल 30 दिसंबर को सदन में पेश करेगी। यदि यह बिल पारित हो जाता है तो नए साल के पहले महीने में यह कानून लागू हो जाएगा। सरकार पहले ही घोषणा कर चुकी है कि शीतकालीन सत्र में यह बिल विधानसभा में पेश किया जाएगा। हालांकि बिल का ड्राफ्ट वरिष्ठ सचिवों की मंजूरी के लिए भेजा गया है। इसके बाद कैबिनेट इस पर अंतिम मुहर लगाएगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक बार फिर इसको लेकर बयान दिया है। उन्होंने बड़वानी में कहा कि मप्र में लव जिहाद चलने नहीं दिया जाएगा। ऐसे लोग सावधान हो जाएं। हम इसका कानून लागू करने वाले हैं। दोषियों को 10 साल तक जेल से बाहर नहीं आने देंगे।
विधानसभा सचिवालय द्वारा जारी अधिसूचना के मुताबिक सत्र के पहले दिन 28 दिसंबर को सुबह 11 बजे उप चुनाव जीतने वाले विधायकों को शपथ दिलाई जाएगी। इसी दिन प्रश्नकाल के साथ ही अन्य शासकीय कार्य सम्पन्न होंगे। 29 दिसंबर को विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव किया जाएगा। जबकि 30 दिसंबर को शिवराज सरकार धर्म स्वातंत्र्य अधिनियम 2020 का बिल सदन में पेश करेगी। इसके अलावा नए एवं संशोधन विधेयक और अनुपूरक बजट सदन पलट पर रखे जाएंगे।
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जाने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर रोजाना अपलोड होने वाले वीडियो जरूर देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य करवाने वालों आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
——-
फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ भोपाल के इकबाल मैदान में प्रदर्शन करने वाले भोपाल मध्य से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद को आखिरकार अग्रिम जमानत मिल ही गई। निचली कोर्ट से अग्रिम जमानत की याचिका खारिज होने के बाद विधायक की तरफ से सांसद और वकील विवेक तन्खा और अजय गुप्ता ने हाईकोर्ट में उनका पक्ष रखा।
एडवोकेट अजय गुप्ता ने बताया कि अग्रिम जमानत के लिए उन्होंने 3 तर्क रखे थे। तलैया पुलिस के पास इनका जवाब नहीं था। पुलिस इसके जवाब में सिर्फ इतना कहती रही कि विधायक फरार चल रहे हैं। इधर, मध्य प्रदेश सरकार की ओर से अग्रिम जमानत के खिलाफ एडवोकेट जनरल पुष्पेंद्र गौरव और एडीशनल एडवोकेट जनरल पुष्पेंद्र यादव ने पैरवी की। एडवोकेट पुष्पेंद्र यादव का कहना है कि अभी उन्होंने आर्डर नहीं देखा है। इसलिए इस बारे में ज्यादा कुछ कह नहीं सकते हैं।
——-
देश में कोरोना के मरीजों का आंकड़ा 93 लाख को पार कर गया है। वर्तमान में यह आंकड़ा 93 लाख 11 हजार 281 पहुंच गया है। देश में कुल एक्टिव मरीजों की तादाद से लगभग 82 लाख 63 हजार से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में अब तक कुल 93 लाख 11 हजार 281 मरीजों में से सक्रिय मरीजों की तादाद 04 लाख 54 हजार 911 एवं रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 87 लाख 18 हजार 469 है, एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 01 लाख 35 हजार 770 है। अब तक देश में कुल 13 करोड़ 70 लाख 62 हजार 749 लोगों का कोविड परीक्षण कराया जा चुका है। वहीं, मध्य प्रदेश में संक्रमित मरीजों की तादाद का आंकड़ा एक लाख 99 हजार को पार कर गया है। यहां कुल संक्रमित मरीजों की तादाद से लगभग 01 लाख 68 हजार 345 से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। प्रदेश में आंकड़ा 01 लाख 99 हजार 952 पहुंच गया है, जिसमें एक्टिव मरीजों की तादाद 14 हजार 199, रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 01 लाख 82 हजार 544 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 03 हजार 209 है। प्रदेश में अब तक 36 लाख 30 हजार से ज्यादा लोगों का कोविड टेस्ट कराया जा चुका है।
——-
आप सुन रहे थे रीना सिंह से समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज में शुक्रवार 27 नवंबर का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन। शनिवार 28 नवंबर को एक बार फिर हम आडियो बुलेटिन लेकर हाजिर होंगे, अगर आपको यह आडियो बुलेटिन पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब जरूर करें, सब्सक्राईब कैसे करना है यह हर वीडियो के आखिरी में हम आपको बताते हैं। फिलहाल इजाजत लेते हैं, नमस्कार।
(साई फीचर्स)

———