दिग्विजय सिंह ने बाबा रामदेव को बताया भाजपा का एजेंट, याद दिलाए कांग्रेस के अहसान

(ब्यूरो कार्यालय)
भोपाल (साई)। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सुबह-सुबह बाबा रामदेव पर ताबड़तोड़ हमले किए हैं।

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों का विरोध करते बाबा रामदेव का एक पुराना वीडियो शेयर कर करते हुए दिग्विजय सिंह ने योग गुरु पर वार करते हुए कहा कि डोंगी रामदेव को पहचानने में लोगों को बहुत देर लगी। यह शुरू से ही भाजपा का एजेंट बना हुआ था। दिग्विजय ने जो वीडियो पोस्ट किया है उसमें बाबा रामदेव तत्कालीन कांग्रेस की सरकार को पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के लिए घेरते नजर आ रहे हैं। इसके अलावा दिग्विजय सिंह ने ट्विटर पर लिखकर बताया कि कांग्रेस की सरकार ने रामदेव के लिए क्या-क्या किया है।
दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर लिखा, “यह भी जानना आवश्यक है कि जिस कॉंग्रेस को यह कोस रहा है उसी ने इसे दो फ़ूड पार्क के लिए 150-150 करोड़ का अनुदान दिया था। एक हरिद्वार में एक राँची में। उत्तराखंड में ज़मीन भी कॉंग्रेस CM नारायण दत्त तिवारी जी ने ही दी थी। जिस दिन भाजपा, मोदी, शाह गए यह फिर पल्टी मारेगा।”
दिग्विजय सिंह ने एक ट्विटर यूजर का वीडियो शेयर किया है जिसमें रामदेव पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में साइकिल चलाते दिख रहे हैं। यूजर ने बाबा रामदेव की वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा, “5 नवंबर 2011 की तारीख थी, पेट्रोल का दाम 68 रुपए। तब रामदेव जालंधर में साइकिल पर विरोध का अनुलोम-विलोम कर रहे थे, आज 100 पार है तो सन्नाटे की सांस खींचें हुए हैं। ऐसी भी क्या मजबूरी है ?” वीडियो को शेयर करते हुए दिग्विजय सिंह ने लिखा, “डोंगी रामदेव को पहचानने में लोगों को बहुत देर लगी। यह शुरू से ही भाजपा का एजेंट बना हुआ था।”